यहां लिखी जा रही इतिहास की सबसे बड़ी एफआईआर, अभी लगेगा और तीन दिन का समय

आयुष्मान घोटाले में दो अस्पतालों के खिलाफ दर्ज एफआईआर पुलिस के लिए बनी सिरदर्द

यहां लिखी जा रही इतिहास की सबसे बड़ी एफआईआर, अभी लगेगा और तीन दिन का समय

- Advertisement -

देहरादून। उत्तराखंड की काशीपुर कोतवाली के इतिहास की सबसे बड़ी एफआईआर (FIR) लिखी जा रही है। रिपोर्ट लिखते-लिखते चार दिन गुजर चुके हैं लेकिन अभी भी इसे पूरा लिखने में दो से तीन दिन का समय और लग सकता है। जी हां, अटल आयुष्मान घोटाले में दो अस्पतालों के खिलाफ दर्ज की जा रही एफआईआर पुलिस के लिए सिरदर्द बनी हुई है। हिंदी और अंग्रेजी भाषा की भेजी गई दोनों एफआईआर लिखने में पुलिस के पसीने छूट गए हैं।


यह भी पढ़ें- हिंदी थोपने वाली बात कभी नहीं कही, कुछ लोग राजनीति करना चाहते हैं तो करें: अमित शाह

स्वास्थ्य विभाग की टीम ने अटल आयुष्मान योजना (Atal Ayushman Yojana) के तहत रामनगर रोड स्थित एमपी अस्पताल और तहसील रोड स्थित देवकी नंदन अस्पताल में भारी अनियमितताएं पकड़ी थीं। जांच में दोनों अस्पतालों के संचालकों की ओर से नियम विरुद्ध रोगियों के फर्जी उपचार बिलों का क्लेम वसूलने का मामला पकड़ में आया था। एमपी अस्पताल में रोगियों के डिस्चार्ज होने के बाद भी मरीज कई-कई दिनों तक अस्पताल में भर्ती दिखाए गए। आईसीयू में भी क्षमता से अधिक रोगियों का उपचार दर्शाया गया। डायलिसिस केस एमबीबीएस डॉक्टर की ओर से किया जाना बताया गया और वो भी अस्पताल की क्षमता से कई गुना। कई प्रकरणों में बिना इलाज किए ही क्लेम प्राप्त कर लिया गया, जिसकी मरीज को भनक तक नहीं है।

यह भी पढ़ें- मीडिया टेक के इस दमदार प्रोसेसर के साथ भारत में लॉन्च होगा Redmi Note 8 Pro

उत्तराखंड अटल आयुष्मान के अधिशाषी सहायक धनेश चंद्र की ओर से दोनों अस्पताल संचालकों के खिलाफ पुलिस को तहरीर सौंपी गईं। ये तहरीरें एसएसपी कार्यालय के माध्यम से एक हफ्ते पहले कोतवाली कार्यालय में पहुंच चुकी है। इसमें से एक तहरीर 64 पृष्ठ की हैं, तो दूसरी तहरीर करीब 24 पृष्ठों की। तहरीरों में अधिक विवरण होने के कारण इन अस्पताल संचालकों के खिलाफ ऑनलाइन एफआईआर दर्ज नहीं हो सकती। कोतवाली में एफआईआर दर्ज करने वाले साफ्टवेयर (Software) की क्षमता दस हजार शब्दों से अधिक नहीं है। चार दिन पूर्व छुट्टी पर जाते समय कोतवाल चंद्रमोहन सिंह ने कटोराताल एवं बांसफोड़ान चौकी के मुहर्रिरों को मैनुअली एफआईआर दर्ज करने के निर्देश दिए थे।

हिंदी और अंग्रेजी भाषा की भेजी गई दोनों एफआईआर लिखने में मुहर्रिरों के पसीने छूट रहे हैं। बांसफोड़ान चौकी में अब तक 17 वर्क और कटोराताल पुलिस चौकी में एफआईआर के 23 वर्क ही लिखे जा सके हैं। एफआईआर दर्ज करने में देरी को लेकर एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कोतवाल को फोन कर नाराजगी जताई। उन्होंने यथाशीघ्र एफआईआर पूर्ण करने के निर्देश दिए। इस पर कोतवाल ने दोनों पुलिस चौकियों से मुहर्रिरों को बुलाकर फटकार लगाई और उन्हें हर हाल में दो दिन के भीतर रिपोर्ट पूरी लिख देने के निर्देश दिए हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

कांगड़ा और ऊना में कार्यरत पंजाब के इन कर्मचारियों को अवकाश घोषित

काम में कौताही पर पंचायत प्रधान और वार्ड सदस्य बर्खास्त

संतोषगढ़ के चौकी प्रभारी लाइन हाजिर, एसपी के आदेशों को हल्के में ले रहे थे

सेल्फी ले रही दो सहेलियां पार्वती नदी में बही, एक बच निकली दूसरी का अता-पता नहीं

शांता क्यों बोले ,जीवन के अंतिम पड़ाव पर मुझे किसी से भी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं

धूमल बोलेः कागजी सवाल करते हैं कांग्रेसी, कागजों में बनती है राजधानी

ऊना में नशा माफियाः अवैध शराब, चरस और प्रतिबंधित दवाओं सहित दो धरे

महिला मौत मामलाः एसएचओ हमीरपुर ने शव ले जा रहे लोगों पर क्यों तानी पिस्टल, होगी जांच

रातों रात सड़क पर कर डाला कब्जा, विभाग ने भेजा नोटिस

शराब की बोतल हाथ में लेकर छात्राओं के सामने टिक टॉक वीडियो बनाता गया कॉलेज कर्मी

मुकेश बोले, धर्मशाला दूसरी राजधानी है,सत्ता में लौटते ही उठाएंगे व्यापक कदम

दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल के औचक निरीक्षण पर पहुंचे राज्यपाल दत्तात्रेय

टैक्सी चालक हत्या मामले में परिजनों ने मंडी-पठानकोट एनएच पर किया चक्का जाम

पच्छाद उपचुनाव : डैमेज कंट्रोल के लिए खुद प्रचार में उतरे सीएम, बडू साहिब गुरुद्वारे में नवाया शीश

पहले किया हमला फिर लगाई आग, पति-पत्नी की मौत, बेटी गंभीर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है