Covid-19 Update

41,860
मामले (हिमाचल)
33,336
मरीज ठीक हुए
667
मौत
9,525,668
मामले (भारत)
64,510,773
मामले (दुनिया)

Himachal: मनरेगा के तहत बन सकेंगी पशु शालाएं, अब डाक घर में भी बनेंगे जीवन प्रमाण पत्र

वीरेंद्र कंवर ने दी जानकारी, मनरेगा में पशु शालाएं बनाने के आदेश जारी

Himachal: मनरेगा के तहत बन सकेंगी पशु शालाएं, अब डाक घर में भी बनेंगे जीवन प्रमाण पत्र

- Advertisement -

ऊना। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज, मत्स्य, कृषि व पशु पालन मंत्री वीरेंद्र कंवर (Virender Kanwar) ने कहा है कि पशु शालाएं निर्माण को भी मनरेगा के तहत सरकार मदद प्रदान करेगी। यह जानकारी देते हुए वीरेंद्र कंवर ने कहा कि मनरेगा (MGNREGA) के तहत पशु शालाएं बनाने को अनुमति नहीं थी, लेकिन इसके आदेश जारी कर दिए गए हैं। नए आदेशों के तहत पशु शालाएं बनाने को पंचायत एक लाख रुपए खर्च कर सकती है।

यह भी पढ़ें: #Deepika की फोटो लगाकर बना दिया मनरेगा जॉब कार्ड; पैसे निकले पर मजदूर को पता ही नहीं

वीरेंद्र कंवर ने कहा कि जल संग्रहण टैंक (Water Storage Tank) के निर्माण को भी बढ़ा कर 1.50 लाख रुपए खर्च करने की अनुमति प्रदान कर दी गई है। अगर बड़ा टैंक बनाने के लिए लागत बढ़ती है, तो अतिरिक्त खर्च का वहन लाभार्थी को करना होगा। उन्होंने कहा कि अब पहले से बने पक्के रास्तों की मरम्मत करने को भी मनरेगा की गतिविधियों में शामिल कर लिया गया है, इसके तहत एक वित्तीय वर्ष में एक वार्ड या एक गांव में केवल एक ही रास्ता पक्का होगा। इसके अलावा निर्माण स्थल के समीप पड़ने वाले घर के साथ डंगा लगाने के लिए मनरेगा के तहत खर्च की सीमा 35 हजार रुपए से बढ़ाकर 50 हजार रुपए कर दी गई है। ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि मनरेगा के तहत नई गतिविधियों को जोड़ने का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों में आधारभूत ढांचा सुदृढ़ करना है। साथ ही इन गतिविधियों के माध्यम से ग्रामीण अर्थव्यवस्था को भी मजबूती मिल रही है। उन्होंने कहा कि मनरेगा के साथ अन्य स्कीमों के साथ कन्वर्जेंस कर ग्रामीण क्षेत्रों में विकास सुनिश्चित किया जा सकता है। कंवर ने कहा कि वित्त वर्ष 2020-21 के तहत प्रदेश को मनरेगा के तहत 2.75 करोड़ कार्य दिवस सृजित करने का लक्ष्य रखा गया है, लेकिन वित्त वर्ष के पहले 5 माह में ही 2 करोड़ से अधिक कार्य दिवस सृजित किए जा चुके हैं।

ऊना के सभी 186 अन्य डाकघरों में भी सुविधा शुरू

डाक विभाग ने पेंशनरों को सुविधा उपलब्ध करवाने के मकसद से नई शुरुआत की है, जिसके तहत अब डाकघरों में भी जीवन प्रमाण पत्र बनाए जाएंगे। यह जानकारी देते हुए अधीक्षक डाकघर ऊना रामतीर्थ शर्मा ने बताया कि पेंशनरों के लिए यह सुविधा मुख्य डाकघर एवं ऊना जिला के सभी 186 अन्य डाकघरों में शुरू कर दी गई है। उन्होंने कहा कि डाक विभाग (Postal Department) ई-जीवन प्रमाण पत्र जारी करेगा तथा प्रमाण पत्र स्वत: संबंधित विभाग को पहुंच जाएगा। इससे पेंशन मिलने में कोई रुकावट नहीं आएगी।उन्होंने कहा कि इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक ऊना शाखा द्वारा लोगों को सुविधा प्रदान करने के लिए इस अभियान को पूरे जिला ऊना (Una) में लागू करने के लिए पूरा प्रोग्राम तैयार कर लिया है, जिसके तहत 2 दिन के भीतर पूरे जिला में स्टाफ को इस सुविधा को पेंशनरों तक पहुंचाने का प्रशिक्षण प्रदान किया जाएगा।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है