Covid-19 Update

34,781
मामले (हिमाचल)
27,518
मरीज ठीक हुए
550
मौत
9,170,900
मामले (भारत)
59,245,882
मामले (दुनिया)

बंजार के देहुरी में प्राकृतिक जल स्रोतों को जांचने पहुंची टीम , पानी के सैंपल भी लिए

बंजार के देहुरी में प्राकृतिक जल स्रोतों को जांचने पहुंची टीम , पानी के सैंपल भी लिए

- Advertisement -

बंजार। देहुरी में आज कलवारी पंचायत के तत्वाधान में एसडीएम बंजार,आईपीएच विभाग के सहायक अभियंता, प्रदूषण,स्वास्थय और पयर्टन महकमे की टीम में संयुक्त रूप से पेयजल स्रोतों का निरीक्षण किया तथा पानी के सैंपल भरे। कलवारी पंचायत के देहुरी में पीने के पानी के पुरातन, पारंपारिक स्रोतों के दूषित होने से लोगों में नाराजगी है।

यह भी पढ़ें: शिमला में भड़के वकील, प्रतिबंधित मार्ग पर किया चक्का जाम

 

आईपीएच विभाग की पेयजल प्रदूषण की रिपोर्ट आने के बाद पंचायत ने जगह- जगह पेयजल दूषित होने संबंधी नोटिस लगा रखे हैं लेकिन स्थानीय लोग यहां बनी एक पयर्टन इकाई को इसके लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं और इसकी शिकायत बंजार प्रशासन, प्रदूषण नियंत्रण वोर्ड, स्वास्थय, आईपीएच विभाग और पयर्टन विभाग से भी कई बार कर चुके हैं । लोगों का कहना है कि जब तक प्रदूषण का स्तर शून्य नहीं आता तब तक पयर्टन इकाई का पंजीकरण निरस्त किया जाना चाहिए ।

यह भी पढ़ें: बिग ब्रेकिंग : एससीए चुनाव की बहाली के संकेत, जयराम ने जताई सहमति

कलवारी पंचायत के उप प्रधान भूपेंद्र चौहान, पूर्व उप प्रधान सूबेदार मोहर सिंह राठौर,का कहना है कि स्थानीय पयर्टन इकाई के सीवरेज व गंदे पानी की निकासी आदि की वजह से आसपास के सभी जल स्रोत दूषित हो गए हैं और अब उन्हें पीने के पानी के लिए कठिनाई पेश आ रही है । लोगों ने मांग की है कि जब तक पानी के प्रदूषण का स्तर शून्य पर नहीं पंहुचता तब तक पयर्टन इकाई को बंद किया जाए । उधर इस मौके पर पयर्टन इकाई के संचालक मौजूद नहीं थे हालांकि टीम ने उपस्थित रहने का आग्रह पहले ही किया था ।

लोगों ने चेताया कि यदि इस पर एक सप्ताह के भीतर कोई ठोस कार्रवाई नहीं हुई तो जनता सड़क पर उतरने से गुरेज नहीं करेगी । उधर टीम ने विभिन्न महकमों की संयुक्त टीम ने एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट तैयार होने का भरोसा दिलाया । एसडीएम बंजार मनी राम भारद्वाज कहा कि एक सप्ताह के भीतर रिपोर्ट आने पर कानून के मुताबिक कार्रवाई अम्ल में लायी जाएगी । पयर्टन महकमे के निरीक्षक ने भी होटल पंजीकरण से संबधित जांच करने का आश्वासन दिया । सिंचाई एवं जन स्वास्थय विभाग बंजार उपमंडल के सहायक अभियंता जसविंद्र सिंह ने पानी में प्रदूषण की मात्रा काफी उच्च होने की पुष्टि की है ।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है