Covid-19 Update

39,406
मामले (हिमाचल)
30,470
मरीज ठीक हुए
632
मौत
9,393,039
मामले (भारत)
62,573,188
मामले (दुनिया)

इतिहास में पहली बार Indian Railways की 100% ट्रेनें समय पर गंतव्य पर पहुंची

इतिहास में पहली बार Indian Railways की 100% ट्रेनें समय पर गंतव्य पर पहुंची

- Advertisement -

नई दिल्ली। देश में जारी कोरोना वायरस (Coronavirus) के कहर के बीच लगातार सेवा में जुटी हुई रेलवे ने इस अवधि में इतिहास रच दिया है। दरअसल भारतीय रेलवे (Indian Railway) के इतिहास में पहली बार 1 जुलाई को परिचालन कर रही उसकी सभी ट्रेनें अपने गंतव्यों पर समय से पहुंची। रेल मंत्रालय ने बताया, ‘इससे पहले का सबसे अच्छा रिकॉर्ड 99.54% था जो 23 जून 2020 को बना था।’इससे पहले 2017-18 में मात्र 70 फीसदी ट्रेनें ही समय पर स्‍टेशन पहुंचीं। 2016-17 में यह आंकड़ा 76.69 फीसदी रहा था जबकि 2015-16 में 77.‍44 फीसदी था।

23 जून को 99.54 प्रतिशत समयबद्धता का रिकॉर्ड बनाया था

कोरोना वायरस संकट के बीच भारतीय रेलवे अपनी ट्रेनों की समयबद्धता को सुनिश्चित करने पर विशेष ध्यान दे रही है। इससे पहले 23 जून को 99.54 प्रतिशत समयबद्धता को हासिल किया गया था, उस समय मात्र एक ट्रेन में देरी हुई थी। इससे पहले 22 जून को इस मामले में 98 प्रतिशत हासिल किया गया था। इसके बाद जून महीने की शुरुआत में रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष वीके यादव ने सभी जोन प्रमुख को इन स्पेशल 230 ट्रेनों के संचालन में 100 प्रतिशत समय की पाबंदी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए थे। इन स्पेशल ट्रेनों के भी देरी से चलने को लेकर बहुत आलोचना हुई थी जिसके बाद रेलवे ने यह कदम उठाया था। आमतौर पर रोज 13000 गाड़ियां चलती है जबकि इस समय इसके 2 प्रतिशत से भी कम (मात्र 230 ) ट्रेन चलाई जा रही है और वो भी समय पर नहीं चल रही थी।

यह भी पढ़ें: भारत-नेपाल विवाद के बीच पंचेश्वर के पास APF ने शुरू की चौथी बॉर्डर ऑब्जर्वेशन पोस्ट

151 मॉडर्न पैसेंजर ट्रेनों के परिचालन के लिए निजी कंपनियों से मांगे आवेदन

रेलवे द्वारा हासिल की गई इस उपलब्धि के बारे में कहा जा रहा है कि रेलवे द्वारा निजी कंपनियों को यात्री ट्रेनें चलाने की अनुमति देने के बाद यह उपलब्धि मिली है। रेलवे ने 109 रूटों पर 151 मॉडर्न पैसेंजर ट्रेनों के परिचालन के लिए निजी कंपनियों से आवेदन मंगाए हैं। इस फैसले को लेकर रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कहा, ‘इससे लोगों को रोज़गार मिलेगा, यात्रा समय में कटौती होगी और यात्रियों को बढ़िया सुरक्षा व विश्व स्तरीय सुविधाएं भी मिलेंगी।’ फिलहाल, आईआरसीटीसी तीन ‘निजी’ ट्रेनों का संचालन कर रही है।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है