Covid-19 Update

39,406
मामले (हिमाचल)
30,470
मरीज ठीक हुए
632
मौत
9,393,039
मामले (भारत)
62,573,188
मामले (दुनिया)

COVID-19 के चलते देश का सबसे बड़ा हॉस्पिटैलिटी ट्रेड शो आईएचई 2020 अब वर्चुअल मोड पर

COVID-19 के चलते देश का सबसे बड़ा हॉस्पिटैलिटी ट्रेड शो आईएचई 2020 अब वर्चुअल मोड पर

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत के सबसे बड़े फूड इंडस्ट्री और हॉस्पिटैलिटी सेक्टर (Food Industry and Hospitality Sector) के बी2बी आयोजन इंडिया इंटरनेशनल हॉस्पिटैलिटी एक्सपो (India International Hospitality Expo) के 2020 संस्करण को शत प्रतिशत ऑनलाइन करने की तैयारी जोर-शोर से चल रही है। यह सामाजिक दूरी को कायम रखते हुए क्रेता-विक्रेता के संवाद और संपर्क पर जोर रहने वाला है। इंडिया एक्सपो मार्ट लिमिटेड (IEML) के चेयरमैन राकेश कुमार ने इसका उद्घाटन करते हुए कहा, कोविड-19 महामारी ने हमें लगातार नए आइडिया और अवसरों को तलाशने की चुनौती दी है। आपदा को अवसर बनाने के उद्देश्य से हमने आईएचई (IHE) 2020 को स्थगित करने बजाय क्लिक एंड नैवीगेट अनुभव को अपनाया जिस तक दुनिया के किसी भी कोने से पहुंचा जा सकता है, हम अपने आयोजन को दुनिया भर की ट्रैवल एडवाइजरी और स्वास्थ्य आपात स्थितियों से बचाने में सफल हुए हैं”।

यह भी पढ़ें- सिर्फ 75 रुपए में पूरा महीना फोन चला सकते हैं Jio Phone Users, ये हैं बेस्ट 5 प्लान

 

आईएचई का आयोजन आईईएमएल (IEML) द्वारा हर वर्ष किया जाता है। इस वर्ष ये आयोजन 5 अगस्त से 8 अगस्त के बीच किया जाना है। पिछले वर्ष आईईएमएल एक्सपो सेंटर ग्रेटर नोयडा, उत्तर प्रदेश में आयोजित आईएचई 2019 में 21 हजार से ज्यादा दर्शक आए। 650 प्रतिभागियों ने 38 श्रेणियों में 25 हजार उत्पादों का प्रदर्शन किया। इनमें रसोई के उपकरणों, टेबल वेयर, शीशे के सामानों से लेकर फर्नीचर- फिक्सचर, वेलनेस उपकरण, हाउसकीपिंग, लॉन्ड्री, खाद्य प्रसंस्करण और कोल्ड स्टोरेज से जुड़े उत्पाद शामिल थे।

इस आयोजन के वर्चुअल मोड पर सफलता से आयोजन के लिए आईईएमएल (IEML) ने 14 वेबिनार्स आयोजित किए है, इनमें हॉस्पिटैलिटी सेक्टर के लिए कोविड-19 के बाद उपयोगी उत्पादों का एक वर्चुअल शो केस शामिल है। इसके अलावा तीन ऐसे आयोजन जल्द ही किए जाने हैं। पिछले छह हफ्तों के दौरान आयोजित इन वेबिनार्स में हॉस्पिटैलिटी सेक्टर के सबसे नामचीन हस्तियों ने हिस्सा लिया। इसमें होटल, रेस्टोरेंट्स, फूड प्रोसेसिंग, इवेंट्स, माइस (एमआईसीई), शादी आयोजन और बैंक्वेटिंग से जुड़े लोग शामिल हैं।

प्रतिभागियों के पक्ष को साझा करते हुए राष्ट्रीय पुरस्कार विजेता पॉटरी कंपनी के मालिक और आई एच ई मेले के प्रेसिडेंट हरी दादू ने कहा, ‘आईईएमएल में वर्चुअल तकनीक का इस्तेमाल कर हम हजारों किलोमीटर दूर लोगों से संपर्क स्थापित कर सकते हैं। भले ही लॉकडाउन में ढील मिल गई हो पर महामारी की दहशत की वजह से लोग अभी भी यात्रा करने में हिचक रहे हैं। यही वजह है कि पूरी दुनिया में अब ऑनलाइन शो (ONline SHow) महत्वपूर्ण होने वाले हैं। जब लोग घरों से बाहर निकलना नहीं चाह रहे हों तो इस तरह के शो का महत्वबढ़ जाता है।” वर्चुअल आयोजन कैसे काम करेगा इसे विस्तार से श्री कुमार ने समझाते हुए कहा कि दुनिया के किसी भी कोने में रहने वाला कोई व्यक्ति अगर इस आयोजन में रुचि रखता है तो उसके पास लॉग इन होगा। उसे अगर एक्जिबिशन जोन में जाना है, सोमेलियर ट्रेनिंग सेशन या वर्चुअल फूड एंड कॉनक्लेव या फिर मास्टर क्लास में जाना है तो उसे बस अपने मनचाहे बटन पर क्लिक करना होगा। सही बटन पर क्लिक करने से वो आईएचई एक्सेलेंस अवार्ड का सीधा प्रसारण भी देख सकता है।

आईएचई 2020 (IHE 2020) के वर्चुअल मोड में यूसर-फ्रेंडली नैवीगेशन सिस्टम का इस्तेमाल किया गया है इससे जो भी विजिटर आईआईएचई 2020 में शिरकत करेंगे वो प्रतिभागियों के पूरे प्रोडक्ट कैटेलॉग देख सकेंगे, उनकी कॉरपोरेट फिल्में देख सकेंगे, अपने वर्चुअल कॉलिंग कार्ड्स की अदला बदली कर सकेंगे, इसके साथ ही फॉलो-अप बातचीत भी व्हाट्स ऐप पर कर सकेंगे। और तो और ये सब वो बिना अपने शहरों से बाहर निकले और कार्यस्थल से एक कदम बाहर रखे बिना कर सकेंगे।

इस बीच वैश्विक उद्योग संगठनों ने आईएचई 2020 के वर्चुअल मोड पर आने पर सकारात्मक प्रतिक्रिया दी है। हॉस्पिटैलिटी सॉल्यूशन्स प्रदेता एचएसएमसी एशिया के संस्थापक सीईओ और होटल एंड रेस्टोरेंट इक्विपमेंट मैन्यूफैक्चरर्स एसोसिएशन ऑफ इंडिया (एचओटीआरईएमएआई HOTREMAI – Hotremai) के प्रेसीडेंट अनिल मल्होत्रा के मुताबिक, ‘यह कदम उठाने का इससे बेहतर समय कोई और नहीं हो सकता था।” उन्होंने कहा कि ‘आईएचई 2020 भारतीय उत्पादों को वैश्विक बाजारों और क्रेताओँ तक पहुंचाने का सही मंच साबित होने वाला है। ये मेक इन इंडिया के विचार को भारत से बाहर के होटलों तक ले जाएगा।“

उन्होंने एक आवश्यकता की तरफ ध्यान दिलाते हुए कहा, “ सभी प्रतिभागी बराबर से ऑनलाइन ज्ञान के माहिर नहीं होते हैं या फिर हो सकता है उनके कैटेलॉग्स का प्रजेंटेशन उतना बेहतरीन न हो ऐसे में इस दिशा में उन्हें मदद की जरुरत पड़े। होटरेमाई में मल्होत्रा के सहयोगी और एफसीएमएल डिस्ट्रीब्यूटर्स प्राइवेट लिमिटेड के चेयरमैन निर्मल खंडेलवाल ने सकारात्मक ऊर्जा साझा करते हुए बताया, “आईएचई 2020 के विस्तार का यही एक रास्ता था”। खंडेलवाल आईएचई 2020 के एडवाइजरी बोर्ड में भी हैं, उन्होंने उत्पादों के भौतिक सत्यापन की चिंता को दूर करते हुए कहा कि, ‘आयोजन का वर्चुअल मोड संभावित ग्राहकों को प्रतिभागियों के क्रिया कलापों और उनके उत्पादों के बारे में पूरी जानकारी देगा और सही समय पर वो उत्पादों का सत्यापन कर सकते हैं।’

एसोसिएशन ऑफ रिसोर्स कंपनीज फॉर हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री ऑफ इंडिया (आर्ची) के प्रेसीडेंट और होटल फर्नीचर एंड इक्विपमेंट कंपनी पनबन ग्रुप के प्रबंध निदेशक रजत पांधी ने भी सकारात्मक ऊर्जा का विस्तार करते हुए कहा, ‘आईएचई 2020 में हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री में एमेजॉन या फ्लिपकार्ट बनने की पूरी क्षमता है। एक ऐसा वैश्विक ऑनलाइन मार्केटप्लेस जहां पर होटल और रेस्टोरेंट प्रोडक्ट्स एंड सर्विसेज उपलब्ध कराया जा सके।’

अपनी बात को विस्तार देते हुए पांधी ने कहा कि आयोजन का ये वर्चुअल मोड टीयर 2 और टीयर 3 शहरों और इलाकों तक पहुंचने की पूरी क्षमता रखता है और सही मार्केटिंग के साथ
इन इलाकों के अब तक अछूते रह गये ग्राहकों और क्रेताओं का लाभ लिया जा सकता है। इसके साथ ही ये प्रतिभागियों के लिए बहुत सस्ता माध्यम भी साबित होगा जिन्हें अपने विशाल सेटअप और अपने एक्जीक्यूटिव्स के आने जाने, ठहरने पर काफी पैसे खर्च करने पड़ते थे। इस वर्चुअल मोड की शुरुआत की घोषणा को सभी से सकारात्मक प्रतिक्रिया मिली।

आईईएमएल के श्री कुमार ने कहा,“ आईएचई 2020 में ऐसा बहुत कुछ होने वाला है अगर हम अपनी योजना को सही ढंग से अमल में ला सके तो लॉकडाउन के बाद की दुनिया में व्यापार मेलों का पूरा नजरिया, तरीका और काम करने के व्यवहार बदलने वाला है। हमारा कैलेंडर काफी व्यस्त है और हम आपको इससे जुडी सूचनाएं देते रहेंगे।”

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

loading...
Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है