Covid-19 Update

3463
मामले (हिमाचल)
2209
मरीज ठीक हुए
16
मौत
2,257,572
मामले (भारत)
20,121,222
मामले (दुनिया)

Corona ने फीका किया बकरीद का पर्व, लोगों ने घरों में रहकर अदा की नमाज

प्रदेश भर में कोरोना महामारी के बीच मनाया गया ईद-उल जुहा का त्योहार

Corona ने फीका किया बकरीद का पर्व, लोगों ने घरों में रहकर अदा की नमाज

- Advertisement -

शिमला। कोराना (Corona) महामारी के चलते मुस्लिम समुदाय (Muslim community) का मुख्य त्योहार ईद उल -अजहा यानी बकरीद इस बार फीका रहा। राजधानी शिमला (Shimla) सहित प्रदेश भर में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने घरों में रहकर ही नमाज अदा की। बता दें कि ईद-उल-अजहा यानी बकरीद, ईद उल फितर के बाद मुसलमानों का दूसरा सबसे बड़ा पर्व है। दोनों ही पर्वों पर ईदगाह व मस्जिदों में विशेष नमाज अदा की जाती है। ईद-उल फितर पर शीर बनाने का रिवाज है, जबकि ईद- उल -अजहा पर बकरे या दूसरे जानवरों की कुर्बानी (बलि) दी जाती है।


यह भी पढ़ें: Corona Update: हिमाचल के लिए क्या राहत और क्या आफत, कितना पहुंचा रिकवरी रेट- जानिए

 

यह भी पढ़ें: सिगरेट कंपनी ने तंबाकू से बना दी Covid-19 वैक्सीन: जल्द शुरू होगा ह्यूमन ट्रायल 

इस बार दूसरे धर्मों के पर्वों के साथ ईद पर भी कारोना का काला साया पड़ा है। जिसकी वजह से पर्वो के मौक़े पर जमा होने वाली भीड़ पर कई सरकारी पावंदियां हैं। शिमला में भी यह पर्व मनाया तो गया, लेकिन अपने ही घरों में, शिमला की जामा मस्जिद (JAMA Masjid) में भी आज ईद-उल-अजहा यानी बकरीद का पर्व फ़ीका रहा। मौलवी मुफ़्ती मोहमंद शफीक कासमी ने बताया कि इस साल हालात एकदम अलग हैं। पूरी दुनिया कोरोना (Corona0 वायरस की महामारी से जूझ रही है। ऐसे में सभी लोगों से घर से ही नमाज़ अदा करने की अपील की गई। उन्होंने कहा कि इस दिन हज़रत मोहमद ने अपने बेटे की कुर्बानी दी थी। उस कुर्बानी को याद कर इस पर्व को मनाया नया है।

कुल्लू में कोरोना के खात्म को मांगी दुआ

 

कुल्लू। इसी तरह से जिला कुल्लू में भी मुस्लिम समुदाय के लोगों ने अपने घर पर ही बकरीद की नमाज अदा दी। सरकार ने कोरोना काल में धार्मिक कार्यक्रमों पर अभी रोक लगाई है, जिससे कुल्लू जिला की जामा मस्जिद में सन्नाटा पसरा रहा। जामा मस्जिद कुल्लू की तरफ से सभी मुस्लिम समुदाय के लोगों से आग्रह किया था कि कोरोना महामारी के चलते मस्जिद में ईद का कार्यक्रम रद्द किया गया है और मस्जिद में इसी को लेकर एक बैनर लगा दिया गया था। वहीं, कुल्ल् जिला में मुस्लिम समुदाय के लोगों ने घर पर अपने घर पर पूरे विश्प से कोरोना महामारी के खात्मे के लिए अल्ला ताल्ला से दुआए मांगी।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

loading...
loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

















सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है