Covid-19 Update

1341
मामले (हिमाचल)
970
मरीज ठीक हुए
09
मौत
9,70,596
मामले (भारत)
13,697,662
मामले (दुनिया)

मुर्गियों ने Kerala में दिए हरी ज़र्दी वाले Eggs; वैज्ञानिकों ने रिसर्च कर बताया इसके पीछे का कारण

फार्म मालिक का दावा- मैं और मेरी फैमिली 9 महीने से ये अंडे खा रहे हैं, कोई दिक्कत नहीं हुई

मुर्गियों ने Kerala में दिए हरी ज़र्दी वाले Eggs; वैज्ञानिकों ने रिसर्च कर बताया इसके पीछे का कारण

- Advertisement -

मल्लपुरम। देश में जारी कोरोना वायरस के कहर के बीस केरल (Kerala) के मल्लपुरम से एक बड़ा ही अनोखा मामला सामने आया है। मिली जानकारी के अनुसार केरल के एक फार्म में मुर्गियों ने हरी जर्दी वाले अंडे दिए। इससे भी ज्यादा अजीब यह था कि इस फार्म के मालिक ने यह दावा किया कि इनका स्वाद बिलकुल दूसरे अंडों जैसा ही है। यहां रहने वाले एके शिहाबुद्दीन ने बताया कि उनकी पोल्ट्री फॉर्म पर मुर्गियों (Hen) ने हरे अंडे (Eggs) दिए हैं। मैं और मेरी फैमिली पिछले 9 महीने से ये अंडे खा रहे हैं। हमें कोई दिक्कत नहीं हुई।


यहां जानें वैज्ञानिकों ने जर्दी का रंग हरा होने के बारे में क्या खुलासा किया

Green yolk egg # egg with green yolk # പച്ച ഉണ്ണി # പച്ചക്കരു # പച്ചനിറത്തിലുള്ള കോഴി മുട്ട # ഭക്ഷണത്തിന്റെ വ്യത്യാസം കൊണ്ട് നിറവ്യത്യാസം വരുന്നത് ഓറഞ്ച് മഞ്ഞ ഇളം മഞ്ഞ എന്നിങ്ങനെയാണ്. തീറ്റയിൽ പച്ചപുല്ല് ഇലകൾ എന്നിവ ഉൾപ്പെടുത്തുമ്പോൾ Yolk കൂടുതൽ ഓറഞ്ച് കളറിലേക്കാണ് മാറുന്നതെന്നാണ് മുൻകാല പഠനങ്ങളും അനുഭവങ്ങളും. പച്ച കളറിൽ തീറ്റ കൊടുത്താൽ കാഷ്ടം ചിലപ്പോൾ പച്ച ആയേക്കാം… മുട്ടയിലെ ഉണ്ണിയിൽ നിറവ്യത്യാസം വരാൻ എന്ന് പറഞ്ഞാൽ കടുത്ത പച്ചക്കളർ വരാൻ കാരണം എന്തെന്ന് എനിക്കും അറിയണമെന്നുണ്ട്. Genetic change ആകാമെന്നാണ് നിഗമനം, പഠനങ്ങൾ നടക്കുന്നുണ്ടല്ലോ. വ്യെക്തത വരും. ചില മഹാ കോഴി പണ്ഡിതന്മാർ ഈ പ്രതേക വിഷയത്തിൽ പ്രാഥമിക അറിവുകൾ പോലും ഇല്ലാതെ അഭിപ്രായം പറയുന്നത് കേട്ടു. അത് അപഹാസ്യമയിരിക്കും പ്രധാനമായും നമുക്ക് കിട്ടേണ്ട ഉത്തരങ്ങൾ ഇവയൊക്കെയാണ്. 1, മുട്ടക്ക് (കരുവിന് ) പച്ച നിറം കിട്ടാൻ കാരണമെന്ത്? 2, പച്ചക്കളർ ഉള്ള തീറ്റകൾ കൊടുത്താൽ മുട്ടയുടെ yolk പച്ചയാകുമൊ? അങ്ങനെ റിപ്പോർട്ട് ചെയ്തിട്ടുണ്ടെങ്കിൽ എന്തിന് ഈ മുട്ടകൾക്ക് ഇത്ര വാർത്താ പ്രാധാന്യം? (ഇതിൽ ട്രോളുകൾക്കും സ്വാഗതം )3, പച്ച നിറം നൽകുന്ന ഘടകം (content) ഏതൊക്കെയാണ്. 4, ജനിതക മാറ്റം സംഭവിച്ചതാകുമോ? 5, സാധാരണ മുട്ടകളെക്കാൾ ഇതിന് പോഷകമൂല്യം കൂടുതലോ കുറവോ? ഉചിതമായ ഉത്തരം പ്രദീക്ഷിക്കുന്നു. പഠനങ്ങൾക്ക് വേണ്ടി മാത്രം വേണമെങ്കിൽ രേഖാമൂലം മുട്ട അനുവദിക്കാവുന്നതാണ്. ഗവണ്മെന്റ് സ്ഥാപനങ്ങൾക്ക് പഠന വിഷയമാക്കാൻ മുട്ട ഫ്രീയായും പ്രൈവറ്റ് പ്രാക്ടീസേഴ്സിന് മുട്ട ഒന്നിന് ഇപ്പോൾ പതിനായിരം രൂപ ഈടാക്കാൻ ഉദ്ദേശിക്കുന്നു. Nb (വിരിയിക്കാനും ഭക്ഷിക്കാനും ഇപ്പോൾ മുട്ട അനുവദിക്കുന്നതല്ല )WhattsaApp 9544661111 സ്നേഹത്തോടെ. ശിഹാബുദ്ധീൻ AK

Gepostet von Shihabudheen Ak am Donnerstag, 14. Mai 2020

अब केरल वेटरनरी ऐंड एनिमल साइंसेज़ यूनिवर्सिटी के विशेषज्ञों ने अध्ययन (Study) करके इसके पीछे के कारण का खुलासा किया है। बकौल विशेषज्ञ, हरे रंग की वजह उन्हें दिया जाने वाला भोजन या प्राकृतिक तौर पर उगने वाला कोई पौधा है जिसे उन्होंने खाया हो और यह अनुवांशिकी असामान्यता से नहीं हुआ है। यह खबर उस वक्त सामने आई जब एक महीने पहले शिहाबुद्दीन ने अपने फेसबुक पर इसकी कुछ तस्वीरें और वीडियो शेयर की। यहां देखें शिहाबुद्दीन द्वारा शेयर की गई एक तस्वीर, जिसमें अंडे की जर्दी हरे रंग की नजर आ रही है।

हरे जर्दी वाले अंडे की वीडियो और फोटोज को सोशल मीडिया खूब हुई वायरल

शिहाबुद्दीन ने बताया कि कुछ हफ्तों पहले उसने हरे जर्दी वाले अंडे की वीडियो और फोटोज को सोशल मीडिया (Social Media) पर पोस्ट किए। इसके बाद ये तेजी से वायरल होने लगीं। इसके बाद शिहाबुद्दीन ने एक वीडियो भी शेयर किया, जिसमें वह उबले हुए अंडे खाता हुआ नजर आ रहा है। शिहाबुद्दीन की इस पोस्ट पर लोगों ने अलग-अलग रिएक्शन दिए। फार्म के मालिक ने बताया कि वह मुर्गियों को खाने में प्लांट्स और हर्ब्स दिया करता था और इसी वजह से मुर्गियों के अंडे का रंग बदल गया था।

- Advertisement -

loading...
loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

HC ने ट्रांजिट पास फार्म W व सप्लीमेंट्री पास फार्म X ना दिखाने वाले ठेकेदारों के बिलों के भुगतान पर रोक लगाई

Breaking: शिक्षा बोर्ड ने टैट की आवेदन तिथि बढ़ाई, अब क्या होगी- जानिए

Solan: छात्रों की ऑनलाइन पढ़ाई को बनाए ग्रुप में चल पड़ी अश्लील वीडियो

Himachal में बड़ा हादसा: पांच की गई जान, तीन घायल- पढ़ें पूरी खबर

कोरोना ब्रेकिंगः Delhi से Shimla पहुंचा टैक्सी चालक निकला पॉजिटिव

बड़ी खबरः Shimla में धंसा रेन शेल्टर, एक की गई जान- एक घायल, एक समय रहते भागा

Corona को भगाने के लिए शिमला में 55 लाख गायत्री मंत्र का जाप, CM Jai Ram भी पहुंचे

HPBOSE ने जारी की D.El.Ed. Part-I and Part-II की अनुपूरक परीक्षा की डेटशीट, यहां देखें

तीन माह बाद दिल्ली से उड़ान भरकर पहुंचे Kullu, आते ही हो गए Institutional Quarantine

हिमाचल को Kiratpur-Ner Chowk Four Lane निर्माण तत्काल प्रभाव से बंद करने के आदेश

Corona की दर्दनाक तस्वीर, चौखट पर मर गया दवा लेने आया Positive युवक !

MP किसान दंपति मारपीट मामला : गुना के Collector और SP हटाए, कमलनाथ ने सरकार को घेरा

देश के तीन राज्यों में हिली धरती : Himachal-Gujarat और Assam में भूकंप के झटके

Twitter पर Hacking Attack : हाइप्रोफाइल लोगों के Account Hack, हिमाचल ने जारी की एडवाइजरी

IIT Delhi ने बनाई कोरोना टेस्टिंग किट, सिर्फ तीन घंटे में निकालेगी Result

loading...
Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

HPBOSE ने जारी की D.El.Ed. Part-I and Part-II की अनुपूरक परीक्षा की डेटशीट, यहां देखें

SOS की मिडल, मैट्रिक तथा जमा दो की परीक्षाओं के लिए करें Online पंजीकऱण

CBSE : दसवीं कक्षा का Result घोषित, 91.46 फीसदी रहा Result

D.El.Ed CET प्रवेश परीक्षा के लिए इस तरह प्राप्त करें अपना Admit Card

CBSE : सस्पेंस खत्म कुछ देर बाद जारी होगा दसवीं का Result से, ऐसे करें चैक

CBSE : 12वीं का परीक्षा परिणाम घोषित, 88.7 फीसदी रहा Result

Himachal में अब मंत्री-विधायक नहीं कर पाएंगे शिक्षकों की Transfer, जानिए क्या होगी नई प्रक्रिया

ICSE की 10वीं और ISC की 12वीं परीक्षा का रिजल्ट हुआ आउट: यहां चेक करें

कल दोपहर 3 बजे घोषित होगा ICSE की 10वीं और ISC की 12वीं परीक्षा का रिजल्ट

बड़ी खबरः अब 12 को नहीं होगी D.El.Ed CET प्रवेश परीक्षा, कब होगी-जानिए

हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने TET के लिए आवेदन तिथि बढ़ाई, कल तक कर सकते हैं आवेदन

CBSE ने सिलेबस से हटाए राष्ट्रवाद, Secularism जैसे Chapters,और भी बहुत कुछ

HRD मंत्री का ऐलान: CBSE कक्षा 9 से 12वीं तक के सिलेबस को 30% तक करेगा कम

हिमाचल में B.Ed करने के इच्छुकों के लिए राहत देने वाली है ये रपट, क्लिक करें

UGC के निर्देश : सितंबर के अंत तक करवानी होंगी UG Final Semester की परीक्षाएं, और भी बहुत कुछ, जानें


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है