Covid-19 Update

36,659
मामले (हिमाचल)
28,754
मरीज ठीक हुए
579
मौत
9,266,697
मामले (भारत)
60,719,949
मामले (दुनिया)

हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ की #Jai Ram सरकार को चेतावनी, स्वयंभू शिक्षक नेताओं को चेताया

जल्द मांगें पूरी नहीं करने पर संघ करेगा आंदोलन

हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ की #Jai Ram सरकार को चेतावनी, स्वयंभू शिक्षक नेताओं को चेताया

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ (HGTU) ने जयराम सरकार (#Jai Ram Govt) के कड़े शब्दों में चेतावनी देते हुए कहा कि अगर जल्द मांगें पूरी नहीं की गई तो आंदोलन किया जाएगा। इसकी सारी जिम्मेदारी प्रदेश सरकार की होगी। वहीं, स्वयंभू शिक्षक नेताओं को भी चेताया है। जिला मंडी (Mandi) के बल्ह घाटी में हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ की राज्यस्तरीय बैठक का आयोजन किया गया। इस बैठक में प्रदेशभर से लगभग 100 शिक्षक नेता उपस्थित रहे। जिला मंडी के डडोर में हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ की बैठक में शिक्षकों की लंबित पड़ी मांगों को पूरा करवाने के लिए रणनीति तैयार की गई। इसमें हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ के प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र चौहान ने बतौर मुख्यातिथि शिरकत की।
बैठक में शिक्षकों की समस्याओं और लंबे समय से पड़ी लंबित मांगों को लेकर चर्चा की गई तथा एक मांग पत्र तैयार कर सरकार को भेजा गया। बैठक में सरकार व शिक्षा विभाग (Education Department) द्वारा शिक्षकों के प्रति चल रही ढुलमुल नीति की कड़े शब्दों में निंदा की गई। साथ ही सरकार को संघ की ओर से अल्टीमेटम दिया गया कि यदि सरकार ने जल्द संघ की मांगों को पूरा नहीं किया तो प्रदेश में हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ आंदोलन करेगा, जिसकी जिम्मेदार स्वयं प्रदेश सरकार होगी।

यह भी पढ़ें: #Jai Ram का आग्रह: भानुपल्ली-बिलासपुर-लेह रेलवे लाइन को 100% Funding करे केंद्र सरकार

एचजीटीयू की बैठक में जहां एक और सरकार व शिक्षा विभाग की कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान लगाए गए, वहीं संघ की एकता को तोड़ने वाले स्वयंभू शिक्षक नेताओं पर भी जमकर प्रहार किए गए। इसके अलावा उन्होंने सरकार की कार्यप्रणाली पर भी प्रहार करते हुए कहा की शिक्षकों (Teachers) की मांगों को लेकर प्रदेश सरकार व शिक्षा विभाग उदासीन रवैया अपना हुए है, जोकि किसी भी कीमत पर सहन नहीं किया जाएगा। संघ के प्रदेशाध्यक्ष वीरेंद्र चौहान ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं को पिछले लंबे समय से सरकार के समक्ष यदि कोई संघ प्रभावी ढंग से उठाता आ रहा है तो वह केवल और केवल हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ है। उन्होंने कहा कि आज भी प्रदेश के शिक्षक हिमाचल राजकीय अध्यापक संघ पर ही विश्वास करते हैं और हजारों की तादाद में संघ के साथ अपनी इच्छा से जुड़े हुए हैं। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद कुछ स्वयंभू शिक्षक नेता संघ को तोड़ने का प्रयास कर रहे हैं और शिक्षकों में गलत भ्रांतियां फैला कर अपनी राजनीतिक रोटियां सेंकने में लगे हुए हैं। इस अवसर पर मुख्य संरक्षक अरुण गुलेरिया तथा जिला अध्यक्ष तिलक नायक सहित संघ के कई पदाधिकारियों वरिष्ठ सदस्य भी मौजूद रहे।

 

 

शांता कुमार बने राजकीय शारीरिक शिक्षा अध्यापक संघ के अध्यक्ष

कुल्लू। हिमाचल प्रदेश राजकीय शारीरिक शिक्षा अध्यापक संघ ने ब्वॉयज स्कूल ढालपुर के सभागार में नई कार्यकारिणी का गठन किया गया। इसमें राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कोटवा के शारीरिक शिक्षक शांता कुमार को अध्यक्ष पद की कमान सौंपी गई। उपाध्यक्ष के पद पर बुधराम, गिरधारी लाल शर्मा को सचिव व कृष्ण लाल को सह सचिव चुना गया। कोषाध्यक्ष महेंद्र राणा, प्रेस सचिव सुशील शर्मा, जिला प्रतिनिधि मनोहर लाल, गिरधारी लाल, रविंदर प्रकाश चंद, ओम प्रकाश व रविंद्र कुमार होंगे। नई कार्यकारिणी का गठन कर राजकीय अध्यापक संघ की विभिन्न समस्याओं को लेकर विचार-विमर्श किया। इस दौरान नवनियुक्त अध्यक्ष शांता कुमार ने बताया कि प्रदेश में सरकार शारीरिक शिक्षकों के खाली पदों को भरने के लिए लंबे समय से कोई प्रयास नहीं किए गए हैं। उन्होंने कहा कि ऐसे में राजकीय शारीरिक अध्यापक शिक्षक संघ सरकार से लंबे समय से शारीरिक शिक्षकों के खाली पदों को भरने मांग कर रहा है। ऐसे में सरकार व शिक्षा मंत्री के समक्ष खाली पदों को भरने की मांग फिर से की जाएगी।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है