Covid-19 Update

42,161
मामले (हिमाचल)
33,604
मरीज ठीक हुए
676
मौत
9,534,964
मामले (भारत)
64,844,711
मामले (दुनिया)

महाराष्ट्र: दोबारा Salon खुलने पर सैलून मालिक ने ‘सोने की कैंची’ से काटे बाल

महाराष्ट्र: दोबारा Salon खुलने पर सैलून मालिक ने ‘सोने की कैंची’ से काटे बाल

- Advertisement -

नई दिल्ली। महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Govt) द्वारा सैलून और पार्लर को फिर से खोलने की अनुमति दिये जाने के बाद अपना उत्साह दिखाते हुए कोल्हापुर के एक सैलून मालिक ने लगभग तीन महीने बाद अपने पहले ग्राहक के बाल काटने के लिए ‘सोने की कैंचियों’ (Gold scissors) का इस्तेमाल किया। बतौर रिपोर्ट्स, सैलून-पार्लर को दोबारा खोलने की अनुमति दिए जाने के बाद कोल्हापुर के एक सैलून मालिक रामभाऊ संकपाल ने करीब 3 महीने बाद अपने पहले ग्राहक के बाल ‘सोने की कैंची’ से काटे। रामभाऊ के अनुसार, उन्होंने 10 तोले की सोने की एक जोड़ी कैंची खरीदी। रामभाऊ ने बारे में कहा कि उन्होंने सैलून (Salon) खुलने पर अपनी खुशी जताने के लिए ऐसा किया।

यह भी पढ़ें: NASA ने दिया Challenge, पूरा करने वाले को 26 लाख रुपए का इनाम

तीन महीने से अधिक समय से राज्य में सैलून व्यवसाय बुरी तरह से प्रभावित हुआ

बता दें कि ‘मिशन बिगिन अगेन’ के तहत सरकार ने राज्य में कोरोना वायरस पाबंदियों में कुछ ढील दी थी और कुछ नियमों का पालन करते हुए नाई की दुकानों, सैलून और ब्यूटी पार्लरों को 28 जून से खोलने की अनुमति दी थी। मार्च के आखिर में लगाये लॉकडाउन के बाद सरकार के इस निर्णय से इन दुकानों के कर्मचारियों और मालिकों को एक बड़ी राहत मिली है। रामभाऊ ने बताया कि लॉकडाउन के कारण तीन महीने से अधिक समय से राज्य में सैलून व्यवसाय बुरी तरह से प्रभावित हुआ है। सैलून मालिक और कर्मचारियों को वित्तीय मुश्किलों का सामना करना पड़ा है। उन्होंने कहा कि ऐसी कई घटनाएं है जहां नाई की कुछ दुकान के मालिकों ने अपने जीवन को समाप्त कर दिया क्योंकि वे वित्तीय संकट से बाहर नहीं निकल पाये थे। बतौर रामभाऊ, हम किसी तरह स्थिति से निपटने में कामयाब रहे। चूंकि राज्य सरकार ने अब सैलून को फिर से खोलने की अनुमति दी है, इसलिए मेरे साथी सैलून मालिकों के चेहरे पर खुशी है और मैंने इसे एक अनोखे तरीके से व्यक्त करने का फैसला किया।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है