शमशी में क्लीनिक पर पुलिस का छापा, प्रतिबंधित दवाइयों की खेप पकड़ी

आरोपी को दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा

शमशी में क्लीनिक पर पुलिस का छापा, प्रतिबंधित दवाइयों की खेप पकड़ी

- Advertisement -

कुल्लू। पुलिस थाना भुंतर के तहत शमशी (Shamshi) में आईटीआई के नजदीक पुलिस (Police) ने गुप्त सूचना पर एक क्लीनिक (clinic) पर छापा (raid) मारकर प्रतिबंधित ट्रामाडोल टैबलेट्स (banned medicines) की खेप पकड़ी है। पुलिस ने मामला दर्ज कर आयुर्वेद यूनानी डॉक्टर हरबंस लाल निवासी गांव नग्गर डोगरी कुल्लू को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार क्लीनिक से मादक पदार्थ अधिनियम से संबंधित ड्रग ट्रामाडोल की 100 टैबलेट्स मिलीं। क्लीनिक से एक रजिस्टर भी मिला है, जिसमें काफी नशेड़ियों के नाम लिखे हुए हैं। वहीं आरोपी डॉक्टर को पुलिस ने न्यायालय के आदेश पर 2 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया है।


यह भी पढ़ें:कांगड़ा की महिला ने 12 वर्षीय बेटी के साथ ट्रेन के आगे कूदकर किया सुसाइड


आरोपी ने खुलासा किया है कि उक्त दवाई उसने मंडी के एक स्टोर से ऑनलाइन मंगवाई थी। पुलिस टीम ने आरोपी को ले जाकर उस स्टोर में रेड की, जहां पर दवाइयों का व्यवस्थित रिकॉर्ड न मिलने के कारण ड्रग्स एंड कॉस्मैटिक एक्ट के तहत ड्रग इंस्पैक्टर भी कार्रवाई कर रहे हैं। आरोपी के पास से एक रफ कॉपी भी बरामद हुई है, जिसमें बहुत सारे युवकों के नाम.पते दर्ज हैं। ये उन नशेड़ियों के नाम हैं जो हेरोइन की जद्द में हैं। इन सभी नशेड़ियों को भी पूछताछ के लिए तलब किया जाएगा। जहां से आरोपी ने दवाई खरीदी थी उसके संचालक को भी पुलिस जांच में शामिल होने के लिए कुल्लू तलब किया जा रहा है। जिस संबंधित कंपनी ने मंडी स्टोर में यह दवाई भेजी थी उस कंपनी के मालिक को भी नोटिस भेजा जाएगा। एसपी कुल्लू गौरव सिंह ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार किया गया है। पूरे प्रकरण की बारीकी से छानबीन चल रही है। नशा कारोबारियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाएगा।

यह भी पढ़ें: पुलिस भर्ती फर्जीवाड़ाः 11आरोपी पुलिस रिमांड पर, 13 को न्यायिक हिरासत में भेजा


क्या है ट्रामाडोल दवाई
ट्रामाडोल एक ऐसी दवाई हैए जिसे हेरोइन के आदी नशेड़ी उस स्थिति में इस्तेमाल करते हैं जब उन्हें हेरोइन नहीं मिल पाती। हेरोइन की जरूरत की स्थिति में नशेड़ी इस तरह की नशीली दवाई को नशे की डोज के तौर पर लेते हैं। यह एक ऐसी दवाई हैए जिसे एमबीबीएस डॉक्टर की सलाह पर ही किसी मरीज को दिया जाता है। किस मरीज को यह दवाई दीए इसका पूरा रिकॉर्ड भी मैंटेन रखना पड़ता है। सरकार ने इस दवाई को मादक पदार्थ अधिनियम के तहत प्रतिबंधित रखा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group … …

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

डीआरडीओ का रुस्तम 2 यूएवी ट्रायल के दौरान क्रैश

पांच पुलिस कर्मियों की एसपी से शिकायत, बेरहमी से पिटाई का जड़ा आरोप

पुलिस कांस्टेबल लिखित परीक्षा में पास अभ्यर्थी इंटरव्यू के लिए हो जाएं तैयार

नए उद्योग स्थापित करने व विस्तार को मिली मंजूरी, सैकड़ों को मिलेगा रोजगार

एसडीएम पालमपुर पर हमला करने का आरोपी टिप्पर चालक गिरफ्तार

कैबिनेटः 'एक बूटा बेटी के नाम' योजना होगी शुरू, ये स्कूल होंगे अपग्रेड

कैबिनेट में धारा-118 को लेकर भी हुई चर्चा, पर्यटन नीति के मसौदे को भी मंजूरी

रायजादा बोले, स्वां तटीकरण परियोजना में हो रहा बड़े पैमाने पर गोलमाल

ब्रेकिंगः सृजित होंगे 17 ड्रग इंस्पेक्टर के पद, नियमित होंगे यह कर्मचारी

प्रतिबंध हटते ही बजौरा के पास राफ्ट पलटी, केरल के पर्यटक की मौत

पीएम मोदी के जन्मदिन से एक दिन पहले नमो एप का नया वर्जन लांच

जयराम कैबिनेट के दो बड़े फैसले, मेधावी छात्रों को लैपटॉप देने को मंजूरी

पीएसए के तहत बंदी बनाए गए "फारुक अब्दुल्ला" दो साल तक रह सकते हैं कैद

राठौर ने तीसरी सूची जारी कर 16 ब्लॉक में नए अध्यक्ष किए तैनात, कार्यकारिणी को दस दिन का वक्त

धारा 370 : सीजेआई बोले - कोर्ट से संपर्क करने में असमर्थ हैं लोग तो खुद जाऊंगा श्रीनगर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है