सात हजार करोड़ पहुंची रेणुका बांध की लागत, रिवाइज्ड डीपीआर सीडब्ल्यूसी को सौंपी

साल 1992 में 1286 करोड़ रुपये थी रेणुका बांध की लागत

सात हजार करोड़ पहुंची रेणुका बांध की लागत, रिवाइज्ड डीपीआर सीडब्ल्यूसी को सौंपी

- Advertisement -

रेणुकाजी। दिल्ली की प्यास बुझाने वाली एवं राष्ट्रीय महत्व की रेणुका बांध (Renuka Dam) परियोजना की लागत करीब 7000 करोड़ (Seven Thousand Crore) रुपये पहुंच गई है। प्रदेश पॉवर कॉर्पोरेशन ने रिवाइज्ड डीपीआर (Revised DPR) को केंद्रीय जल आयोग (Central Water Commission) को सौंप दिया है। साल 1992 में जब रेणुका बांध की पहली डीपीआर बनी थी, उस समय रेणुका बांध निर्माण की लागत 1286 करोड़ रुपये थी। पावर कार्पोरेशन (State power corporation) ने बांध की डीपीआर को रिवाइज्ड कर दिया है, लेकिन अभी तक इसका शिलान्यास तक नहीं हो पाया है।

 

यह भी पढ़ें  :  कालाअंब, पांवटा साहिब और राजगढ़ को मिले नए एसएचओ

 

प्रदेश सरकार ने बजट सत्र के दौरान इस कार्य को साल के अंत तक शुरू होने की उम्मीद जताई है, लेकिन इससे पहले नई डीपीआर को स्वीकृति के लिए भेजा जाना है। स्वीकृति के बाद ही बांध निर्माण की दशा में अगला कदम उठाया जा सकेगा। बता दें कि पिछले दिनों ही छह राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने एमओयू पर हस्ताक्षर कर अपनी स्वीकृति भी प्रदान की है। इससे बांध निर्माण की आस फिर जाग उठी है। बजट सत्र (Budget Session) के दौरान, जयराम ठाकुर (Jai Ram Thakur) स्वयं इसके निर्माण कार्य के जल्द शुरू होने की उम्मीद जाहिर कर चुके हैं।

यदि बांध का निर्माण कार्य अब भी शुरू होता है तो उस पर करीब सात हजार करोड़ रुपये खर्च होंगे। नहीं तो इसकी लागत राशि फिर से बढ़ जाएगी। करीब ढाई दशक के दौरान ही रेणुका बांध निर्माण की लागत छह गुणा अधिक तक जा पहुंची है। रेणुका बांध परियोजना (Renuka Dam Project) के महाप्रबंधक रामपाल शर्मा ने सात हजार करोड़ की रिवाइज्ड डीपीआर को केंद्रीय जल आयोग को सौंपे जाने की पुष्टि की है। हालांकि, बताया यह भी जा रहा है कि परियोजना के लिए अभी इंवेस्टमेंट क्लीरेंस (Investment Clearance) मिलना भी बाकी है। इसके बाद ही बांध निर्माण की दिशा में कदम उठाए जा सकते हैं।

 

 

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है