एसडीएम चौपाल पर आयोग की कार्रवाई के बाद कांग्रेस ने घेरी प्रदेश सरकार

किमटा बोले, किसके कहने पर खोला स्ट्रांग रूम, इसकी जांच होनी चाहिए

एसडीएम चौपाल पर आयोग की कार्रवाई के बाद कांग्रेस ने घेरी प्रदेश सरकार

- Advertisement -

लेखराज धरटा/शिमला। चौपाल के एसडीएम (SDM) पर निर्वाचन आयोग की कार्रवाई के बाद कांग्रेस (Congress) ने प्रदेश सरकार (H.P Govt) को कटघरे में खड़ा कर दिया है। कांग्रेस का कहना है कि उक्त अधिकारी द्वारा बिना किसी इजाजत के ईवीएम वाले स्ट्रांग रूम को खोलने से कई सवाल पैदा हुए हैं। प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव रजनीश किमटा ने अंदेशा जताया है कि अधिकारी ने यह कदम सरकार के कहने पर उठाया है। निर्वाचन आयोग को उनके खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कर उन्हें हिरासत में लेना चाहिए और मामले की जांच करनी चाहिए। मामले को लेकर बुधवार को कांग्रेस पार्टी ने निर्वाचन आयोग में शिकायत दी है और इस संबंध में आवश्यक कार्रवाई की मांग की है।

यह भी पढ़ेंः एचएएस प्री-एग्जाम की डेट बदली, अब 13 अप्रैल को नहीं होगा

प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव रजनीश किमटा ने बुधवार को मीडिया में कहा कि यह बहुत ही गंभीर मामला है और इसकी गहनता से जांच होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि केवल मात्र तबादला करने मामला बंद नहीं हो जाता। उनका कहना था कि निर्वाचन आयोग ने यह कार्रवाई पांच माह बाद तब की, जब यहां आदर्श चुनाव आचार संहिता लगी। उन्होंने जानना चाहा कि आज तक मामला क्यों दबा रहा। इसके पीछे कौन थे, जिनके कारण कार्रवाई नहीं हुई।

किमटा ने कहा कि ईवीएम से कथित छेड़छाड़ का चौपाल में खुलासा हुआ है और हो सकता है कि ऐसा कई और हलकों में भी हुआ हो। ऐसे में उनकी मांग है कि ईवीएम की सुरक्षा राज्य पुलिस से हटाकर सेना के हवाले की जाए, क्योंकि सरकार के इशारे पर अधिकारी ऐसे काम कर रहे हैं, जिससे उनकी निष्पक्षता सवालों के घेरे में है। किमटा ने विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल के बीजेपी की कोर कमेटी की बैठक में हिस्सा लेने पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष पर भी चुनाव आयोग को कार्रवाई करनी चाहिए। किमटा ने राज्य में वितरित किए गए डस्टबिन पर लगे सांसदों और विधायकों के नामों को हटाने की मांग की।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है