Covid-19 Update

38,327
मामले (हिमाचल)
28,993
मरीज ठीक हुए
602
मौत
9,325,786
मामले (भारत)
61,598,991
मामले (दुनिया)

GNM Courses नहीं होगा बंद, भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने खारिज किया प्रस्ताव

भारतीय नर्सिंग परिषद ने भारत सरकार को भेजा था तीन वर्षीय जीएनएम कोर्स को बंद करने का प्रस्ताव

GNM Courses नहीं होगा बंद, भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय ने खारिज किया प्रस्ताव

- Advertisement -

मंडी। देश और प्रदेश के विभिन्न नर्सिंग संस्थानों में चल रहे जीएनएम कोर्स (GNM Courses) बंद नहीं किए जाएंगे। यह निर्णय भारत सरकार (Indian Govt) के स्वास्थ्य मंत्रालय ने लिया है। भारतीय नर्सिंग परिषद ने भारत सरकार को तीन वर्षीय जीएनएम कोर्स को बंद करने का प्रस्ताव भेजा था। जिसको स्वास्थ्य मंत्रालय (Ministry of Health) ने खारिज कर दिया है और इसकी सूचना सभी प्रदेशों के मुख्य सचिवों को भी जारी कर दी गई है। इस निर्णय से लाखों छात्राओं को पहले की ही तरह तीन साल में स्टाफ नर्स बनने का मौका मिलता रहेगा।

यह भी पढ़ें: UCO Bank में निकली सिक्योरिटी ऑफिसर, इंजीनियर और CA समेत अन्य कई पदों पर वैकेंसी; जानें

बता दें कि भारतीय नर्सिंग परिषद (Nursing council of india) के भारत सरकार को भेजे प्रस्ताव के बाद प्रदेश में भी जीएनएम कोर्स को बंद करने की तैयारी चल रही थी। लेकिन भारत सरकार के इस निर्णय से अब स्थिति स्पष्ट हो चुकी है। इसके अनुसार अब यह कोर्स पहले की तरह सुचारु रहेगाए अन्यथा स्टाफ नर्स बनने के लिए छात्राओं को चार वर्षीय बीएससी नर्सिंग की ही डिग्री करनी पड़नी थी। कोरोना (Corona) काल में वर्तमान में स्वास्थ्य से संबंधित कोर्स में बच्चों की रुचि बढ़ी है और रोजगार के अवसर भी बढ़े हैं। स्वकार कॉलेज के प्रबंधक संचालक अतुल शर्मा ने सरकार के लिए गए इस निर्णय का स्वागत करते हुए कहा है कि वर्तमान सत्र के लिए 31 दिसंबर तक प्रवेश लिया जा सकता है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है