Covid-19 Update

41,860
मामले (हिमाचल)
33,336
मरीज ठीक हुए
667
मौत
9,525,668
मामले (भारत)
64,510,773
मामले (दुनिया)

रिलायंस रिटेल में 2.04% इक्विटी के लिए सऊदी अरब की PIF करेगी 9555 करोड़ का इंवेस्टमेंट

अब तक कुल 10% से अधिक इक्विटी के लिए आया करीब 47 हजार करोड़ रू का निवेश

रिलायंस रिटेल में 2.04% इक्विटी के लिए सऊदी अरब की PIF करेगी 9555 करोड़ का इंवेस्टमेंट

- Advertisement -

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी की कंपनी रिलायंस रिटेल (Reliance Retail) में निवेशकों का तांता लगा हुआ है। रिलायंस इंडस्ट्रीज की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) में गुरूवार को पीआईएफ (PIF) ने 2.04% इक्विटी के लिए 9,555 करोड़ रुपए के इंवेस्टमेंट की घोषणा की। सौदे में रिलायंस रिटेल की प्री-मनी इक्विटी को 4.587 लाख करोड़ रुपए आंका गया है। पिछले निवेशों की तुलना में प्री-मनी इक्विटी करीब 30 हजार करोड़ अधिक है। रिलायंस रिटेल में निवेश का सिलसिला 9 सितंबर को सिल्वर लेक से शुरू हुआ था, उसके बाद केकेआर, जनरल अंटलांटिक, मुबाडला, जीआईसी, टीपीजी और एडीआईए जैसे वैश्विक निवेश फंड इंवेस्टमेंट कर चुके हैं। पीआईएफ की डील को मिला कर अब तक 9 इनवेस्टमेंट के जरिए रिलायंस रिटेल में 10% से अधिक की इक्विटी के लिए 47,265 हजार करोड़ से अधिक का निवेश हो चुका है।

मुकेश अंबानी ने सौदों पर जाहिर की प्रसन्नता; पढ़ें क्या बोले

रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने सौदों पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा, ‘सऊदी अरब के साथ लंबे समय से हमारे संबंध हैं। पीआईएफ सऊदी अरब के आर्थिक विकास में अहम किरदार निभा रही है। मैं रिलायंस रिटेल में एक महत्वपूर्ण भागीदार के रूप में पीआईएफ का स्वागत करता हूं। हम 130 करोड़ भारतीयों और लाखों छोटे व्यापारियों के जीवन को समृद्ध करने और रिटेल सेक्टर को बदलने की हमारी महत्वकांक्षी योजना के लिए पीआईएफ के निरंतर समर्थन की आशा करते हैं।’ रिलायंस रिटेल लिमिटेड के देश भर मे फैले 12 हजार से ज्यादा स्टोर्स में सालाना करीब 64 करोड़ खरीददार आते हैं। यह भारत का सबसे बड़ा और सबसे तेजी से विकसित होने वाला रिटेल बिजनेस है।

यह भी पढ़ें: कोरोना में #Job छोड़कर भागे कामगार तो सऊदी अरब ने बदल डाली ‘कफाला’ व्यवस्था; जानें फायदे

रिलायंस रिटेल के पास देश के सबसे लाभदायक रिटेल बिजनेस तमगा भी है। कंपनी खुदरा वैश्विक और घरेलू कंपनियों, छोटे उद्योगों, खुदरा व्यापारियों और किसानों का एक ऐसा तंत्र विकसित करना चाहती है, जिससे उपभोक्ताओं को किफायती मूल्य पर सेवा प्रदान की जा सके और लाखों रोजगार पैदा किए जा सकें। रिलायंस रिटेल ने अपनी नई वाणिज्य रणनीति के तहत छोटे और असंगठित व्यापारियों का डिजिटलीकरण शुरू किया है। कंपनी का लक्ष्य 2 करोड़ व्यापारियों को इस नेटवर्क से जोड़ना है। यह नेटवर्क व्यापारियों को बेहतर टेक्नॉलोजी के साथ ग्राहकों को बेहतर मूल्य पर सेवाएं देने में सक्षम बनाएगा।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whatsapp Group 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है