Covid-19 Update

15014
मामले (हिमाचल)
11588
मरीज ठीक हुए
187
मौत
6,312,584
मामले (भारत)
34,170,335
मामले (दुनिया)

जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल ना करें Hand Sanitizer, सेहत को हो सकते हैं ये नुकसान

जरूरत से ज्यादा इस्तेमाल ना करें Hand Sanitizer, सेहत को हो सकते हैं ये नुकसान

- Advertisement -

कोरोना संकट में हम सभी लोगों को बार-बार हाथ धोने की हिदायत दी जा रही है। जो लोग साबुन से हाथ नहीं धो पाते उन्हें हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer) का उपयोग करने को कहा जाता है। सैनिटाइजर हाथ के किटाणुओं को तो मार देता है लेकिन इसके नुकसान भी हैं। भारतीय स्वास्थ्य मंत्रालय के एडिशनल डायरेक्टर जनरल डॉक्टर आरके वर्मा ने भी कहा है कि हैंड सैनिटाइजर का एक सीमा से अधिक उपयोग करना सेहत के लिए हानिकारक (Harmful) हो सकता है। इससे बचाव के लिए उन्होंने सुझाव दिया है कि जब आप लोग घर में हो उस समय हैंड सैनिटाइजर के उपयोग की जगह साबुन और पानी से ही हाथ धोएं। हम आपको बताते हैं कि हैंड सैनिटाजर किस तरह से आपको नुकसान पहुंचाता है …


सैनिटाइजर को बनाने में जिन केमिकल्स का उपयोग किया जाता है, उनमें आमतौर पर बेंजाल्कोनियम क्लोराइड होता है। यह रसायन हाथ की त्वचा पर स्थित कीटाणुओं को लगभग पूरी तरह खत्म कर देता है। किसी भी तरह के बैक्टीरिया और इंफेक्शन (Bacteria and infection) फैलाने वाले पैथोजेन्स त्वचा पर एक्टिव नहीं रह पाते हैं। लेकिन जब इस रसायन को हाथ पर बहुत अधिक उपयोग किया जाने लगता है तो यह कुछ लोगों में एलर्जी, खुजली या जलन की वजह बन सकता है। ऐसा आमतौर पर उन लोगों के साथ होता है, जिनकी त्वचा बहुत अधिक संवेदनशील होती है।

हैंड सैनिटाइजर का बहुत अधिक उपयोग बच्चों की सेहत के लिए भी ठीक नहीं है। ऊपर हमने जितनी भी बातें की हैं, इनमें से किसी भी तरह की समस्या होने पर आमतौर पर बच्चे माता-पिता को एक्सप्लेन नहीं कर पाते हैं कि उन्हें कैसा महसूस हो रहा है या क्या परेशानी हो रही है। वे सिर्फ चिड़चिड़े और बीमार हो जाते हैं इसलिए बच्चों को भी साबुन से हाथ धुलवाना ही सही है।

हैंड सैनिटाइजर को तैयार करते समय इसमें ट्राइक्लोसोन (Trichlosone) का उपयोग भी किया जाता है। यह एक ऐसा रसायन है, जो त्वचा द्वारा अवशोषित कर लिया जाता है। यानी हमारी त्वचा इस रसायन को सोख लेती है। इस कारण यह हमारे शरीर में प्रवेश कर जाता है। यदि एक सीमित मात्रा से अधिक कोई भी बाहरी रसायन शरीर में जाएगा तो उसके साइड इफेक्ट्स निश्चित तौर पर होते हैं।

बहुत अधिक हैंड सैनिटाइजर का उपयोग करने से हाथों में रुखापन बढ़ने लगता है। बार-बार साबुन से हाथ धोने पर भी इस तरह की समस्या होती है। इस स्थिति से बचने के लिए बेहतर होता है कि आप हाथ पोछने के तुरंत बाद अपने हाथों पर एक बूंद सरसों तेल लगाकर मालिश कर लें। सरसों तेल अधिक मात्रा में ना लें नहीं तो यह चिपचिपाहट पैदा करेगा। यह तेल ऐंटिवायरल, ऐंटिबैक्टीरियल और ऐंटिइंफ्लामेट्री गुणों से भरपूर होता है। इसलिए त्वचा पर अन्य किसी मॉइश्चराइजर से अधिक उपयोगी है। खासतौर पर आज के समय में कोरोना की स्थिति को देखते हुए।

हैंड सैनिटाजइजर्स को अच्छी सुंगध देने के लिए जिन रसायनों का उपयोग किया जाता है, उनमें फैथलेट्स भी शामिल है। यह एक ऐसा रसायन है, जिसके अधिक उपयोग का लिवर और किडनी पर नकारात्मक असर (Negative impact) देखने को मिलता है। इस कारण उन लोगों को अधिक दिक्कत होती है, जिन्हें पहले से ही पेट या पाचन से जुड़ी बीमारियां हों।

सैनिटाइजर का बहुत अधिक उपयोग करने के कुछ ऐसे नुकसान होते हैं, जिन पर हमारा जल्दी से ध्यान नहीं जाता है। मसलन सैनिटाइजर्स को खुशबूदार बनाने के लिए इनमें जिन रसायनों का उपयोग किया जाता है, कई बार वे रसायन स्ट्रेस और एंग्जाइटी को ट्रिगर करनेवाले होते हैं। ऐसा आमतौर पर उन लोगों के साथ होता है जो बहुत अधिक संवेदनशील होते हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया के ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

नवरात्र में Shri Naina Devi में क्या रहेगी व्यवस्था, मंदिर न्यास ने बैठक कर की चर्चा

#Unlock-5 में क्रिकेट खेल गतिविधियां शुरू करने को HPCA का यह है प्लान- जानिए

D.El.Ed CET 2020: 12 से 23 अक्टूबर तक होगी स्क्रीनिंग, अभ्यर्थी करें ऐसा

नोएडा में रोका गया काफिला तो #Hathras के लिए पैदल बढ़े राहुल-प्रियंका; माया-अखिलेश का भी अटैक

HP Covid-19: पीएम के दौरे से पहले कुल्लू पहुंचे 17 सरकारी कर्मी समेत कुल 48 पॉज़िटिव; 6 की मौत

#Dharamshala में साइकिल रैली : दाड़ी के जय कुमार ने सबको पीछे छोड़ जीता 15 हजार का इनाम

थ्रिलर वेब सीरीज व एक्शन मूवी देखकर #Murder की प्लानिंग करता था शातिर, पुलिस ने होशियारी से पकड़ा

 कोरोना संकट में ऐसे लगाई दुल्हन को हल्दी, देखने वाले भी हंसकर हुए लोटपोट

#Corona Update: हिमाचल में 248 नए केस, 399 ठीक- तीन की गई जान

KCCB BOD Election: नूरपुर से करनैल राणा की हैट्रिक, कुल्लू में प्रेमलता ठाकुर का चौका

#HPSSC: कर्मचारी आयोग ने घोषित किया यह फाइनल रिजल्ट- जानिए

खनन माफिया पर बड़ी कार्रवाईः 15 Truck-टिप्पर व एक पोकलेन जब्त, 21 वाहनों के काटे चालान

अब हर समय साथ नहीं रखने होंगे गाड़ी के Paper, पहली अक्तूबर से लागू होने वाला है नया नियम

इस देश में हर रोज International Border क्रॉस कर स्कूल जाते हैं बच्चे

पश्चिम बंगाल स्थित हुगली नदी में मात्र 39 रुपए में घंटे भर करें क्रूज का सफर; 1 Oct को लॉन्चिंग

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

D.El.Ed CET 2020: 12 से 23 अक्टूबर तक होगी स्क्रीनिंग, अभ्यर्थी करें ऐसा

Himachal में 530 हेड मास्टर और लेक्चरर बने प्रिंसिपल, पर वेतन बढ़ोतरी को करना होगा इंतजार

बिग ब्रेकिंगः हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने आठ विषयों की TET परीक्षा का Result किया आउट

#HPBose: बोर्ड ने छात्र हित में लिया फैसला, 30 तक बढ़ाई यह तिथि

पहली से आठवीं कक्षाओं के छात्रों की ऑनलाइन परीक्षाओं की Datesheet जारी

#HPBose: डीईएलईडी पार्ट वन और टू का रिजल्ट आउट, कितने सफल, कितने असफल- जानिए

छात्र Online देख सकते हैं SOS की प्रेक्टिकल परीक्षा के अंक , feeding का भी विकल्प

D.El.Ed CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग में आधे अभ्यर्थी ही पात्र

#HPBose: SOS मैट्रिक व जमा दो कक्षाओं की प्रैक्टिकल परीक्षा की डेटशीट जारी

तकनीकी विवि में द्वितीय, चतुर्थ और छठे समेस्टर के छात्रों को किया जाएगा Promote

शिक्षकों-गैर शिक्षकों को स्कूल बुलाने के लिए Notification जारी, विभाग ने ये दिए निर्देश

#HPBose: बोर्ड की अनुपूरक परीक्षाओं से संबंधित जानकारी के लिए घुमाएं ये नंबर

D.El.Ed. CET -2020 की स्पोर्टस कोटे की काउंसिलिंग अब 17 को डाइट में होगी

#HPBose: बोर्ड ने D.El.Ed.CET स्पोर्ट्स कैटेगरी काउंसलिंग की तिथि की तय

#HPBose: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने घोषित किया यह रिजल्ट- जानिए



×
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है