प्राइवेट स्कूल नहीं बेच पाएंगे किताबें और ड्रेस, निदेशक उच्चतर शिक्षा जारी करेगा निर्देश

निदेशक उच्चतर शिक्षा ने छात्र अभिभावक मंच के साथ की वार्ता

प्राइवेट स्कूल नहीं बेच पाएंगे किताबें और ड्रेस, निदेशक उच्चतर शिक्षा जारी करेगा निर्देश

- Advertisement -

लेखराज धरटा/शिमला। प्राइवेट स्कूलों (Private School) की मनमानी, लूट खसोट व भारी फीसों के मुद्दे को लेकर निदेशक उच्चतर शिक्षा ने शनिवार को छात्र अभिभावक मंच के साथ बैठक (Meeting) की। बैठक में निदेशक उच्चतर शिक्षा के अलावा शिक्षा विभाग (Education Department) के तीनों संयुक्त शिक्षा निदेशक व स्टेट साइंस कोऑर्डिनेटर मौजूद रहे। करीब दो घंटे चली बैठक में निदेशक उच्चतर शिक्षा ने कहा कि नियमानुसार पीटीए के गठन, स्कूलों से किताबों की दुकानों को हटाने व एक ही दुकान से किताबों व ड्रेस खरीदने की अनिवार्यता को हटाने के लिए आज ही दिशा-निर्देश जारी कर दिए जाएंगे।

यह भी पढ़ेंः सिलेबस बनाने और बदलाव लाने में शामिल होंगे प्राइवेट स्कूलों के शिक्षक

फीस के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि सभी प्राइवेट स्कूलों को कई बार नोटिस भेजे जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही इस संदर्भ में प्रदेश सरकार से इस मसले को उठाकर हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के आदेशों की अनुपालना करके भारी फीसों पर अंकुश लगाया जाएगा। वहीं, जो स्कूल पिकनिक, टूअर व ट्रिप के नाम पर छात्रों की लूट कर रहे हैं व इसे अनिवार्य कर रहे हैं, उन्हें आज ही नोटिस जारी करके इसे रोकने के निर्देश दिए जाएंगे।

उन्होंने कहा की शिक्षा के अधिकार कानून के तहत प्रदेश सरकार के अनुमोदन से शीघ्र ही राज्य सलाहकार परिषद का गठन कर दिया जाएगा। उन्होंने प्रतिनिधिमंडल को भरोसा दिया कि छात्रों व अभिभावकों की लूट नहीं होने दी जाएगी व वह इस मनमानी व लूट को रोकने के लिए निजी शैक्षणिक संस्थान(संचालन) अधिनियम 1997 व वर्ष 2003 के रुलज़ के अनुसार कड़े कदम उठाएंगे। उन्होंने कहा कि इस अधिनियम में कुछ संशोधन करके निजी स्कूलों को और ज़्यादा जवाबदेह बनाया जाएगा। बैठक में छात्र अभिभावक मंच की ओर से संयोजक विजेंद्र मेहरा, सह संयोजक बिंदु जोशी, फ़ालमा चौहान, जसबीर कौर, सुमन, राम सिंहएबलबीर पराशरएबाबू रामएउत्तम आदि बातचीत में मौजूद रहे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है