भारतीय संविधान की कॉपी फाड़ने वाले PDP सांसदों की नागरिकता पर खतरा! जानें क्या सजा मिलेगी

तीन साल के लिए जेल भी भेजा जा सकता है

भारतीय संविधान की कॉपी फाड़ने वाले PDP सांसदों की नागरिकता पर खतरा! जानें क्या सजा मिलेगी

- Advertisement -

 


नई दिल्ली। राज्यसभा (Rajyasabha) में धारा 370 को हटाने और जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के पुनर्गठन का संकल्प पेश करने के बाद विपक्ष ने हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान पीडीपी सांसद (PDP MP) मीर फयाज़ और नज़ीर अहमद लावे ने प्रस्ताव के विरोध में राज्यसभा में भारतीय संविधान की कॉपी (Copy of constitution of india) फाड़ी, जिसके बाद चेयरमैन वेंकैया नायडू ने उन्हें बाहर भेज दिया। इसके बाद प्रस्ताव का विरोध करते हुए पीडीपी सांसदों ने अपने कपड़े भी फाड़े और कहा कि यह कश्मीर के लोगों के साथ विश्वासघात है। जिसके बाद बताया जा रहा है कि इन दोनों ही नेताओं के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।

 

यह भी पढ़ें :-मिशन कश्मीर : जम्मू-कश्मीर बना केंद्र शासित प्रदेश, लद्दाख को इससे किया गया अलग

 

बता दें कि इस कुकृत्य के लिए उन्हें तीन साल के लिए जेल भेजा जा सकता है। यहां तक कि उनकी नागरिकता (citizenship) भी रद्द की जा सकती है। दरअसल इन्सल्ट टू इंडियन नेशनल फ्लैग ऐंड कॉन्सटिट्यूशन ऑफ इंडिया, 1971 के मुताबिक, किसी सार्वजनिक जगह पर (या ऐसी जगह जो लोगों की नजर में हो) राष्ट्रीय झंडे या संविधान को जलाना, फाड़ना या उसका किसी भी तरह से अपमान करना अपराध है। ऐसा करने वाले को तीन साल तक की जेल हो सकती है। संविधान या फिर झंडे की स्वस्थ आलोचना अपमान की श्रेणी में नहीं आती। संविधान के आर्टिकल 51 (ए) में भी इसका जिक्र किया गया है। भारतीय नागरिकों के लिए तय बुनियादी कर्तव्यों में राष्ट्रीय प्रतीकों का सम्‍मान करना भी शामिल है।

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

कांगड़ा और ऊना में कार्यरत पंजाब के इन कर्मचारियों को अवकाश घोषित

काम में कौताही पर पंचायत प्रधान और वार्ड सदस्य बर्खास्त

संतोषगढ़ के चौकी प्रभारी लाइन हाजिर, एसपी के आदेशों को हल्के में ले रहे थे

सेल्फी ले रही दो सहेलियां पार्वती नदी में बही, एक बच निकली दूसरी का अता-पता नहीं

शांता क्यों बोले ,जीवन के अंतिम पड़ाव पर मुझे किसी से भी प्रमाण पत्र की जरूरत नहीं

धूमल बोलेः कागजी सवाल करते हैं कांग्रेसी, कागजों में बनती है राजधानी

ऊना में नशा माफियाः अवैध शराब, चरस और प्रतिबंधित दवाओं सहित दो धरे

महिला मौत मामलाः एसएचओ हमीरपुर ने शव ले जा रहे लोगों पर क्यों तानी पिस्टल, होगी जांच

रातों रात सड़क पर कर डाला कब्जा, विभाग ने भेजा नोटिस

शराब की बोतल हाथ में लेकर छात्राओं के सामने टिक टॉक वीडियो बनाता गया कॉलेज कर्मी

मुकेश बोले, धर्मशाला दूसरी राजधानी है,सत्ता में लौटते ही उठाएंगे व्यापक कदम

दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल के औचक निरीक्षण पर पहुंचे राज्यपाल दत्तात्रेय

टैक्सी चालक हत्या मामले में परिजनों ने मंडी-पठानकोट एनएच पर किया चक्का जाम

पच्छाद उपचुनाव : डैमेज कंट्रोल के लिए खुद प्रचार में उतरे सीएम, बडू साहिब गुरुद्वारे में नवाया शीश

पहले किया हमला फिर लगाई आग, पति-पत्नी की मौत, बेटी गंभीर

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है