प्रदेश में मानसून की दस्तक : बारालाचा की पहाड़ियों पर बर्फबारी, तेज बारिश से सड़कें बनीं तालाब

झमाझम बारिश से बढ़ा नदी-नालो का जलस्तर

प्रदेश में मानसून की दस्तक : बारालाचा की पहाड़ियों पर बर्फबारी, तेज बारिश से सड़कें बनीं तालाब

- Advertisement -

अभी अभी टीम। प्रदेशभर में शनिवार सुबह तेज बारिश ने विभिन्न जिलों में जनजीवन प्रभावित किया। हालांकि बारिश के चलते गर्मी से काफी राहत मिली है और तापमान (Temperature) में भी गिरावट दर्ज की गई है। वहीं, बारालाचा की पहाड़ियों पर बर्फबारी से लाहुल-स्‍पीति जिला (Lahul-spiti district) में मौसम ठंडा हो गया है। रोहतांग दर्रे पर भी बर्फ के फाहे गिरे हैं, इस कारण पर्यटन नगरी मनाली में भी मौसम सुहावना हो गया है। निचले इलाकों में तेज बारिश के कारण सड़कों पर पानी जमा हो गया, इस कारण लोगों को आवाजाही परेशानी का सामना करना पड़ा। कांगड़ा बाजार और बस अड्डे के पास पानी भरने से लोगों को काफी परेशानी हुई। वहीं, जिला मंडी के जोगेंद्रनगर में भी सड़कें तालाब बन गईं। कई जगह करीब दो फीट तक पानी सड़कों पर जमा हो गया। नदी नालों का जलस्‍तर भी बढ़ गया है।


यह भी पढ़ें :-चेतावनीः हिमाचल के इन जिलों में आज हो सकती है भारी बारिश

शनिवार सुबह सबसे अधिक वर्षा जिला शिमला के सराहन में 115 मिलीमीटर, बिलासपुर के श्री नयना देवी में 82 मिलीमीटर दर्ज की गई है। मौसम विभाग (weather department) ने वर्षा का यह क्रम पूरे प्रदेश में जारी रहने की संभावना जताई है। मौसम विभाग ने 18 जुलाई तक बारिश का क्रम जारी रहने और तापमान में गिरावट आने की संभावना जताई है। चंबा, कांगड़ा, सोलन, शिमला और सिरमौर में 14 जुलाई को भारी बारिश होने की चेतावनी जारी की गई है। वहीं 15 जुलाई को ऊना, कांगड़ा, शिमला और सोलन में भारी वर्षा के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। मौसम विभाग ने इन जिलों में भारी बारिश के दौरान सचेत रहने के निर्देश जारी किए हैं।

बारिश में खिले किसानों-बागवानों के चेहरे

कुल्लू जिला में बारिश से किसानों-बागवानों की फसलों को फायदा मिल रही है। टमाटर, गोभी, बैंगन, मिर्च सहित अन्य नकदी फसलों को बारिश से लाभ मिल रहा है। बारिश से घाटी के प्राकृतिक जलस्त्रोतों को भी संजीवनी मिली है और कई ग्रामीण क्षेत्रों में पानी की किल्लत (Water shortage) को पूरा करने के लिए बरसात किसी वरदान से कम नहीं है। कई क्षेत्रों में मवेशियों को पानी पिलाने के लिए समस्याओं का सामना करना पड़ रहा था।

डीसी कुल्लू ऋचा वर्मा ने आगामी दिनों भारी बारिश की चेतावनी को देखते हुए लोगों से आग्रह किया गया है कि वो नदी-नालों के आसपास ना जाए और बरसात के दिनों में सफर भी दिन के समय करें ताकि बारिश से लैंडस्लाइड का खतरा है और कई क्षेत्रों में पहाड़ियों से पत्थर गिरने की घटनाएं हो रही हैं। इस दौरान वाहन चालक सावधानी के साथ सफर करें। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के लोग किसी भी आपदा के लिए 1077 पर संपर्क करें और जिससे प्रशासन की सहायता समय पर पहुंचे।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

जवाली और फतेहपुर के बीयर बार में एक्साइज विभाग की दबिश, रिकॉर्ड जब्त

कांगड़ा सहित 5 जिलों में येलो अलर्ट जारी, भारी बारिश और बर्फबारी की संभावना

जयराम सरकार ने बदले जवाली और धीरा के एसडीएम, इन्हें दी तैनाती

अनुराग की जयराम सरकार को सलाह-सड़कों की दशा सुधारों, फिर आएगा निवेश

हाईकोर्ट के कड़े रुख के बाद हिमाचल में मानवाधिकार आयोग का होगा गठन

बुजुर्ग महिला क्रूरता मामलाः हत्या के प्रयास का मामला हो दर्ज

आर्मी जवान के खाते से निकाले एक लाख 40 हजार रुपए, धोखाधड़ी का केस

बुजुर्ग से अमानवीय घटना दर्शाती है, सत्ता की चाबी कमजोर हाथों में, ये बोली कांग्रेस की रजनी

विक्रमादित्य शिमला को लेकर करने जा रहे हैं ऑनलाइन सिग्नेचर कैंपेन, क्यों मांगा योगदान पढ़ें

वीरभद्र सिंह के आईजीएमसी में डायलिसिस के साथ अन्य चेकअप, वापस हॉली लॉज लौटे

बर्थडे का केक लेकर बाइक पर जा रहे थे, सड़क हादसे में भाई की मौत, बहन गंभीर

रमेश राणा को बीजेपी संगठनात्मक जिला नूरपुर की कमान

नशे पर लगाम लगाने को ऊना प्रशासन शुरू करेगा अभियान, लोगों से मांगा सहयोग

एलआईसी पॉलिसी के नाम पर धोखाधड़ी, इस तरह के फोन कॉल से रहें सावधान

बुजुर्ग महिला से क्रूरता: माता-पिता के साथ 8 माह का मासूम भी पहुंचा जेल

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है