वन कर्मी के परिवार को सरकार से मदद का इंतजार, एसोसिएशन ने दिए 61 हजार

31 जनवरी को सड़क दुर्घटना में हुई थी वन कर्मी बृज लाल की मौत

वन कर्मी के परिवार को सरकार से मदद का इंतजार, एसोसिएशन ने दिए 61 हजार

- Advertisement -

मंडी। दिवंगत वन कर्मी (Forest worker) बृज लाल के परिवार (family) को अभी तक सरकार की तरफ से आर्थिक मदद (Financial Help) न मिलने पर एनपीएस कर्मचारी महासंघ ने कड़ा ऐतराज जाहिर किया। वहीं, महासंघ ने अपने स्तर पर 61 हजार रुपये की धनराशि एकत्रित करके पीड़ित परिवार को देकर आर्थिक मदद देने का प्रयास किया है। यह राशि महासंघ के पदाधिकारियों ने प्रदेशाध्यक्ष नरेश ठाकुर की अगुवाई में दिवंगत वन कर्मी बृज लाल के निवास स्थान पर जाकर उनकी पत्नी को सौंपी। बता दें कि बृज लाल सरकाघाट (Sarkaghat) उपमंडल की बलद्वाड़ा तहसील के जवाली गांव के रहने वाले थे और बीती 31 जनवरी को एक सड़क दुर्घटना (Road Accident)  उनकी मौत (Death) हो गई थी।
एनपीएस कर्मचारी महासंघ (NPS Employee Federation) के प्रदेशाध्यक्ष नरेश ठाकुर ने बताया कि बृज लाल पुरानी पेंशन बहाली को लेकर चलाए जा रहे आंदोलन में पूरी सक्रियता से भाग ले रहे थे। नरेश ठाकुर ने बताया कि स्वर्गीय बृज लाल के परिवार को सरकार की तरफ से अभी तक कोई भी आर्थिक सहायता नहीं मिली है। नई पेंशन स्कीम कर्मचारी महासंघ चाहता है कि परिवार को यह आर्थिक लाभ जल्द से जल्द अदा किए जाएं। उन्होंने कहा कि न्यू पेंशन स्कीम (New Pension Scheme) के तहत जो भी कर्मचारी आते हैं, उनके परिवारों को विपदा की स्थिति में ऐसी ही कठिनाईयों का सामना करना पड़ता है। इन्होंने सरकारों से मांग उठाई है कि पुरानी पेंशन को जल्द से जल्द बहाल किया जाए, ताकि कर्मचारियों का शोषण बंद किया जा सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Like करें हिमाचल अभी अभी का Facebook Page….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मंडीः नाके से भागे वाहन चालक ने एसआई पर चढ़ाई गाड़ी, टांग में आई गंभीर चोटें

पांवटाः किन्नरों के दो गुट भिड़े, सरेराह डंडे से पीटा एक किन्नर-वीडियो वायरल

पुलिस ऑफिसर को भारी पड़ा नीली बत्ती का शौक, ज्वालामुखी में कटा चालान

सीएम जयराम ठाकुर ने विपक्ष को बताया बरसाती मेंढक और क्या बोले-जानिए

धर्मशाला अंडर ग्राउंड डस्टबिन प्रोजेक्ट में गड़बड़झाला, ऐसे हुआ खुलासा!

बारिश से बचने के लिए पीपल के नीचे गए, बिजली गिरने से 8 बच्चों की मौत, 10 झुलसे

प्रशासनिक ट्रिब्यूनल मामले में बोले वीरभद्र, कर्मचारी विरोधी जयराम सरकार

राठौर बोलेः गुजरात में निवेशकों को बुलाने के लिए मोदी के दबाव में गए जयराम

पहाड़ों पर हनीमून मनाने गए पति की बर्बरता, पत्नी को शराब पिलाकर मुंह में भर दिए कांच

ब्रेकिंग: अरुणाचल में 5.6 की तीव्रता वाला भूकंप, असम तक लगे झटके

ध्वाला के बचाव में उतरे जयराम, इंदु गोस्वामी के इस्तीफे को निजी कारण बताया

इंदु गोस्वामी के इस्तीफे के बाद इस महिला नेत्री को बनाया कार्यकारी अध्यक्ष

हिमाचल: केंद्र ने बंदरों को 'विनाशक' बताकर दी कत्ल की अनुमति, पशु प्रेमी बीच में आए

कांगड़ा : रैत में बस से टकराई स्कूटी, युवक की मौत

ट्रिब्यूनल भंग करने पर वकीलों ने की नारेबाजी, सोमवार को सचिवालय के बाहर देंगे धरना

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है