बीजेपी मंत्री के सामने खनन कारोबारियों ने चौकी इंजार्च को पीटा, 100 के खिलाफ मामला दर्ज

चौकी इंचार्ज ने अपने ऑफिस का दरवाजा बंद कर बचाई जान

बीजेपी मंत्री के सामने खनन कारोबारियों ने चौकी इंजार्च को पीटा, 100 के खिलाफ मामला दर्ज

- Advertisement -

नई दिल्ली। चुनाव सिर पर है और आचार संहिता लागू हो चुकी है लेकिन सत्ता में विराजित शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय (Education Minister Arvind Pandey) ने अपनी हनक में सारे नियम कायदों को ताक पर रख दिया। बताया गया कि मंत्री की मौजूदगी में खनन कारोबारियों (Mining traders) ने कुंडेश्वरी पुलिस चौकी इंचार्ज (Police checkpoint incharge) पीट दिया। इस दौरान वे इतने उग्र हो गए थे कि चौकी इंचार्ज ने अपने ऑफिस में जाकर अंदर से दरवाजा बंद कर अपनी जान बचाई। जिसके बाद सीओ और कोतवाल द्वारा मामला शांत कराने के बाद वो अपने कमरे से बाहर निकल सके।


आचार संहिता लगी होने के बावजूद 150 से अधिक क्रशर स्वामियों और खनन कारोबारियों ने कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडेय के नेतृत्व में चौकी घेर ली। जिसके कारण पुलिस ने शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय समेत 20 लोगों के खिलाफ नामजद, जबकि 100-125 अन्य के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। जिसमें से 4 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

यह भी पढ़ें: JNU वाइस चांसलर के घर पर छात्रों ने किया हमला, पत्नी को बंधक बनाकर दरवाजा तोड़ा, देखें वीडियो

वहीं मारपीट करने वाले खनन कारोबारियों का कहना है कि चौकी इंचार्ज क्षेत्र में अपनी तानाशाही कर रहा है। मनमाने तरीके से अंडरलोड वाहन भी सीज किए जा रहे हैं। किसी को भी पकड़कर पीटा जा रहा है। इसके बाद खनन कारोबारी ने मंगलवार को कुंडेश्वरी स्थित हाइडिल पर मीटिंग कर रोष जताया। जहां शिक्षा मंत्री अरविंद पांडेय के साथ सभी खनन कारोबारी पैदल कुंडेश्वरी पुलिस चौकी पहुंचे। जहां पर मंत्री की मौजूदगी में कारोबारियों ने शिक्षा मंत्री के संरक्षण में चौकी इंचार्ज को न केवल गाली-गलौज की। बल्कि भीड़ ने हाथापाई तक कर दी। बता दें कि मंत्री अरविंद पांडेय उत्तराखंड के शिक्षा मंत्री हैं। बताया गया कि अवैध वसूली होने पर एसएसपी बरिंदरजीत सिंह ने कुंडेश्वरी पुलिस चौकी को लाइन हाजिर कर दिया था। जिसके बाद अर्जुन गिरी गोस्वामी को चौकी इंचार्ज बनाया गया था।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है