Covid-19 Update

38,327
मामले (हिमाचल)
28,993
मरीज ठीक हुए
602
मौत
9,325,786
मामले (भारत)
61,598,991
मामले (दुनिया)

राज्यपाल सचिवालय में बेलदार के चपरासी के पद पर प्लेसमेंट के आदेश निरस्त

राज्यपाल सचिवालय में बेलदार के चपरासी के पद पर प्लेसमेंट के आदेश निरस्त

- Advertisement -

शिमला। हाईकोर्ट (High Court) ने राज्यपाल सचिवालय (Governor’s Secretariat) में मनमाने तरीके से चपरासी के पद पर प्लेसमेंट (Placement) दिए जाने वाले आदेशों को निरस्त कर दिया। न्यायाधीश तरलोक सिंह चौहान ने अपने निर्णय में यह स्पष्ट किया कि प्रार्थी जोकि नवंबर 1993 में बेलदार के पद पर दैनिक भोगी के तौर पर नियुक्त किया गया था को 10 वर्ष बाद अक्टूबर 2003 में नियमित किया गया। जबकि निजी तौर पर प्रतिवादी बनाई रेखा को 1 दिसंबर 2009 को बेलदार के पद पर अनुबंध के आधार पर नियुक्ति दी गई, उसे मात्र 1 साल के बाद रेगुलर भी कर दिया गया। यही नहीं 23 जनवरी, 2015 को बेलदारों की वरिष्ठता को नजरअंदाज करते हुए उसे चपरासी के पद पर प्लेसमेंट दे दी गई।

राजभवन द्वारा दायर किए गए अनुपूरक शपथ पत्र के अनुसार प्रतिवादी रेखा को 1 वर्ष के पश्चात राज्यपाल के आदेशानुसार नियमित किया गया और उसे राज्यपाल के आदेशों से ही चपरासी (Peon) के पद पर प्लेसमेंट दी गई। जवाब शपथ पत्र के अनुसार राज्यपाल स्टाफ के मामले में स्वेच्छ निर्णय लेने की शक्ति रखता है। प्रदेश हाईकोर्ट ने अपने निर्णय में यह स्पष्ट किया कि न्यायालय जवाब शपथ पत्र के साथ दायर किए गए नियमों से अनजान नहीं है, जिसमें कि गवर्नर को स्वेच्छ निर्णय लेने की शक्ति का उल्लेख किया गया है। परंतु यह शक्ति कानून के विपरीत नहीं होनी चाहिए।

न्यायालय ने यह भी स्पष्ट किया कि स्वेच्छ निर्णय लेने वाली शक्तियों का इस्तेमाल बिना किसी दुर्भावना के किया जाना चाहिए। यह कतई भी संदेश नहीं जाना चाहिए कि स्वेच्छ निर्णय लिए जाने वाली शक्तियों का इस्तेमाल मात्र किसी को फायदा पहुंचाने के इरादे से किया गया। कोर्ट ने कहा कि राज्य सरकार जहां नौकरी देने, अनुबंधों में प्रवेश देने, कोटा या लाइसेंस जारी करने या अन्य प्रकार के अनुदान देने जैसे सार्वजानिक हित के कार्य करती है, वहां सरकार मनमाने तरीके से कार्य नहीं कर सकती। राज्य सरकार की शक्ति या विवेक तर्कसंगत, प्रासंगिक और गैर-भेदभावपूर्ण मानको पर आधारित होना चाहिए।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है