हिमाचल में भूकंप मेगा-मॉक ड्रिल, खराब मौसम के कारण नहीं उड़ सका हेलीकॉप्टर

अभ्यास में 2650 अधिकारियों के साथ 32 गैर सरकारी संगठनों के 833 स्वयं सेवकां ने भाग लिया

हिमाचल में भूकंप मेगा-मॉक ड्रिल, खराब मौसम के कारण नहीं उड़ सका हेलीकॉप्टर

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल प्रदेश राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ( HPSDMA) ने आज राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (NDMA) के सहयोग से भूकंप मेगा-मॉक का अभ्यास किया, जिसमें प्रदेश के सभी 12 जिलों ने भाग लिया। इस अभ्यास के लिए यह परिदृश्य बनाया गया कि प्रदेश में रात के समय रिक्टर पैमाने पर 8 मैग्निट्यूड का भूकंप आया है, जिसका केंद्र मंडी जिला का सुंदरनगर होगा।


यह भी पढ़ें: मंडीः ढाबे में चलाता था नशे का अवैध कारोबार, चढ़ा पुलिस के हत्थे

प्रधान सचिव राजस्व एवं आपदा प्रबंधन ओंकार शर्मा ने कहा कि भूकंप को इसलिए चुना गया, क्योंकि राज्य भूकंप (Earthquake) के जोन चार और जोन पांच के अंतर्गत आता है तथा इस कारण राज्य के लिए यह प्रमुख खतरा है। उन्होंने कहा कि इस परिदृश्य का विकास एनडीएमए, आईआईटी मुंबई और मद्रास के तकनीकी सहयोग से किया गया। उन्होंने कहा कि भूकंप के कारण अन्य कई दूसरी आपदाएं जैसे भू-स्खलन, भवनों एवं पुलों का गिरना, आग, बांध विफलता और चट्टानों का गिरना आदि हो सकती हैं।

उन्होंने कहा कि इस अभ्यास के दृष्टिगत 3 जुलाई को मुख्य सचिव बीके अग्रवाल की अध्यक्षता में अनुकूलन सहयोग सम्मेलन आयोजित किया गया था। उन्होंने कहा कि 10 जुलाई को टेबल टॉप अभ्यास आयोजित किया गया था, जिसमें राज्य, जिला, सेना, वायुसेना, एनडीआरएफ (NDRF), आईटीबीपी (ITBP), बीआरओ (BRO), सीआईएसएफ (CISF) और एसएसबी (SSB) के लगभग 460 अधिकारियों ने भाग लिया। आज मॉक अभ्यास प्रातः साढ़े 8 बजे ट्रिगर किया गया और राज्य एवं जिला आपातकाल अभियान केंद्रों (ईओसीज) को तुरन्त सक्रिय किया गया और इंसिडेंट रिसपॉन्स टीमें (आईआरटी) अपने-अपने ईओसीज पर पहुंची।

यह भी पढ़ें: चेतावनीः हिमाचल के इन जिलों में आज हो सकती है भारी बारिश

ओंकार शर्मा ने कहा कि जिलावार परिस्थितियां एसडीएमए द्वारा दी गई और जिलों को 112 घटना स्थल दिए गए थे और इस अभ्यास में 2650 अधिकारियों के साथ 32 गैर सरकारी संगठनों के 833 स्वयं सेवकां ने भाग लिया। उन्होंने कहा कि इस अभ्यास के दौरान आए काल्पनिक भूकंप (Earthquake) में मोबाइल एवं लैंड-लाइन सुविधा बाधित होने की स्थिति को मानते हुए आज 836 वायरलैस सेट और 62 आई-सेट फोन प्रयोग में लाए गए। उन्होंने कहा कि अभ्यास के दौरान विभिन्न गतिविधियां जैसे बचाव एवं राहत, प्रभावितों को परिवहन सुविधा, राहत शिविरों का प्रबंध, यातायात नियंतरण, कानून व्यवस्था, मॉक संदेशों के रूप में एसईओसी को स्थिति की जानकारी, राज्य मुख्यालय से आवश्यक सहायता के संबंध में प्रोजेक्शन, हवाई अड्डों और चिन्हित हैलीबेसिज़ का एक्टिवेशन, क्षति एवं हानि मूल्यांकन प्रक्रिया की कार्रवाई की गई।


उन्होंने कहा कि मेगा मॉक अभ्यास का उद्देश्य राज्य, जिला और आपदा प्रबंधन विभाग की योजनाओं की प्रतिक्रिया योजना की दक्षता व समीक्षा करना है, ताकि इससे आपातकाल प्रतिक्रिया योजना और जिले की संचालन प्रक्रियाओं का मूल्यांकन किया जा सके और हिस्सेदारों की जिम्मेदारे व कर्तव्य को उजागर किया जा सके, ताकि हिस्सेदारों के मध्य समन्वय को बढ़ावा दिया जा सके और आम जनता में जागरुकता लाई जा सके और कमजोरियों को चिन्हित किया जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य में संचार प्रणाली को सुदृढ़ करने के लिए पुलिस और एसडीएमए ने 62 आई-सैट फोन खरीदे है तथा लाहुल-स्पीति को 8 अधिक आई-सैट फोन शीघ्र ही उपलब्ध करवाए जाएंगे। इसके अतिरिक्त पुलिस विभाग के लिए 75 वी-सैट फोन स्वीकृत किए गए है।

उन्होंने कहा कि इस अभ्यास के दौरान हेलीकॉप्टर उड़ान भरने के लिए तैयार था, लेकिन खराब मौसम के चलते नहीं उड़ सका। पुलिस अभ्यास के महानिरीक्षक हिमांशु मिश्रा ने बताया कि पुलिस ने धर्मशाला, मंडी और शिमला (Shimla) में तीन मोबाइल संचार वैन उलब्ध करवाई है, जिनमें संचालक के साथ सैटेलाइट फोन, वायरलैस संचार और वीएचएफ भी उपलब्ध है। इसके अतिरिक्त वायरलैस सैट, आई-सैट भी इस्तेमाल किए गए।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Delhi के टैक्सी ड्राइवर की Manali में गई जान, जांच में जुटी पुलिस

बीजेपी अध्यक्ष बनने के बाद Solan पहुंचे बिंदल, कहीं यह बात

जयराम के हाथ बढ़ाने, Anurag के हाथ न मिलाने के पीछे आखिर क्या है सच-वीडियो

ऊना अस्पताल में प्रसव के बाद महिला की गई जान, परिजनों का हंगामा

Air India ने धर्मशाला-चंडीगढ़ की फ्लाइट के किराए में की कटौती

BJP अध्यक्ष बनने के बाद जोश में बिंदल, जोशीले अंदाज में कार्यकर्ताओं को नमन

आखिर किससे आजाद हुए डॉ. राजीव बिंदल, सुने Jai Ram की जुबानी

Pictures: शुभकामना संदेश तक सिमट गए Dhumal-Shanta,बिंदल की ताजपोशी के नहीं बने गवाह

CAA पर शांता बोले- विपक्ष को आंदोलन भड़काने में क्या शर्म नहीं आती

कारीगरीः कार मैकेनिक ने ठीक कर दी Mandi के ऐतिहासिक घंटाघर की घड़ियां

मां बनने के बाद सानिया की कोर्ट पर शानदार वापसी, जीता खिताब

ब्रेकिंग: Bindal बने हिमाचल BJP के अध्यक्ष, आधिकारिक घोषणा के साथ ही खूब गूंजे नारे

Bindal की ताजपोशी से पहले पीटरहॉफ का माहौल भगवा हुआ, नाटियों के बीच जश्न

गश्त के दौरान पुलिस टीम ने Charas के साथ धरा लवांजी निवासी

केरल के लोगों ने Rahul Gandhi को चुनकर भयानक गलती की : रामचंद्र गुहा

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है