Covid-19 Update

40,518
मामले (हिमाचल)
31,548
मरीज ठीक हुए
636
मौत
9,457,551
मामले (भारत)
63,286,254
मामले (दुनिया)

भविष्य में फिर नहीं होगी गलवान जैसी हिंसक झड़प, भारत-चीन के बीच बनी सहमति !

भविष्य में फिर नहीं होगी गलवान जैसी हिंसक झड़प, भारत-चीन के बीच बनी सहमति !

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत-चीन सीमा (India-China border)पर तनाव कम करने के लिए दोनों देश लगातार कोशिशें कर रहे हैं इसी बीच,खबर सामने आ रही है कि अब दोनों देश चरणबद्ध तरीके से सैनिकों को हटाने के लिए तैयार हैं। एक चीनी अखबार में इस बात का दावा किया गया है कि अब 15 जून को हुई हिंसक झड़प को फिर से नहीं दोहराया जाएगा। बता दें, तनाव कम करने के लिए दोनों देशों के बीच कोर कमांडर लेवल (Core commander level)की बातचीत हुई थी, जिसमें ये बात सामने आई है।

करीब 12 घंटों तक चली दोनों देशों में बातचीत

बातचीत में चीन के कोर कमांडर मेजर जनरल लिउ लिन और भारत के कोर कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल हरिदर सिंह (Corps Commander of India, Lt. General Harender Singh) के बीच करीब 12 घंटों तक बातचीत हुई। खबरों में दावा किया गया है कि दोनों देश ने 15 जून जैसी खूनी भिड़ंत फिर ना करने पर सहमति बनाई है। कहा जा रहा है कि 72 घंटों तक दोनों पक्ष एक दूसरे पर निगरानी रखेंगे। उधर चीन के सरकारी अखबार का भी कहना है कि भारत और चीन LAC पर तनाव कम करने पर सहमत हो गए हैं, दोनों देशों में चरणबद्ध तरीके से सैनिकों को हटाने पर भी सहमति बन गई है। लेकिन, भारत की तरफ से अभी तक इस बाबत कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

ये भी पढ़ेः 59 Chinese App Ban पर केंद्र सरकार की समिति ने भी लगाई मुहर, कंपनियों को मिल सकता है एक मौका

देशों के बीच कई मसलों पर सहमति नहीं बन पा रही

गौर हो, भारत-चीन सीमा पर विवाद को खत्म करने के उद्देशय से 22 जून को भी एक बैठक हुई थी, जिसमें सीमा से जवानों को हटाने की बात कही गई थी, लेकिन इसके बाद भी स्थिति में कोई सुधार देखने को नहीं मिला था। दोनों देशों के बीच कई मसलों पर सहमति नहीं बन पा रही है। चीन गलवान घाटी (Galvan Valley) से हटने को लेकर तय पैरामीटर्स पर लगभग सहमत है, मगर पैंगोंग झील के पास से दोनों सेनाएं अभी पीछे नहीं हट रही है। पैंगोंग झील से भारतीय सेना पीछे हटना नहीं चाहती है। भारतीय सेना फिंगर-4 में स्थित है, यह इलाका शुरू से ही भारत के पास रहा है। भारत ने फिंगर-8 पर एलएसी (LAC) होने का दावा किया है। ऐसे में मंगलवार को चुशूल में भारत और चीनी सेना के बीच कोर कमांडर-स्तर की बैठक का भी कोई नतीजा नहीं निकल सका है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group  

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है