Covid-19 Update

37,497
मामले (हिमाचल)
28,993
मरीज ठीक हुए
589
मौत
9,291,068
मामले (भारत)
61,032,383
मामले (दुनिया)

एचआरटीसी पीस मील कर्मियों ने मुख्यालय घेराव और टूल डाउन हड़ताल को चेताया

एचआरटीसी पीस मील कर्मियों ने मुख्यालय घेराव और टूल डाउन हड़ताल को चेताया

- Advertisement -

सुंदरनगर/बिलासपुर। एचआरटीसी के पीस मील कर्मियों (HRTC Peace Mill personnel ) में प्रदेश सरकार के प्रति खासा रोष है। अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को सुंदरनगर और बिलासपुर (Sundernagar and Bilaspur) में पीस मील कर्मियों ने परिवहन विभाग और प्रदेश सरकार (Transport department and state government) के रवैये से नाराज होकर जमकर नारेबाजी की और धरना प्रदर्शन (Protest) किया। सुंदरनगर में काले बिल्ले लगाकर काम कर रहे पीस मील कर्मचारियों ने सरकार और विभाग को चेताया है कि अगर शीघ्र वार्ता के लिए नहीं बुलाया तो मजबूरन मुख्यालय निदेशक का घेराव और टूल डाउन हड़ताल (Tool Down Strike) का रास्ता अपनाना पड़ेगा। वहीं बिलासपुर में पिछले पांच दिनों से यह कर्मचारी अमरण अनशन पर बैठे हुए हैं।

यह भी पढ़ें:  मांगें न माने जाने पर भड़के एचआरटीसी पीस मील कर्मचारी, बोला हल्ला

 

यह भी पढ़ें: जयराम बोलेः हिमाचल में मल्टीमीडिया ‘लाइट शो’ आरंभ करने पर हो रहा विचार

एचआरटीसी तकनीकी कर्मचारी संगठन सुंदरनगर ने अपनी मांगों को लेकर मंगलवार को गेट मीटिंग करके रोष प्रकट किया। संगठन के प्रधान घनश्याम ठाकुर ने बताया कि अभी तक परिवहन प्रबंधन और प्रदेश सरकार ने पीस मील कर्मियों (piecemeal workers) को वार्ता के लिए नहीं बुलाया है। उन्होंने परिवहन प्रबंधन को चेताया कि अगर एक सप्ताह के अंदर उन्हें वार्ता के लिए नहीं बुलाया जाता तो मजबूरन मुख्यालय निदेशक का घेराव और टूल डाउन हड़ताल का रास्ता अपनाना पड़ेगा।

 

उन्होंने मांग की है कि सभी पीस मील कर्मचारियों को एक मुश्त अनुबंध में लाया जाए। प्रधान ने बताया कि भर्ती व पदोन्नति नियमों का संशोधन करने बारे में लंबे समय से निर्णय नहीं लिया गया है। हालांकि बहुत सारे पीस मील कर्मचारियों को 2017 से पहले अनुबंध पर लाया जा चुका है। उसके बाद अवधि पूरी कर चुके पीस मेल कर्मचारियों के बारे में अनिर्णय की स्थिति बनी हुई है। संगठन पिछले कई सालों से पीस मील वकर्स को अनुबंध के दायरे में लाने की मांग की जा रही है।

यह भी पढ़ें:  आठ साल की बच्ची से दुराचार के दोषी को 10 साल की कैद, 50 हजार जुर्माना


वहीं बिलासपुर में हिमाचल पथ परिवहन तकनीकी कर्मचारियों का आंदोलन पांचवें  दिन में प्रवेश कर गया। पीस मील वर्कर यूनियन के सचिव विश्न सिंह ने एचआरटीसी यूनियन (HRTC Union) ने  आरोप कि पीस मील वर्कर शांतिपूर्ण ढंग से अपनी मांगों को लेकर प्रदर्शन कर रहें हैं। लेकिन, दुःख की बात है कि इतना लंबा अरसा बीत जाने के उपरांत भी उनसे वार्ता करना एचएआरटीसी प्रबंधन या प्रशासन ने उचित नहीं समझा जोकि चिंता का विषय है। पीस मील वर्करों का भविष्य अंधकारमय है। सरकार को शीघ्र उनकी अधिकार पूर्ण मांगों को मनवाने के प्रति शीघ्र एचआरटीसी प्रबंधन पर दबाव बनाना चाहिए।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है