5 फीसदी वोटों को बीजेपी के पाले में डाल सकता है किरोड़ी सिंह बैंसला का सपोर्ट 

बेटे के साथ बीजेपी में शामिल हुए गुर्जर नेता कर्नल किरोड़ी सिंह

5 फीसदी वोटों को बीजेपी के पाले में डाल सकता है किरोड़ी सिंह बैंसला का सपोर्ट 

- Advertisement -

नई दिल्ली। राजस्थान में गुर्जर आरक्षण आंदोलन (Gurjar Reservation Movement) का नेतृत्व करने वाले कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला (Colonel Kirodi Singh Bainsla) अपने बेटे विजय बैंसला के साथ बीजेपी (BJP) में शामिल हो गए। बता दें कि ओबीसी कैटेगरी में आने वाले गुर्जर समाज का राज्य में करीब 5 फीसदी वोट है। ऐसे में किरोड़ी सिंह बैंसला का सपोर्ट बीजेपी के पाले में उन 5 फीसदी वोटों को डाल सकता है। कर्नल बैंसला ने कहा कि वह किसी पद के लालच में नही अपितु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से प्रभावित हैं, इसलिए वह बीजेपी में शामिल हुए हैं।


यह भी पढ़ें: लालू को नहीं मिली जमानत, सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की याचिका

इस अवसर पर बैंसला ने कहा कि वह गुर्जर आरक्षण आंदोलन से पिछले 14 साल से जुड़े हुए हैं और इस दौरान उन्होंने दोनों दलों (कांग्रेस, बीजेपी) के मुख्यमंत्रियों को नजदीक से अनुभव किया है और दोनों दलों की कार्यशैली, विचारधारा देखी। इससे पहले भी कर्नल बैंसला बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ चुके हैं। 2009 में बीजेपी के टिकट पर टोंक-सवाईमाधोपुर सीट से बैंसला चुनावी मैदान में उतरे थे। हालांकि 317 वोटों से उन्हें कांग्रेस नेता नमोनारायण मीणा के हाथों शिकस्त खानी पड़ी थी। आरक्षण के मुद्दे पर आलोचनाओं का सामना करती रही बीजेपी के लिए चुनाव से ठीक पहले बैंसला का साथ आना सियासी गणित के लिहाज के काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है।


हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मंडीः नाके से भागे वाहन चालक ने एसआई पर चढ़ाई गाड़ी, टांग में आई गंभीर चोटें

पांवटाः किन्नरों के दो गुट भिड़े, सरेराह डंडे से पीटा एक किन्नर-वीडियो वायरल

पुलिस ऑफिसर को भारी पड़ा नीली बत्ती का शौक, ज्वालामुखी में कटा चालान

सीएम जयराम ठाकुर ने विपक्ष को बताया बरसाती मेंढक और क्या बोले-जानिए

धर्मशाला अंडर ग्राउंड डस्टबिन प्रोजेक्ट में गड़बड़झाला, ऐसे हुआ खुलासा!

बारिश से बचने के लिए पीपल के नीचे गए, बिजली गिरने से 8 बच्चों की मौत, 10 झुलसे

प्रशासनिक ट्रिब्यूनल मामले में बोले वीरभद्र, कर्मचारी विरोधी जयराम सरकार

राठौर बोलेः गुजरात में निवेशकों को बुलाने के लिए मोदी के दबाव में गए जयराम

पहाड़ों पर हनीमून मनाने गए पति की बर्बरता, पत्नी को शराब पिलाकर मुंह में भर दिए कांच

ब्रेकिंग: अरुणाचल में 5.6 की तीव्रता वाला भूकंप, असम तक लगे झटके

ध्वाला के बचाव में उतरे जयराम, इंदु गोस्वामी के इस्तीफे को निजी कारण बताया

इंदु गोस्वामी के इस्तीफे के बाद इस महिला नेत्री को बनाया कार्यकारी अध्यक्ष

हिमाचल: केंद्र ने बंदरों को 'विनाशक' बताकर दी कत्ल की अनुमति, पशु प्रेमी बीच में आए

कांगड़ा : रैत में बस से टकराई स्कूटी, युवक की मौत

ट्रिब्यूनल भंग करने पर वकीलों ने की नारेबाजी, सोमवार को सचिवालय के बाहर देंगे धरना

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है