एनएमसी बिल – 2019 के विरोध में उतरी हिमाचल मेडिकल ऑफिसर एसोसिएशन

महासचिव बोले, झोलाछाप डाक्टरों को बढ़ावा देने की कोशिश है ये

एनएमसी बिल – 2019 के विरोध में उतरी हिमाचल मेडिकल ऑफिसर एसोसिएशन

- Advertisement -

हमीरपुर। केंद्र सरकार के एनएमसी बिल – 2019 को लागू करने के विरोध में हिमाचल मेडिकल ऑफिसर एसोसिएशन ने आवाज बुलंद की है। एसोसिएशन ने इस बिल की निंदा करने के साथ इसे ड्रेकानियन बिल करार दिया है । एसोसिएशन का मानना है इस बिल के लागू होने से मेडिकल प्रोफेशन की भ्रूण हत्या होगी और स्वास्थ्य सुविधाओं पर विपरीत असर पड़ेगा एसोसिएशन के प्रदेश महासचिव डॉ. पुष्पेन्द्र वर्मा ने कहा कि सरकार इस बिल के माध्यम से झोलाछाप डाक्टरों को बढ़ावा देने की कोशिश कर रही है और एमबीबीएस की पढाई पूरी करने वाले डाक्टरों के हितों की अनदेखी की जा रही है ।



यह भी पढ़ें: नशेड़ी कार चालक ने हवा में ऐसे “उड़ाई”कार, पेड़ से टकराते हुए राहगीर को कुचला

 

प्रदेश महासचिव डा पुष्पेन्द्र वर्मा ने सरकार को घेरते हुए कहा कि सरकार के कथनी व करनी में अंतर है और एनएमसी बिल से डाक्टरों के हितों की अनदेखी होगी । उन्होंने आरोप लगाया कि एमसीआई को भंग कर नए एनएमसी आयोग का गठन पूरी तरह से अलोकतांत्रिक है । इस आयोग में 25 सदस्यों में 20 के नाम सरकार द्वारा भेजे जाएंगे, जिससे इसकी कार्यप्रणाली पर पहले ही प्रश्नचिन्ह लग जाएंगे। डॉ. पुष्पेन्द्र वर्मा ने कहा कि बिल के लागू होने के बाद मेडिकल शिक्षा का निजीकरण हो जाएगा और केवल 50 प्रतिशत छात्र ही सरकार सीटों पर दाखिला ले सकेंगे । उन्होने कहा कि बिल के कारण स्वास्थ्य सेवाओं पर भी असर पड़ेगा। उन्होंने सरकार से मांग करते हुए कहा कि सरकार डाक्टरों के रिक्त पदों को भरने के लिए कदम उठाए और पूरे देश में एक सामान वेतन पद्धति को लागू करें ।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

पुलिस हिरासत से भागा चिट्टा तस्कर दबोचा, दो पुलिस कर्मी सस्पेंड

शिक्षा बोर्ड भरेगा जेओए (आईटी) के यह तीन पद, कल से करें ऑनलाइन आवेदन

सत्ती का बड़ा आरोपः खनन के काम में लगे मुकेश के पीए, बहस की दी चुनौती

हिमाचल विधानसभा में अब सवालों के प्रतिवेदनों के कागजी दस्तावेज नहीं मिलेंगे !

मानसून सत्रः ग्रामीण विद्या उपासक व पैट वेतन विसंगति पर यह बोले शिक्षा मंत्री

डीसी से मिलीं पंचायत प्रधानः बोलीं-क्वार्टर आने को कह रहा अधिकारी, नहीं होने दे रहा काम

मानसून सत्रः एनपीएस और पेंशन बढ़ोतरी को लेकर सदन में क्या बोले जयराम-जानिए

राठौर बोले, चिदंबरम की गिरफ्तारी सोची-समझी राजनीतिक रणनीति

तीन घंटे की पूछताछ में चिदंबरम ने नहीं किया सहयोग, कोर्ट में पेशी कुछ देर में

लोगों ने भूखे-प्यासे रहकर बिताई रात, शाम तक बहाल हो पाएगा मनाली-लेह मार्ग

मानसून सत्र : पी चिदंबरम की गिरफ्तारी पर कांग्रेस ने किया वॉकआउट

जंगली मशरूम खाने से महिला की मौत, तीन पहुंचे अस्पताल

मणिमहेश यात्रा के रास्ते में भूस्खलन, कुरांह के पास यातायात ठप

ई-विधान की जानकारी लेने शिमला पहुंचे उड़ीसा के विधायक

कोहिनूर इमारत मामला : पूछताछ के लिए ईडी कार्यालय रवाना हुए राज ठाकरे

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है