Covid-19 Update

41,229
मामले (हिमाचल)
32,309
मरीज ठीक हुए
656
मौत
9,499,710
मामले (भारत)
64,194,692
मामले (दुनिया)

Una: ट्रैक्टर और स्कूटी की भिड़ंत में दादी-पोते की मौत, बच्चे की मां घायल

Una: ट्रैक्टर और स्कूटी की भिड़ंत में दादी-पोते की मौत, बच्चे की मां घायल

- Advertisement -

ऊना। कस्बा मैहतपुर के पास चढ़तगढ़ गांव में पेश आए दर्दनाक सड़क हादसे (Road Accident) में दादी-पोते की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि इसी हादसे में एक महिला गंभीर रूप से घायल (Injured) हो गई है। मृतकों की पहचान पास के ही गांव उदयपुर निवासी 2 वर्षीय गुरसाहिब सिंह पुत्र बलजिंदर सिंह और उसकी दादी 47 वर्षीय मनजीत कौर पत्नी बलवीर सिंह के रूप में की गई है। जबकि इन्हें के परिवार की 27 वर्षीय राजेंद्र कौर पत्नी बलजिंदर सिंह हादसे में गंभीर रूप से घायल बताई गई है। हादसा स्कूटी और ट्रैक्टर की टक्कर होने के चलते पेश आया है। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए क्षेत्रीय अस्पताल ऊना भेज दिया है। वहीं घायल महिला को अस्पताल में उपचार दिलाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: कुमारसेन में Car accident: एक की गई जान, तीन घायल

 

घटना के संबंध में केस दर्ज करते हुए पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। मिली जानकारी के मुताबिक उदयपुर निवासी 47 वर्षीय मंजीत कौर अपनी बहू राजेंद्र कौर और पौत्र गुरसाहिब सिंह के साथ स्कूटी पर कहीं जा रहे थी। इसी दौरान चढ़तगढ़ में एक ट्रैक्टर के साथ उनकी स्कूटी जा टकराई। हादसे में स्कूटी चला रही रजिंदर कौर के साथ ही मनजीत कौर और गुरसाहिब सिंह गंभीर रूप से घायल हो गए। जिन्हें स्थानीय लोगों की मदद से फौरन क्षेत्रीय अस्पताल ऊना (Una Hospital) पहुंचाया गया। लेकिन अस्पताल में 47 वर्षीय मंजीत कौर और 2 साल के गुरसाहिब सिंह को मृत घोषित कर दिया। वहीं राजेंद्र कौर का उपचार जारी है। घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए कब्जे में ले लिया। जबकि हादसे के संबंध में केस दर्ज करते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है। एसपी ऊना अर्जित सेन ठाकुर ने बताया कि पुलिस घटना की जांच में जुटी है। हादसे के कारणों का पता लगाया जा रहा है। आगामी कार्रवाई अमल में लाई जा रही है।

 ये पढ़ेः Pathankot-Mandi NH पर 32 मील के निकट पुल के नीचे मिला शव

 

भदौड़ी में एक व्यक्ति की जहरीला पदार्थ निगला

थाना हरोली के तहत पड़ते गांव भदौड़ी में एक व्यक्ति की जहरीला पदार्थ (Poision) निगलने से मौत हो गई है। मृतक की पहचान भदौड़ी निवासी 40 वर्षीय मनोहर लाल के रूप में की गई है। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए क्षेत्रिय अस्पताल ऊना भेज दिया है। वहीं मामला दर्ज कर घटना की जांच शुरू कर दी गई है। मिली जानकारी के अनुसार भदौड़ी निवासी मनोहर लाल ने गलती से जहरीला पदार्थ निगल लिया। जिस कारण उसकी तबीयत बिगड़ गई। अचानक तबीयत बिगड़ती देख उसके परिजन उसे हरोली अस्पताल ले गए। जहां से डॉक्टरों ने उसे ऊना (Una) के लिए रेफर कर दिया। लेकिन क्षेत्रीय अस्पताल ऊना में उसकी मौत हो गई। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस टीम ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।

 

 

यह भी पढ़ें: Nahan jail के कैदी की मौत, पंजाब का था रहने वाला- कारण जानने को पढ़ें खबर

 

वहीं मृतक के परिजनों के बयान दर्ज करते हुए आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। मामले की पुष्टि करते हुए डीएसपी सृष्टि पांडे ने बताया कि गांव भदौड़ी निवासी 40 वर्षीय मनोहर लाल ने कोई जहरीला पदार्थ निगल लिया था, जिस कारण उसकी मौत हो गई है। उन्होने बताया कि पुलिस ने परिजनों के बयानों के आधार पर मामला दर्ज करते हुए आगामी कार्रवाई शुरू कर दी गई है।

मारपीट का मामला एसपी ऑफिस ऊना पहुंचा

उपमंडल बंगाणा के डोहक गांव में दो पक्षों के बीच हुई मारपीट का मामला एसपी ऑफिस ऊना तक पहुंच गया है। ग्रामीणों के एक प्रतिनिधिमंडल ने गांव के ही एक परिवार के खिलाफ एसपी ऊना को शिकायत सौंपी। इतना ही नहीं उन्होंने लंबे अरसे से चल रहे इस मामले में पुलिस पर भी पक्षपात करने के आरोप जड़े हैं। प्रतिनिधिमंडल ने एसपी अर्जित सेन ठाकुर को एक ज्ञापन भी सौंपा। जिला मुख्यालय पहुंचे ग्रामीणों में ललित कुमार, राहुल शर्मा, बलविंदर सिंह, राजेंद्र सिंह, विमला देवी, सृष्टा देवी, अर्चना, संगीता देवी, सुनंदा देवी और अनु कुमारी ने आरोप जड़ा कि उन्हीं के गांव का एक व्यक्ति और उसकी पत्नी एससी एसटी एक्ट का आधार बनाकर उन्हें प्रताड़ित कर रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें: #Una: बंगाणा में दो पक्षों में मारपीट, जातीसूचक शब्दों का भी हुआ प्रयोग, क्रॉस केस दर्ज

ग्रामीणों के खिलाफ झूठे मुकदमे दायर करवाए जा रहे हैं। लेकिन जब ग्रामीण पुलिस के पास अपनी शिकायत लेकर जाते हैं, तब भी पुलिस उसी परिवार का पक्ष ले रही है। उन्होंने आरोप जड़ा की बुधवार को भी पुलिस के अधिकारी इस मामले की जांच के लिए गांव पहुंचे थे। जबकि उस समय उन्हें गंगाना थाने में बिठा कर रखा गया था। ऐसे में पुलिस एक पक्ष की सुनवाई कर इस मामले की कैसी जांच अमल में ला रही है यह उनकी समझ से परे है। उन्होंने एसपी को ज्ञापन सौंपते हुए कहा कि वह मजबूरन जिला पुलिस अधीक्षक की शरण में आए हैं, ताकि उन्हें इंसाफ मिल सके। उधर एसपी ऊना अर्जित सेन ठाकुर ने कहा कि पुलिस घटना की जांच में जुटी है। मामले की जांच डीएसपी हेड क्वार्टर रमाकांत ठाकुर और डीएसपी अंब सृष्टि पांडे को सौंपी जाएगी।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है