फतेहपुरः अवैध खनन करते पकड़ी पीडब्ल्यूडी की जेसीबी , चेतावनी देकर छोड़ा

संपर्क मार्ग की फिलिंग करने के लिए निकाली जा रही थी मिट्टी

फतेहपुरः अवैध खनन करते पकड़ी पीडब्ल्यूडी की जेसीबी , चेतावनी देकर छोड़ा

- Advertisement -

रविंद्र चौधरी/फतेहपुर। अवैध खनन (illegal mining) को लेकर सरकारी विभाग भी पीछे नहीं हैं। ऐसा ही मामला फतेहपुर (Fathepur) में सामने आया है। यहां पर फारेस्ट गार्ड ने पीडब्ल्यूडी (PWD) की जेसीबी (JCB) को अवैध खनन करते पकड़ा और चेतावनी देकर छोड़ा। अगर दोबारा जेसीबी अवैध खनन करते पकड़ी तो सख्त कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। यह जेसीबी लोक निर्माण विभाग उपमंडल रैहन की थी और गोलबा पंचायत की दरैड़ खड्ड के पास अवैध खनन कर रही थी।

यह भी पढ़ेंः ब्यास नदी में अवैध खनन जारी, सड़क पर उतरने की दी चेतावनी

जानकारी अनुसार बुधवार को गश्त पर निकले वन रक्षक नीरज पठानियां ने दरैड़ खड्ड के पास एक जेसीबी को अवैध खनन करते हुए पाया, जिसे उन्होंने तुरंत प्रभाव से बंद करवा दिया। यह जेसीबी यहां से मिट्टी निकाल रही थी। नीरज पठानियां का कहना है कि मिट्टी निकालने से उनकी प्लांटेशन को नुकसान हो सकता था, जिसके चलते जेसीबी को खनन करने से रोका गया है। वहीं विभागीय एसडीओ अरविंद शर्मा का कहना है कि विभाग की जेसीबी द्वारा निकाली जा रही मिट्टी से संपर्क मार्ग की फिलिंग की जानी थी। उन्होंने बताया कि एक-दो ट्रालियां भरने के बाद जेसीबी को रोक दिया गया है।

सुंदरनगर के फॉरेस्ट गार्ड प्रशिक्षुओं ने जानी खैर कटान पर विभागीय कार्रवाई

फॉरेस्ट गार्ड प्रशिक्षुओं ने बुधवार को खैर कटान पर विभागिय कार्रवाई और वन रक्षकों के इसमें रोल की जानकारी हासिल की। फॉरेस्ट गार्ड ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट सुंदरनगर के 48 फॉरेस्ट गार्ड प्रशिक्षुओं ने वन खंड फतेहपुर के एक दिवसीय स्टडी टूर के दौरान यह जानकारी हासिल की। इस अवसर पर ट्रेनिंग इंस्टेक्टर बीसी शर्मा ने बताया कि फोरेस्ट प्रशिक्षुओं की टीम पूरे प्रदेश के स्टडी टूर पर निकली हुई है, ताकि उन्हें वन भूमि व निजी मलकीयती भूमि पर विभाग व वन रक्षकों की ड्यूटी से रूबरू करवाया जा सके। उन्होंने बताया कि इन प्रशिक्षुओं को इससे पहले कोटला में कत्था बोआइलर फैक्ट्री का निरीक्षण कर जानकारी दिलाई गई।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है