देहराः बारिश से गिरा स्कूल बिल्डिंग का एक हिस्सा, बड़ा हादसा टला

पीडब्ल्यूडी ने 2012 में ही भवन को किया था अनसेफ घोषित

देहराः बारिश से गिरा स्कूल बिल्डिंग का एक हिस्सा, बड़ा हादसा टला

- Advertisement -

देहरा। स्थानीय विधानसभा क्षेत्र के तहत पड़ती खैरियां पंचायत के प्राइमरी स्कूल (Primary School) में आज बड़ा हादसा होने से टल गया। सुबह आठ बजे जब छात्र स्कूल (School) पहुंच रहे थे तो पुराने स्कूल भवन का एक हिस्सा बारिश (Rain) के चलते गिर गया। गनीमत यह रही कि इसमें किसी बच्चे को चोट नहीं लगी। बता दें कि इस पुराने स्कूल भवन को पीडब्ल्यूडी ने वर्ष 2012 में ही अनसेफ घोषित कर दिया है, लेकिन इतने साल बाद भी भवन को न तोड़े जाना बड़ा सवाल खड़ा करता है।



यह भी पढ़ें: ऊनाः कुएं में मिली अजनोली से लापता ट्रक ड्राइवर की लाश

 

भवन के गिरने की सूचना मिलते ही स्थानीय लोगों के साथ बीडीसी सदस्य जसबीर गुलेरिया मौके पर पहुंचे। समाजसेवी एवं युवा बीजेपी (BJP) नेता सुकृत सागर ने कहा कि यह प्रशासन की बहुत बड़ी लापरवाही है, जिसके बारे में सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) और शिक्षा मंत्री को अवगत करवाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस भवन को पीडब्ल्यूडी ने 2012 में ही असुरक्षित घोषित (Declared Unsafe) कर दिया था, लेकिन इस भवन को अभी तक गिराया नहीं गया, जोकि प्रशासन की बहुत बड़ी लापरवाही है। इस भवन के गिर जाने के बाद अब बच्चों को बैठने के लिए एक भी कमरा स्कूल में नहीं बचा है।

बच्चे अब भरी बरसात में स्कूल (School) के कार्यालय के बरामदे में कक्षाएं लगाने को मजबूर होंगे। बता दें कि यह स्कूल देहरा के विधायक होशियार सिंह के गांव से साथ लगता स्कूल है। एसडीएम (SDM) देहरा धनवीर ठाकुर ने कहा कि सूचना मिलते ही टीम मौके पर भेज दी है। भवन अनसेफ (Unsafe) किया था। भवन को गिराने का काम शिक्षा विभाग का था। डिप्टी डायरेक्टर प्रारंभिक को भवन गिराने के लिए कहा है। खंड प्रारंभिक शिक्षा अधिकारी देहरा सरला ने बताया कि यह भवन 2012 से अनसेफ घोषित किया था। क्लासें सीनियर सेकेंडरी स्कूल में चल रहीं थीं। वन भूमि होने के चलते नया भवन बनाने में अड़चन आ रही है।


क्या कहते हैं विधायक होशियार सिंह

देहरा विधानसभा क्षेत्र के विधायक होशियार सिंह का कहना है कि यह भवन अनसेफ (Unsafe) घोषित किया है और अनसेफ करने के बाद क्लासें इस भवन में नहीं बिठाई जा रही हैं। नए भवन के लिए 6 लाख मंजूर किए हैं, लेकिन वन भूमि (Forest Land) की अनुमति के चलते यह मामला अटका हुआ है। वन विभाग की मंजूरी के लिए केस बनाकर भेजा है। जल्द ही मंजूरी मिलने की संभावना है। उन्होंने कहा कि मंजूरी मिलते ही तीन कमरों का निर्माण करवा दिया जाएगा।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

कांगड़ा और ऊना में कार्यरत पंजाब के इन कर्मचारियों को अवकाश घोषित

काम में कौताही पर पंचायत प्रधान और वार्ड सदस्य बर्खास्त

संतोषगढ़ के चौकी प्रभारी लाइन हाजिर, एसपी के आदेशों को हल्के में ले रहे थे

सेल्फी ले रही दो सहेलियां पार्वती नदी में बही, एक बच निकली दूसरी का अता-पता नहीं

शांता क्यों बोले ,जीवन के अंतिम पड़ाव पर मुझे किसी से भी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं

धूमल बोलेः कागजी सवाल करते हैं कांग्रेसी, कागजों में बनती है राजधानी

ऊना में नशा माफियाः अवैध शराब, चरस और प्रतिबंधित दवाओं सहित दो धरे

महिला मौत मामलाः एसएचओ हमीरपुर ने शव ले जा रहे लोगों पर क्यों तानी पिस्टल, होगी जांच

रातों रात सड़क पर कर डाला कब्जा, विभाग ने भेजा नोटिस

शराब की बोतल हाथ में लेकर छात्राओं के सामने टिक टॉक वीडियो बनाता गया कॉलेज कर्मी

मुकेश बोले, धर्मशाला दूसरी राजधानी है,सत्ता में लौटते ही उठाएंगे व्यापक कदम

दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल के औचक निरीक्षण पर पहुंचे राज्यपाल दत्तात्रेय

टैक्सी चालक हत्या मामले में परिजनों ने मंडी-पठानकोट एनएच पर किया चक्का जाम

पच्छाद उपचुनाव : डैमेज कंट्रोल के लिए खुद प्रचार में उतरे सीएम, बडू साहिब गुरुद्वारे में नवाया शीश

पहले किया हमला फिर लगाई आग, पति-पत्नी की मौत, बेटी गंभीर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है