सुंदरनगर की श्रेया ने 10 साल की उम्र में देशभर में रचा इतिहास

श्रेया सबसे कम उम्र की गो-कार्टिंग कार रेसर बनी

सुंदरनगर की श्रेया ने 10 साल की उम्र में देशभर में रचा इतिहास

- Advertisement -

सुंदरनगर। ग्राम पंचायत महादेव की श्रेया लोहिया (Shreya Lohia) ने मात्र 10 वर्ष की छोटी सी उम्र में एक बड़ा मुकाम हासिल किया है। श्रेया देशभर में सबसे कम उम्र की गो-कार्टिंग कार रेसर (Go Karting Car Racer) बन गई है। इसके साथ-साथ श्रेया मुंबई में आयोजित राष्ट्रीय रोटेक्स चैंपियनशिप में पूरे भारतवर्ष से प्रतिस्पर्धा में भाग लेने वाली एकमात्र लड़की थी।

श्रेया ने इस प्रतियोगिता में चौथा स्थान प्राप्त किया। श्रेया बंगलौर के एक रेसिंग स्कूल वायरल आर्ट में शामिल होकर इटली के कोच मार्को बारतोली के मार्गदर्शन में कोचिंग ली। पढ़ाई में भी हमेशा अच्छा करने वाली श्रेया इस खेल और पढ़ाई के बीच संतुलन बना कर रखा हुआ है। वह अपने लक्ष्य को हासिल करने के लिए कड़ी मेहनत कर रही है। गो-कार्टिंग कार रेसर श्रेया ने कहा कि वह भविष्य में फॉर्मूला वन ड्राइवर बनने की ख्वाहिश रखती हैं। श्रेया के पिता मैकेनिकल व माता कंप्यूटर इंजीनियर हैं।

यह भी पढ़ेंः सीएम ने किया लोक निर्माण विभाग के नए खण्ड का उद्घाटन

इस अवसर पर श्रेया के पिता रितेश लोहिया ने कहा कि कार्टिंग स्पोर्टिंग हमेशा से एक पुरुष प्रधान खेल रहा है। उन्होंने कहा कि उनकी बेटी को स्पीड से प्यार करती है। उन्होंने कहा कि जब रेसर का हेलमेट सिर पर होता है तो लड़का व लड़की का कोई फर्क नहीं रहता है। श्रेया के पिता ने उम्मीद जताई है कि उनकी बेटी के प्रदर्शन से अन्य लड़कियों को भी खेल के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। वहीं, द फेडरेशन ऑफ मोटरस्पोट्र्स क्लब ऑफ इंडिया द्वारा श्रेया को मोटरस्पोर्ट-2018 में उत्कृष्ट महिला के रूप में भी सम्मानित किया है।

एम टेक टॉपर गरूषा सेन को राज्यपाल ने गोल्ड मेडल से नवाजा  

हिमाचल प्रदेश (HImachal Pradesh) तकनीकी विश्वविद्यालय के सत्र 2017 में एम टेक में टॉपर गरूषा सेन को गोल्ड मेडल (Gold Medal) मिला है। हिमाचल प्रदेश तकनीकी विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने इन्हें गोल्ड मेडल और सर्टिफिकेट प्रदान कर सम्मानित किया। गरूषा सेन ने सिविल इंजीनियरिंग में एम टेक की शिक्षा हासिल की और सत्र 2017 में प्रदेश में टॉपर रहीं हैं। सुंदरनगर नगर परिषद क्षेत्र तमड़ोह से तालुक रखने वाली बेटी गरूषा ने सिरड़ा इंस्टीच्यूट इंजीनियरिंग ऑफ टैक्नॉलाजी सुंदरनगर से सिविल इंजीनियरिंग में एम टेक की शिक्षा हासिल की।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है