ठेकेदार की लापरवाही से बारिश में तालाब बना अस्पताल 

मरीजों को जाना पड़ा घर, अस्पताल को लाखों की चपत 

ठेकेदार की लापरवाही से बारिश में तालाब बना अस्पताल 

- Advertisement -

रविन्द्र चौधरी/ जवाली। पीडब्लूडी विभाग (PWD Department) की लापरवाही के चलते 20 हजार की आबादी को इलाज मुहैया कराने वाले नगरोटा सूरियां का अस्पताल (Nagrota Suria Hospital) बुधवार की भारी बारिश से तालाब बन गया। इलाज करवाने आए लोग पानी में ही खड़े रहे, जबकि मरीजों को छत से टपकते पानी के चलते घर लौटना पड़ा। बारिश से अस्पताल को लाखों की चपत लगी है।
लगभग 2 महीने पहले एक ठेकेदार को छत की मरम्मत का काम सौंपा गया था। ठेकेदार (Contractor) को छत से पुराना सामान निकालकर नया सामान डालना था। ठेकेदार ने छत तो उखाड़ दी, लेकिन मरम्मत नहीं करवाई। स्थानीय कर्मचारियों का कहना था कि अगर इस वक्त कोई डिलीवरी का केस आ जाए तो मज़बूरन उन्हें टांडा (Tanda) रेफर करना पड़ेगा। बारिश से बिजली के उपकरण खराब हो गए। कमरों में पानी भर जाने की भनक लगते ही पीडब्लूडी के कर्मचारी पहुंच गए। डॉक्टर ने कहा कि काफी समय से छत की रिपेयर का काम चला हुआ था। उन्होंने सारा दोष पीडब्लूडी और ठेकेदार पर मढ़ते हुए कहा कि सही समय पर सही निर्णय नहीं लेने से समस्या पैदा हुई।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Like करें हिमाचल अभी अभी का Facebook Page….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है