पहली से आठवीं तक की परीक्षा देने पहुंचे बच्चे, नहीं पहुंचे गुरुजी तो दरवाजा तोड़कर क्या देखा

तय समय से दो घंटे देरी से शुरू हुई परीक्षा 

पहली से आठवीं तक की परीक्षा देने पहुंचे बच्चे, नहीं पहुंचे गुरुजी तो दरवाजा तोड़कर क्या देखा

- Advertisement -

देहरादून। उत्तराखंड (Uttarakhand) में स्कूल की चल रही वार्षिक परिक्षा (Annual exam) से पहले एक गुरुजी को नींद आ गई, जिसके चलते परीक्षा तो हुई पर दो घंटे देरी से। मामला नैनीताल जिले के तहत पड़ते ओखलकांडा के डालकन्या प्राथमिक जूनियर हाईस्कूल का है। बताया जाता है कि सुबह दस बजे से कक्षा पहली से लेकर आठवीं तक के बच्चों की संस्कृत (Sanskrit) विषय की परीक्षा थी, तभी बच्चे तय समय पर स्कूल पहुंच गए थे।

 


 

यह भी पढ़ें  :  बोर्ड परीक्षाएं: ऊना, कुल्लू और सोलन में नकल करते 16 पकड़े, मोबाइल भी बरामद

 

 

जब वह स्कूल पहुंचे तो वहां तैनात तीनों ही शिक्षक मौजूद नहीं थे। एक शिक्षक स्कूल के नजदीक ही रहते हैं। स्कूली बच्चों के अभिभावकों (Parents) को जब इसका पता चला तो वह शिक्षक के कमरे पर पहुंचे, बार-बार दरवाजा खटखटाने पर नहीं खुला तो उसे तोड़ दिया गया। भीतर जाकर देखा कि शिक्षक (Teacher) सोए हुए थे, बाद में उन्हें जगाया गया। बताया जा रहा है कि उनकी तबीयत खराब हो गई थी, जबकि दो अन्य शिक्षक यातायात जाम में फंस गए थे, जिसके चलते परीक्षा दो घंटे देरी से शुरू हो सकी।

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है