Covid-19 Update

38,327
मामले (हिमाचल)
28,993
मरीज ठीक हुए
602
मौत
9,325,786
मामले (भारत)
61,598,991
मामले (दुनिया)

स्प्रिंटर दुती चंद के आर्थिक हालात खराब: अपनी BMW बेचने के लिए Social Media पर डाली पोस्ट

स्प्रिंटर दुती चंद के आर्थिक हालात खराब: अपनी BMW बेचने के लिए Social Media पर डाली पोस्ट

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारत की सबसे तेज महिला धाविका दुती चंद (Dutee Chand) वैश्विक कोरोना वायरस महामारी के बीच आर्थिक तंगी से जूझ रही हैं। टोक्यो ओलिंपिक टलने के कारण स्प्रिंटर दुती चंद को फंड की कमी (Lack of Fund) का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में उन्होंने ओलंपिक की ट्रेनिंग (Olympic training) का खर्चा निकालने के इरादे से अपनी बीएमडब्ल्यू कार (BMW Car) बेचना का फैसला किया है। उनके पास 2015 बीएमडब्ल्यू थ्री-सीरीज है। उन्होंने 30 लाख रुपए में यह कार खरीदी थी। उन्होंने अपने फेसबुक (Facebook) पेज पर अपने मैसेज के साथ अपनी कार की तस्वीरें शेयर की हैं। उन्होंने कहा कि ‘मैं अपनी बीएमडब्ल्यू कार बेचना चाहती हूं। अगर कोई खरीदना चाहता है, तो मुझसे मैसेंजर पर संपर्क करे।’ हालांकि बाद में उन्होंने अपना यह पोस्ट हटा लिया।

यह भी पढ़ें: सुशांत मामले में CBI जांच की सुगबुगाहट तेज, सुब्रमण्यम स्वामी ने तीनों खान से पूछा- चुप क्यों हैं आप

कोई भी प्रायोजक मुझ पर खर्च करने के लिए तैयार नहीं

एक समाचार मैगजीन से बातचीत के दौरान दुती चंद ने बताया कि कोविड-19 महामारी के कारण कोई भी प्रायोजक मुझ पर खर्च करने के लिए तैयार नहीं। मुझे पैसे की जरूरत है। मैंने अपने प्रशिक्षण और डाइट के खर्चों को पूरा करने के लिए इसे बेचने का फैसला किया है। मैं टोक्यो ओलंपिक के लिए तैयारी कर रही हूं, जो अब अगले साल होगा। दुती के मुताबिक सरकारी (राज्य) लोग कह रहे हैं कि वे वित्तीय संकट से गुजर रहे हैं। उन्होंने उपहार के रूप में बीएमडब्ल्यू मिलने की बात खारिज करते हुए कहा कि मैंने एशियाई खेलों में अपनी उपलब्धि के लिए ओडिशा के सीएम नवीन पटनाइक से नकद पुरस्कार (3 करोड़ रुपए) हासिल किया था। उस पैसे से मैंने अपना घर बनाया और बीएमडब्ल्यू कार खरीदी।

 

 

हर महीने ट्रेनिंग के लिए करीब 5 लाख खर्च करती है दुती

वहीं दुती द्वारा फेसबुक पोस्ट किए जाने ले बाद लोगों ने दुती की मदद करने के लिए सरकारी हस्तक्षेप की मांग करते हुए कमेंट करने शुरू कर दिए। जिसके बाद में दुती ने उस पोस्ट को ही हटा दिया। दुती ने यह भी कहा, ‘चूंकि मेरे पास दो और कारें हैं, इसलिए मेरे घर पर 3 कारों के लिए पर्याप्त जगह नहीं है, इसलिए मैं एक को बेचना चाहती हूं।’ दुती ने अपने फेसबुक पेज पर इस संदेश (ओडिया में) के साथ अपनी कार की तस्वीरें साझा कीं- ‘मैं अपनी बीएमडब्ल्यू कार बेचना चाहती हूं। अगर कोई खरीदना चाहता है, तो मुझसे मैसेंजर पर संपर्क करे।’ उन्होंने कहा कि वह अपने प्रशिक्षण पर प्रति माह लगभग 5 लाख रुपये खर्च करती हैं, जिसमें कोच, फिजियोथेरेपिस्ट, आहार विशेषज्ञ और अन्य की सैलरी शामिल हैं।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है