Covid-19 Update

42,161
मामले (हिमाचल)
33,604
मरीज ठीक हुए
676
मौत
9,534,964
मामले (भारत)
64,844,711
मामले (दुनिया)

JNU घटना पर रजनी और राठौर ने घेरी मोदी सरकार, विक्रमादित्य ने की निंदा

JNU घटना पर रजनी और राठौर ने घेरी मोदी सरकार, विक्रमादित्य ने की निंदा

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर (State Congress President Kuldeep Singh Rathore ) ने दिल्ली के जेएनयू (JNU) में छात्रों पर हुए हमले की कड़ी निंदा की है। उन्होंने दोषी लोगों को तुरंत पकड़ने की मांग करते हुए इसकी जांच उच्च न्यायालय के किसी जज से करवाने की मांग की है। कुलदीप राठौर ने इस सब के लिए केंद्र की बीजेपी सरकार (BJP Government) और उसकी नीतियों को दोषी बताया है। उन्होंने कहा है कि देश में इस प्रकार की हिंसा और आंदोलन से साफ है कि लोग सरकार के फैसलों से खुश नहीं हैं। उन्होंने कहा कि आज देश के हालात चिंताजनक बनते जा रहें है और चारों ओर अस्थिरता का माहौल देखा जा रहा है। राठौर ने कहा कि नागरिकता संशोधन एक्ट (CAA) हो या एनआरसी (NRC) लोगों का बीजेपी पर से अब विश्वास उठ चुका है।

 

यह भी पढ़ें: JNU हिंसा पर हमीरपुर में एसएफआई व डीवाईएफआई का प्रदर्शन

 

हिमाचल कांग्रेस की प्रभारी रजनी पाटिल (Rajni Patil in charge of Himachal Congress) ने कहा कि जेएनयू (JNU)में गुंडागर्दी का खुला नाच होना निंदनीय है। सरकार इस मामले में स्पष्ट करे कि वो असामाजिक तत्व कौन है और किसके इशारे पर बेखौफ होकर ऐसी हिंसा का नंगा नाच खेला गया। उन्होंने कहा कि देश में पीएम नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह नागरिकता कानून और एनआरसी जैसे मामलों को इसलिए हवा दे रहे हैं ताकि आम जनता का ध्यान महंगाई और बेरोजगारी से हटाया जा सके।

 

यह भी पढ़ें: JNU हिंसा पर आयुष्मान खुराना ने लिखी खूबसूरत कविता, जरूर पढ़ें

 

वहीं कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह (Congress MLA Vikramaditya Singh)  ने बीजेपी पर आरोप लगाया है कि उनकी जनविरोधी नीतियों ने आज देश में अराजकता और भय का माहौल पैदा कर दिया है। अल्पसंख्यक समुदाय में असुरक्षा की भावना से देश की एकता और अंखडता को खतरा पैदा हो गया है। विक्रमादित्य सिंह ने कहा है कि जेएनयू में छात्रों पर हमला चिंता का विषय है। उन्होंने इस हमलें की निंदा करते हुए कहा है कि हमलें के दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए।

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है