Covid-19 Update

281
मामले (हिमाचल)
77
मरीज ठीक हुए
05
मौत
1,58,333
मामले (भारत)
57,46,086
मामले (दुनिया)

Prashar Lake पर भी पड़ा लॉकडाउन का असर, अब तेज गति से घूम रहा भूखंड

वर्ष में एक या दो बार ही गतिमान होता था यह भूखंड

Prashar Lake पर भी पड़ा लॉकडाउन का असर, अब तेज गति से घूम रहा भूखंड

- Advertisement -

मंडी। पूरे विश्व में कोरोना वायरस के कारण जहां-जहां लॉकडाउन किया गया है वहां-वहां इसके कई सकारात्मक परिणाम भी देखने को मिल रहे हैं। हिमाचल प्रदेश के मंडी जिला (Mandi District) की बात करें तो हाल ही में रिवालसर की प्राचीन झील साफ होती हुई नजर आई और अब पराशर झील (Prashar Lake) के बीच का भूखंड धीमी से तेज गति की तरफ बढ़ता हुआ नजर आ रहा है। मंडी जिला मुख्यालय से करीब 50 किमी दूर स्थित इस झील को पराशर झील के नाम से जाना जाता है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार यह ऋषि पराशर की तपोस्थली रही है और यहां पर उनका भव्य प्राचीन मंदिर भी मौजूद है। इस झील के बीच में एक भूखंड है जो तैरता रहता है। लेकिन बीते कुछ दशकों से यह देखने में आ रहा था कि भूखंड के तैरने की गति काफी धीमी हो गई थी। वर्ष में एक या फिर दो बार ही यह भूखंड तैरता हुआ अपना स्थान बदलता था। लेकिन अब लॉकडाउन (lockdown) के बाद इस भूखंड की गति काफी ज्यादा बढ़ गई है।


यह भी पढ़ें: Big Breaking : हिमाचल को कोरोना का डंक, कांगड़ा में 6 नए Positive, एक ही दिन में 11 का आंकड़ा

मंदिर कमेटी के सदस्य और पुजारी मान रहे चमत्कारिक घटना

पराशर ऋषि मंदिर के मुख्य पुजारी अमर सिंह ठाकुर की मानें तो यह भूखंड दिन में दो से तीन बार पूरी झील का चक्कर लगा रहा है। हमने भी यह जानने के लिए दो बार अलग-अलग यहां का दौरा किया। हमने पाया कि पहली बार हमें जहां यह टापू दिखाई दिया था अगली बार यह दूसरे स्थान पर था। मात्र कुछ दिनों के अंतराल में हमें इसकी स्थिति में बदलाव नजर आया जबकि यह वर्ष में एक या दो बार ही गतिमान होता था। हालांकि लॉकडाउन के चलते अधिकतर लोग इस चमत्कार (Miracle) को देखने वहां नहीं पहुंच पा रहे हैं। यही कारण भी माना जा रहा है कि लोगों का यहां हस्तक्षेप कम होने के कारण ही यह भूखंड अधिक गतिमान हो गया है। मंदिर के पुजारी अमर सिंह भी इस बात से इत्तेफाक रखते हैं कि लोगों का हस्तक्षेप कम होने से ही यह संभव हो पाया है। पराशर ऋषि मंदिर के आसपास रहने वाले भी इस चमत्कार को देखकर हैरान हैं। स्थानीय निवासी मनोज कुमार और हरी सिंह ने बताया कि उन्होंने अपने जीवन काल में इसे इतना गतिमान इससे पहले कभी नहीं देखा। भूखंड का अधिक गतिमान होना और इसे देखना एक अलग अहसास है।

यह भी पढ़ें: कोरोना का खौफः मंडी में SP Office से लेकर थानों तक SOP लागू

वन विभाग का कहना- प्राकृतिक रूप से हो रहा यह बदलाव

वहीं, अगर वन विभाग की मानें तो विभाग भी यही मान रहा है कि लॉक डाउन के कारण पर्यावरण में जो बदलाव हुआ है उसके कई सकारात्मक परिणाम सामने आए हैं। डीएफओ मंडी एसएस कश्यप की मानें तो अर्थ और मून की ग्रेविटी के आधार पर ये संभव है। उनका कहना है कि आजकल वायोटिक कंपोनैंट कम हुए हैं जिससे बहुत सारे बदलाव हमने इन दिनों में देखे हैं। जहां मानवीय दखल ज्यादा बढ़ गया था वहां अब नेचर में भी कई बदलाव आए हैं। ये पर्यावरण के लिए अच्छे संकेत हैं। पराशर ऋषि की तपोस्थली में लॉकडाउन के कारण अचंभित करने वाली घटना घटी है उसके बारे में जानकर हर कोई खुश है। सभी यही दुआ कर रहे हैं कि यह भूखंड इसी तरह से गतिमान रहे और इलाके में खुशहाली बनी रहे।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Corona Update: हिमाचल में आज आठ नए मामले, 7 मरीज हुए ठीक

कोरोना ब्रेकिंगः Kangra और मंडी में पांच नए मामले आए सामने, दो मरीज हुए ठीक

Himachal में बल्क ड्रग पार्क को भूमि शर्त में मिले छूट, पूरे देश में लागू होगी एक बीघा योजना

बड़ी खबरः हिमाचल में अलर्ट- कांगड़ा, ऊना, बिलासपुर और सोलन जिलों में High Alert- जानिए क्यों

Kullu में युवक की मौत मामले में बिजली बोर्ड के JE सहित 3 लाइनमैन गिरफ्तार

Himachal में घरेलू फ्लाइट-ट्रेनों में आवाजाही को SOP जारी, क्या होगा जरूरी-क्या नहीं-जानिए

ब्रेकिंगः Himachal में कितना बढ़ेगा बस किराया, 1 जून से चलेंगी निजी बसें या नहीं-जानिए

बदला मौसमः कोटखाई, जुब्बल, चौपाल में Hailstorm, सेब व चेरी की फसल तबाह

हमीरपुर की Corona लापरवाही को सरकार की नालायकी बताकर Rathore ने जड़े धड़ाधड़ आरोप

Shimla : सड़क से फिसलकर नाले में जा गिरी Car, चालक की गई जान

15 कोरोना Positive को Negative बताकर भेजा घर, जांच के आदेश-सरकार ने तलब की रिपोर्ट

Viral Audio Case: निलंबित Health Director डॉ. गुप्ता को Court से नहीं मिली राहत

वीरभद्र बोले, Bindal का इस्तीफा BJP की अंतर्कलह से ध्यान हटाने मात्र का एक असफ़ल प्रयास

पहली बार Plane में बैठकर घर पहुंचे 177 प्रवासी मजदूर, Mumbai से Ranchi उतरी फ्लाइट

Breaking: कोरोना संक्रमण ने सुबह-सवेरे Himachal को लपेटा, सोलन में 3 मामले पॉजिटिव

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

लाॅकडाउन के बीच Employment का मौका, Himachal में एक कंपनी भरने जा रही है 800 से ज्यादा पद

CBSE: 15,000 से अधिक सेंटरों में आयोजित होंगी 10वीं-12वीं की बची हुई परीक्षाएं, जानिए डिटेल

ICSE की 10वीं और ISC की 12वीं की बची हुई परीक्षाएं 1 जुलाई से 14 जुलाई तक

CBSE: अपने ही स्कूलों में बचे हुए सब्जेक्ट्स के Exam देंगे छात्र; जानें कब आएगा रिजल्ट

D.EL.ED CET- 2020 की तिथि घोषित, 21 मई से करें ऑनलाइन आवेदन

सरकार के आदेशों का कड़ाई से पालन करें Private School वरना होगी कड़ी कार्रवाई

CBSE: 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं में स्‍टूडेंट्स को पहनना होगा Mask; जानिए नए निर्देश

CBSE ने जारी की 10वीं-12वीं की Pending Exams की डेटशीट, जाने कब शुरू होंगे पेपर

12वीं Geography, कंप्यूटर साइंस और वोकेशनल परीक्षा को लेकर Board का बड़ा फैसला-जानिए

अर्धवार्षिक व प्री बोर्ड परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर मिलेंगे Practical के अंक

Himachal के सरकारी स्कूलों में 31 मई तक छुट्टियां, आदेश जारी

Corona से बचावः स्कूल शिक्षा बोर्ड ने की "नमस्ते भारत" अभियान की शुरुआत

Himachal में खुल सकते हैं 20 से कम छात्र संख्या वाले School, क्या बोले शिक्षा मंत्री-जानिए

Answer Sheets को केंद्र से ले जाने और जमा करवाने के लिए मिलेगा वाहन भत्ता

अभी घोषित की जा सकती हैं Colleges में जून की छुट्टियां, क्या बोले शिक्षा मंत्री-जानिए


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है