Covid-19 Update

43,500
मामले (हिमाचल)
34,555
मरीज ठीक हुए
698
मौत
9,606,810
मामले (भारत)
65,907,507
मामले (दुनिया)

हिमाचल सचिवालय में Secretaries-Officers के लेट आने पर CM नाराज, Chief Secretary ने लिखा खत

हिमाचल सचिवालय में Secretaries-Officers के लेट आने पर CM नाराज, Chief Secretary ने लिखा खत

- Advertisement -

शिमला। कोविड-19 (Covid-19) जैसे संकट के दौर में एक तरफ जहां प्रदेश सरकार स्थितियों से निपटने में लगी हुई है, वहीं दूसरी तरफ अधिकारियों की लेट-लतीफी को लेकर सरकार परेशानी से गुजर रही है। इसे लेकर सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने नाराजगी जाहिर की है। इसके चलते ही चीफ सेक्रेटरी अनिल खाची (Anil Kachi) की तरफ से सभी प्रशासनिक सचिवों को पत्र लिखा गया है। ये पत्र उस वक्त लिखा गया है जब ये बात सामने आई है कि प्रदेश सचिवालय में सचिवों, विशेष सचिवों और अन्य अधिकारी समय पर नहीं पहुंच रहे हैं।

यह भी पढ़ें: देशद्रोह मामले में Arrest पूर्व सीपीएस नीरज भारती 30 तक Police Remand पर

 

 

पत्र में चीफ सेक्रेटरी (Chief Secretary) ने लिखा है कि प्रदेश सचिवालय (Secretariat) में सचिव और विशेष सचिव स्तर के अधिकारी (Officers) साढ़े दस बजे के बाद ही ऑफिस (Office) पहुंच रहे हैं। सीएम जयराम ने इसका गंभीरता से संज्ञान लिया है। चीफ सेक्रेटरी ने लिखा है कि ऑफिस में सभी अधिकारियों और कर्मचारियों का सुबह दस बजे पहुंचना जरूरी होता है। पत्र (Letter) में लिखा गया है कि सभी प्रशासनिक सचिव दस बजे अपने-अपने ऑफिस में पहुंच जाएं और इसका भी निरीक्षण करें कि उनका अधीनस्थ स्टॉफ ऑफिस में आया है या नहीं। ऐसा भी कहा जा रहा है कि इस बारे में उनके ऑफिस जाकर चेकिंग भी की जाएगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है