Covid-19 Update

4,23,697
मामले (हिमाचल)
33,880
मरीज ठीक हुए
685
मौत
9,556,881
मामले (भारत)
65,117,664
मामले (दुनिया)

AIIMS में कोरोना का नया रूप, चार बार Corona Negative आई फिर भी महिला के शरीर में मिली Antibodies

AIIMS में कोरोना का नया रूप, चार बार Corona Negative आई फिर भी महिला के शरीर में मिली Antibodies

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS) दिल्ली में कोरोना वायस का नया ही रूप सामने आया है। एम्स में भर्ती रहीं एक मरीज की रिपोर्ट चार बार कोरोना नेगेटिव आई और इसके बाद भी उसके शरीर में कोरोना वायरस के खिलाफ एंटीबॉडी मिली है। यह एंटीबॉडी (Antibodies) किसी इंसान के शरीर में तभी बन सकती है, जब वह कोरोना वायरस से संक्रमित हो। करीब पांच से सात दिन एंटीबॉडी बनने में समय लगता है। यही एंटीबॉडी मरीज के शरीर में संक्रमण के खिलाफ लड़ने का काम करती है।

ये भी पढे़ं – Himachal में चार साल की बच्ची सहित आज सामने आए Corona के नौ मामले, कांगड़ा में सबसे अधिक

 

जानकारी के अनुसार दिल्ली एम्स के जीरिएटिक विभाग में एक महिला मरीज कई दिन से भर्ती थीं। 80 वर्षीय बुजुर्ग महिला को डायबिटीज, हाइपरटेंशन के अलावा 15 दिन से कमजोरी की शिकायत थी। महिला में टीएलसी की संख्या कम हो रही थी।
डॉक्टरों ने संक्रमण संदिग्ध होने के चलते 12 दिन में चार बार आरटी-पीसीआर के जरिये कोरोना वायरस की जांच कराई लेकिन हैरानी की बात है कि एक भी जांच में संक्रमण की पुष्टि नहीं हो सकी। यह सभी जांच दिल्ली एम्स (AIIMS) की ही अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस प्रयोगशाला में की गई थीं। बार-बार रिपोर्ट नेगेटिव आने और मरीज में लक्षण एक जैसे ही बरकरार रहने के चलते डॉक्टर भी हैरान हो गए। हालांकि इसके बाद डॉक्टरों ने मरीज को संक्रमित मानते हुए ही उपचार किया और पांचवीं बार एंटीबॉडी की जांच की गई। इस जांच में मरीज के अंदर कोरोना वायरस की एंटीबॉडी पाई गई। हाल ही में यूके के वैज्ञानिकों ने जिस डेक्सामेथासोन दवा को कोविड उपचार में कारगर बताया था, उसे भारत में अनुमति मिलने के बाद महिला मरीज को एम्स के डॉक्टरों ने 10 दिन तक दी थी।

 

 

एम्स के डॉ. विजय गुर्जर ने बताया कि कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर अब तक अलग-अलग थ्योरी सामने आ रही हैं, लेकिन इसमें एक बात स्पष्ट हो चुकी है कि अगर किसी मरीज की रिपोर्ट नेगेटिव है तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह पॉजिटिव नहीं है। फिलहाल मरीज की सात जुलाई को रिपोर्ट नेगेटिव मिलने और हालत पहले से बेहतर होने के साथ-साथ लक्षण ना मिलने के चलते डिस्चार्ज कर दिया गया है। डॉ. विजय गुर्जर का कहना है कि स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन का भी राजीव गांधी सुपर स्पेशलिटी अस्पताल में नेगेटिव सैंपल आया था। अगले दिन वह पॉजिटिव मिले। वहीं दिल्ली पुलिस की शैली बंसल ने भी उपचार के दौरान दम तोड़ दिया था। उनमें कोरोना वायरस के लक्षण थे लेकिन रिपोर्ट नेगेटिव थी।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है