Covid-19 Update

41,860
मामले (हिमाचल)
33,336
मरीज ठीक हुए
667
मौत
9,525,668
मामले (भारत)
64,510,773
मामले (दुनिया)

चैपल ने मेरा करियर खराब नहीं किया, No-3 पर बैटिंग कराने का आइडिया Sachin का था: इरफान पठान

चैपल ने मेरा करियर खराब नहीं किया, No-3 पर बैटिंग कराने का आइडिया Sachin का था: इरफान पठान

- Advertisement -

नई दिल्ली। टीम इंडिया के पूर्व ऑल राउंडर इरफान पठान (Irfan Pathan) ने एक बड़ा खुलासा करते हुए इस बात का दावा किया है कि लोगों को लगता है कि ग्रैग चैपल ने मेरा करियर खराब किया लेकिन ये बात सही नहीं है। उन्होंने कहा कि उन्हें नंबर-3 पर बल्लेबाज़ी के लिए भेजने का आइडिया सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) का था। बकौल इरफान, ध्यान भटकाने वाले लोगों ने ग्रैग चैपल (Greg chappell) को ‘पंचिंग बैग’ बना दिया। अब चूंकि वह भारतीय नहीं हैं इसलिए उन पर सारा दोष मढ़ना आसान हो जाता है। गौरतलब है कि एक समय पर टीम इंडिया (Team India) के अगले कपिल देव समझे जा रहे इरफान अपने करियर में कोई खास बुलंदी नहीं हासिल कर सके। इसके पीछे कई लोगों को कई वजह दिखीं। सबसे सामान्य नजरिया यह था कि तब के कोच ग्रेग चैपल ने उनका करियर बर्बाद कर दिया। हालांकि, इरफान पठान अपने करियर के खत्म होने का दोष चैपल को नहीं देते हैं।

यह भी पढ़ें: एससी आयोग ने SP को भेजा नोटिस, युवराज सिंह के खिलाफ दायर शिकायत पर मांगी रिपोर्ट

सचिन पाजी ने द्रविड़ को मुझे नंबर तीन पर भेजने की सलाह दी

इरफान पठान नंबर 3 पर बल्लेबाजी करने के लिए भेजे जाने के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि सचिन पाजी ने राहुल द्रविड़ को मुझे नंबर तीन पर भेजने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि वह (इरफान) छक्के मारने की ताकत रखते हैं, नई गेंद से तेजी से रन बना सकते हैं और तेज गेंदबाजों को भी अच्छी तरह से खेल सकते हैं, इसलिए उन्हें बल्लेबाजी में ऊपर प्रमोट करना चाहिए। टीम इंडिया के पूर्व ऑलराउंडर ने आगे बताया कि यह पहली बार तब अमल में लाया गया, जब श्रीलंका के खिलाफ मुरलीधरन अपनी बेहतरीन गेंदबाजी के चरम पर थे और आइडिया उनके खिलाफ आक्रमण करने का था। दिलहारा फर्नांडो ने उस समय स्पिलिट फिंगर के साथ स्लोअर गेंद फेंकने की शुरुआत की थी और बल्लेबाजों को वह भी समझ में नहीं आ रहा था। उन्होंने कहा कि इसलिए, सोच यह थी कि अगर मैं इससे निपटने में सफल रहा, तो यह टीम के हित में जा सकता है। खासकर यह देखते हुए कि यह सीरीज का पहला मैच था। इसलिए यह कहना सही नहीं है कि चैपल ने मेरा करियर खराब किया। वह चूंकि भारतीय नहीं थे, तो उन्हें टारगेट करना आसान है।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है