ऐतिहासिक फैसला: विवाहित बेटी भी पा सकेगी मृतक आश्रित कोटे में नौकरी

कोर्ट ने कहा- वह भी मृत कोटे में नौकरी पाने की अधिकारी है

ऐतिहासिक फैसला: विवाहित बेटी भी पा सकेगी मृतक आश्रित कोटे में नौकरी

- Advertisement -

नैनीताल। नैनीताल हाईकोर्ट (Nainital High Court) ने एक ऐतिहासिक फैसला किया है। कोर्ट ने मृतक आश्रित कोटे (Dead dependent quota) में शामिल विवाहित बेटियों (Married daughters) को सरकारी नौकरी (Government Job) दिए जाने के मामले में विवाहित बेटी को परिवार का सदस्य माना है। कोर्ट ने कहा है कि वह भी मृत आश्रित कोटे में नौकरी पाने की अधिकारी है। बुधवार को मुख्य जस्टिस रमेश रंगनाथन, जस्टिस लोकपाल सिंह और जस्टिस आरसी खुल्बे की फुल बेंच के समक्ष मामले की सुनवाई हुई।


यह भी पढ़ें: पत्नी के बैंक अकाउंट की ये गलती पड़ सकती है आप पर भारी, लगेगा जुर्माना

याचिका में उन्होंने कहा था कि उनके पिता ने सेवाकाल के दौरान ही उनकी शादी कर दी थी। शादी के कुछ समय बाद ही पिता की आकस्मिक मौत हो गई। उनके परिवार में पिता के अलावा कोई भी वरिष्ठ व्यक्ति कमाई करने वाला नहीं है जिस कारण उनके परिजनों की सही से देखभाल नहीं हो पा रही है। याचिकाकर्ता ने मृत आश्रित कोटे की नौकरी उनको दिए जाने के लिए हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी। इसके बाद हाईकोर्ट की एकलपीठ ने सरकार को आदेश दिए थे कि विवाहित बेटियों को भी सरकारी नौकरियों में परिवार की देखभाल के लिए मृतक आश्रित कोटे की नौकरी दी जाए।

यह भी पढ़ें: 73 हजार रुपए तक महंगी हो जाएंगी महिंद्रा की गाड़ियां, जानें वजह

इसके खिलाफ सरकार ने विशेष अपील दायर की थी। एकलपीठ के इस आदेश को मुख्य न्यायधीश ने सुनवाई के लिए लार्जर बेंच को रेफर कर दिया था। जिसमें कहा गया था कि विवाहित बेटियों को सरकारी नौकरी दी जाए या नही। पूर्व में लार्जर बेंच ने सुनवाई के बाद निर्णय को सुरक्षित रख लिया था। उस वक्त कोर्ट ने पूछा था कि क्या विवाहित पुत्री परिवार का सदस्य है और क्या वे मृतक आश्रित कोटे से सरकारी नौकरी पाने की हकदार है या नहीं। अब दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद हाईकोर्ट की लार्जर बेंच ने मृतक आश्रित कोटे में शामिल विवाहित पुत्रियों को सरकारी नौकरी दिए जाने के मामले में विवाहित बेटी को परिवार का सदस्य मानते हुए कहा है सरकारी नौकरी का हकदार बताया है।


हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मौसम: भारी बारिश लगी रंग दिखाने, कहीं पेड़ गिरे तो कहीं मकान- दुकानों में भी घुसा पानी

बिग ब्रेकिंगः हिमाचल में अफसरशाही की फेंट के साथ ट्रांसफर पर लगी रोक

भागसूनागः लैंडस्लाइड में गंभीर घायल 8 माह की बच्ची की टांडा में मौत

यहां भरे जाएंगे कॉलेज प्रवक्ता और शास्त्री अध्यापकों के 10 पद, जाने क्या है योग्यता

जमीनी विवाद को लेकर भिड़े दो गुट, एक का फूटा सिर-आधा दर्जन घायल

हादसेः सोलन में जीप तो हमीरपुर में गिरा ट्रक, एक की मौत-दो घायल

दिल्ली कांग्रेस अध्यक्ष शीला दीक्षित का निधन, राहुल बोले- खबर से टूट गया हूं

सत्ती बोलेः घर पर बैठी हुई थीं इंदु, हमने बनाया महिला मोर्चा की प्रदेशाध्यक्ष

विवादों के बीच शिमला में जयराम से मिले ध्वाला, क्या हुई बात-जानिए

शिक्षा बोर्ड ने एसओएस परीक्षाओं के लिए पंजीकरण तिथियों का किया ऐलान

कार से उतरते ही टाटा सूमो से टकराई 4 साल की मासूम, मौत

हिमाचल-हरियाणा समेत चार राज्यों में डोली धरती, जानें कितनी थी तीव्रता

छात्रा को मैसेज कर करता था परेशान, परिजनों ने कॉलेज पहुंचकर की धुनाई

यूपी में राम नाईक की जगह "इस बड़े नाम वाली महिला" को बनाया गया राज्यपाल

कांग्रेस कार्यालय से चंद कदम पर "प्रियंका मसले" पर प्रदर्शन,मोदी-योगी सरकार के खिलाफ नारेबाजी

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है