Covid-19 Update

3463
मामले (हिमाचल)
2209
मरीज ठीक हुए
16
मौत
2,257,572
मामले (भारत)
20,121,222
मामले (दुनिया)

Solan: अर्की में पुराने बस अड्डे के पास लाखों रुपए से बना अंबेडकर भवन बना खंडहर

नशेड़ियों व असामाजिक तत्वों का अड्डा बना यह भवन

Solan: अर्की में पुराने बस अड्डे के पास लाखों रुपए से बना अंबेडकर भवन बना खंडहर

- Advertisement -

दयाराम कश्यप/सोलन। हिमाचल प्रदेश के सोलन जिला के अर्की (Arki) में लाखों रुपए की लागत से बना अंबेडकर भवन (Ambedkar Bhawan) सालों से खंडहर बना हुआ है। जिसकी सुध लेने वाला कोई नहीं है। यह भवन नशेड़ियों व असामाजिक तत्वों का अड्डा बन कर रह गया है। बता दें कि करीब सात वर्ष पूर्व अर्की मुख्यालय के पुराने बस अड्डे से कुछ ही दूरी पर अंबेडकर भवन का निर्माण करवाया गया था। इस भवन का निर्माण किस उद्देश्य से किया गया था आज दिन तक किसी को इसकी कोई जानकारी नहीं है। स्थानीय नेताओं ने इसका निर्माण तो करवा दिया, लेकिन इसका उचित रखरखाव कौन करेगा यह सुनिश्चित करना भूल गए। जिसके चलते यह भवन किसी काम में नही आ रहा है। यही नहीं ऐसा ही एक अन्य भवन नगर पंचायत के वार्ड नंबर 7 में भी अपनी दुर्दशा को लेकर लोगों के मुंह चिढ़ा रहा है।


यह भी पढ़ें: Solan: राजाओं के काल में बना फल संतति भवन Arki बना खंडहर, कर्मचारियों का भी टोटा

जानकारी के अनुसार कि करीब 15 लाख रुपए की लागत से अंबेडकर भवन का निर्माण लोक निर्माण विभाग (PWD) द्वारा करवाया गया था। इसके पश्चात 29 जून, 2012 को इसका विधिवत उद्घाटन पूर्व सीएम प्रेम कुमार धूमल तथा स्थानीय विधायक गोविंद राम शर्मा के कर कमलों द्वारा किया गया। भवन में एक शानदार बहुत बड़ा हॉल बनाया गया है। जबकि एक दर्जन से ज्यादा पंखे भी यहां लगाए गए हैं। लेकिन, मौजूदा समय में इस भवन की एक दीवार के अंदर मलबा घुस चुका है, जबकि खिड़कियों के शीशे टूट चुके हैं।

 

नगर पंचायत की आमदनी का जरिया बन सकता है भवन

इस भवन को देख कर लगता है कि मानों भवन का निर्माण सुनियोजित तरीके से नहीं किया गया है, क्योंकि भवन में ना तो कोई रसोईघर है और ना ही कोई शौचालय बनाया गया है। यही नहीं भवन तक पहुंचने के लिए भी कोई पक्का रास्ता नहीं है। बावजूद इसके स्थानीय नेताओं ने प्रदेश के सीएम से इसका उद्घाटन (Inauguration) टेंपरेरी बिजली का मीटर लगाकर करवा दिया। लेकिन, उद्घाटन के पश्चात यह भवन राम भरोसे छोड़ दिया। स्थानीय लोगों के अनुसार अगर इस भवन को मूलभूत सुविधाओं से जोड़ा जाए तो यह भवन शादी विवाह या अन्य पार्टियों के लिए काफी अच्छी सुविधा प्रदान कर सकता है। इसके साथ ही नगर पंचायत की आमदनी में भी अच्छी खासी बढ़ोतरी हो सकती है।

 

 

क्या कहते हैं बाल्मीकि सभा के सचिव और नगर पंचातय अध्यक्ष

बाल्मीकि सभा के सचिव राकेश बरार का कहना है कि वह कई बार नगर पंचायत से इस भवन के रखरखाव की जिम्म्मेवारी उन्हें सौंपने की बात कह चुके है, लेकिन उनकी कोई सुनवाई नही करता है। उनका कहना है कि यदि इस भवन में सभी मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध करवाई जाए तो नगर पंचायत (Nagar Panchayat) को विवाह व अन्य विभिन्न समारोहों के आयोजन के लिए किराये पर देकर आमदनी बढ़ सकती है। वहीं, इस बारे में नगर पंचायत अध्यक्ष वीना ठाकुर का कहना है कि इस भवन पर मालिकाना हक सामाजिक अधिकारिता विभाग का है। नगर पंचायत के पास ये भवन केवल रनिंग के लिए है। नगर पंचायत द्वारा डीसी सोलन को इस भवन के रखरखाव के लिए 7.75 लाख एस्टीमेट बना कर भेज दिया गया है। जैसे ही पैसा मंजूर होता है इस भवन की रिपेयर करवा दी जाएगी, ताकि भवन को किसी काम में लाया जा सके।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

loading...
loading...
Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

















सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है