स्कॉलरशिप घोटालाः सीबीआई ने निशाने पर उच्च शिक्षा विभाग, मांगी हार्ड कॉपी

2013 और 2014 को मांगा छात्रों का पूरा ब्यौरा

स्कॉलरशिप घोटालाः सीबीआई ने निशाने पर उच्च शिक्षा विभाग, मांगी हार्ड कॉपी

- Advertisement -

शिमला। स्कॉलरशिप घोटाला (Scholarship Scam) मामले में केंद्रीय जांच एजेंसी सीबीआई (CBI) द्वारा निजी शिक्षण संस्थानों के बाद अब उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department) को भी निशाने में ले लिया है। हालांकि सीबीआई (CBI) ने हाल ही में शिक्षा विभाग से चार साल के छात्रवृत्ति का पूरा ब्यौरा मांगा था, लेकिन विभाग ने 2016 से लेकर अब तक की जानकारी दी। मगर जांच एजेंसी ने अब शिक्षा विभाग से 2013 और 2014 की हार्ड कॉपी मांगी है।


यह भी पढ़ें: आनी नाबालिग दुराचार मामलाः बीजेपी नेता सहित दो लोगों पर एफआईआर


इसमें यह जानकारी देनी होगी कि उस सत्र के दौरान प्रदेश के कितने छात्रों को स्कॉलरशिप (Scholarship) दी गई थी। इसके साथ-साथ कितने पात्र और कितने अपात्र छात्र थे। सीबीआई (CBI) हर पहलू की जांच कर रही है ताकि दूध का दूध और पानी का पानी हो सके। हालांकि अब तक जांच एजेंसी ने निजी शिक्षण संस्थानों के खिलाफ नकेल कसते हुए वहां से पूरा दस्तावेज हार्ड डिस्क और सॉफ्टवेयर अपने कब्जे में ले लिया है। उच्च शिक्षा विभाग (Higher Education Department) द्वारा 2013 और 2014 की हार्ड कॉपी देने के बाद पूरा मिलान होगा। करीब 250 करोड़ की स्कॉलरशिप घोटाले (Scholarship Scam) की जांच में तेजी लाते हुए अब सीबीआई (CBI) का पहला निशाना निजी शिक्षण संस्थान हैं।

यह भी पढ़ें: जयराम सरकार की कैबिनेट बैठक तय, दो चेहरे नहीं होंगे अंदर, ये है कारण

मगर सरकार का पैसा निजी शिक्षण संस्थानों के हाथों में किस तरह जा रही थी इसकी पूरी तहकीकात सीबीआई (CBI) कर रही है। आने वाले दिनों में शिक्षा विभाग की स्कॉलरशिप ब्रांच में सेवाएं दे रहे कर्मचारियों की भी जवाबदेही होगी। सीबीआई यहां के कर्मचारी और अधिकारियों के भी बयान दर्ज करेगी। उल्लेखनीय है कि सीबीआई (CBI) ने पिछले महीने आईपीसी की धारा 409, 419,465, 466 और 471 के तहत शिमला थाने में एफआईआर दर्ज कर दी थी।

 

उसके बाद ही प्रदेश सहित अन्य राज्यों में संचालित निजी शिक्षण संस्थानों को खौफ सताने लगी। सीबीआई (CBI) ने पंजाब, हरियाणा सहित 22 निजी शिक्षण संस्थानों में दबिश दे दी। आने वाले दिनों में छात्रों की स्कॉलरशिप (Scholarship) पर कुंडली मारने वाले शिक्षण संस्थानों के खिलाफ गाज गिर सकती है।

 

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

पुलिस ने चंडीगढ़ से धरा शिमला सेक्स रैकेट का सरगना

हिमाचल की सीनियर बॉक्सिंग टीम भूटान रवाना, 24-25 को होगी प्रतियोगिता

बंद हुई दुनिया की सबसे पुरानी ट्रेवल कंपनी, खतरे में 22 हजार नौकरियां

Breaking: कांग्रेस गुरुवार को खोल देगी धर्मशाला-पच्छाद में अपने पत्ते, आज होगी "ये डवेलपमेंट"

अमेरिका में हाउडी मोदी के बाद अब पीएम मोदी का मिशन न्यूयॉर्क, ये है कार्यक्रम

चिदंबरम से मिलने तिहाड़ जेल पहुंचे सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह

धर्मशालाः नया वन-वे ट्रैफिक प्लान लागू, खनियारा से इस मार्ग से होगा आना

हिमाचल में बारिश और हिमपात ने बढ़ाई ठंडक, जाने कब तक खराब रहेगा मौसम

धर्मशाला उपचुनावः टिकट के तलबगारों की बढ़ी धुकधुकी, लंबी है फेहरिस्त

पच्छाद से उठी आवाज, गंगूराम मुसाफिर ही इस बार-बैठक कर जताई सहमति

9 मजदूरों को लेकर शिंकुला दर्रा पार कर मनाली पहुंची टेंपो ट्रैवलर

वन टाइम यूज प्लास्टिक का स्टॉक पड़ा है तो उसे निपटा लें, लगने वाला है बैन

आसमान से गिरा आग का गोला, हुआ जोरदार धमाका-इलेक्ट्रॉनिक उपकरण जले

अब धारा 118 की अनुमति के लिए ऑनलाइन कीजिए आवेदन

नाला पार करते बाइक सवार के लिए तिनका नहीं टहनी बनी सहारा-वीडियो

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है