Covid-19 Update

40,518
मामले (हिमाचल)
31,548
मरीज ठीक हुए
636
मौत
9,457,551
मामले (भारत)
63,286,254
मामले (दुनिया)

एसएमसी भर्ती के खिलाफ बेरोजगार संघ, शिक्षा मंत्री का मांगा इस्तीफा

एसएमसी भर्ती के खिलाफ बेरोजगार संघ, शिक्षा मंत्री का मांगा इस्तीफा

- Advertisement -

कांगड़ा। हिमाचल बेरोजगार संघ ने एसएमसी भर्ती (SMC recruitment) के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। संघ ने एसएमसी भर्ती को बैकडोर एंट्री करार दिया है। कहा कि अगर एसएमसी भर्ती नहीं रोकी गई तो हर जिले में आंदोलन छेड़ा जाएगा। साथ ही शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज (Education Minister Suresh Bhardwaj) से इस्तीफे की मांग की है। इसी को लेकर हिमाचल बेरोजगार संघ ने आज एसडीएम कांगड़ा जतिन लाल के माध्यम से पीएम नरेंद्र मोदी को ज्ञापन (Memorandum) भेजा।

यह भी पढ़ें: शिमला नागरिक सभा ने किया वकीलों के आंदोलन का समर्थन-कही यह बात

हिमाचल बेरोजगार संघ के पदाधिकारियों अध्यक्ष कुलदीप मनकोटिया, उपाध्यक्ष विजय सिंह, मुनीष कुमार, मनुज शर्मा, रोहित गुप्ता, विपन चंद, अश्वनी कुमार व राजीव कुमार आदि का कहना है कि एसएमसी भर्ती जो वर्तमान में सरकार बैकडोर से करने जा रही है इसमें बहुत कमियां हैं। एसएमसी कोई भर्ती करने वाला निकाय नहीं है। 10 नंबर पटवार सर्कल का दिया जाएगा। जिससे प्रदेश के सभी पात्र उम्मीदवारों को बराबरी का मौका नहीं मिलेगा।

जो संविधान के अनुच्छेद 309 का सरासर उल्लंघन है। बिना कमीशन बिना बैच भर्ती से रखे गए हजारों शिक्षकों (Teacher) के कारण शिक्षा की गुणवत्ता पहले की गर्त में जा चुकी है। शिक्षा मंत्री सुरेश भारद्वाज स्कूलों में चल रही अध्यापकों की कमी को पूरा करने में असफल साबित हुए हैं और एसएमसी की नीति को बढ़ावा देने में लगे हैं। उन्हें अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें… 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है