Covid-19 Update

43,500
मामले (हिमाचल)
34,555
मरीज ठीक हुए
698
मौत
9,608,418
मामले (भारत)
66,230,912
मामले (दुनिया)

कांगड़ा जिला में बदला Morning Walk का टाइम, क्वारंटाइन पीरियड भी अब 14 दिन होगा

कांगड़ा जिला में बदला Morning Walk का टाइम, क्वारंटाइन पीरियड भी अब 14 दिन होगा

- Advertisement -

धर्मशाला। अनलॉक वन में जिला कांगड़ा में मार्निंग वॉक का समय बदल दिया गया है। अब लोग सुबह 5 से 6 बजे तक मार्निंग वॉक (Morning Walk) कर सकेंगे। पहले सुबह साढ़े पांच से सात बजे तक समय निर्धारित था। यह जानकारी डीसी कांगड़ा (DC Kangra) राकेश प्रजापति ने दी। डीसी राकेश प्रजापति ने बताया कि अनलॉक वन शुरू हो गया है। कांगड़ा जिला में कर्फ्यू (Curfew) रात 8 बजे से सुबह 6 बजे तक होगा। इसके अलावा सुबह 6 बजे से रात आठ बजे तक कर्फ्यू में छूट (Curfew Relaxation) मिलेगी। मार्निंग वॉक के लिए सुबह पांच से छह बजे तक का समय निर्धारित किया है। बसों का आवागमन सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक ही होगा।

यह भी पढ़ें: Quarantine Center में घुसकर युवती से छेड़छाड़ करने लगा युवक, लोगों ने पकड़ कर की धुनाई

उन्होंने बताया कि जिला कांगड़ा (Kangra) में अब क्वारंटाइन अवधि 14 दिन की होगी। यह पहले 28 दिन थी। जिला के अंदर क्वारंटाइन की जरूरत नहीं होगी। दूसरे जिले से आने वाले लोग भी क्वारंटाइन नहीं किए जाएंगे। साथ ही जो लोग दूसरे से कांगड़ा जिला में काम आदि करने के लिए आते हैं उन्हें भी क्वारंटाइन (Quarantine) नहीं किया जाएगा। कांगड़ा जिला से अगर कोई दूसरी स्टेट जाता है और 48 घंटे में वापस आ जाता है तो भी उसे क्वारंटाइन नहीं किया जाएगा। इसके अलावा अगर कोई 48 घंटे से ज्यादा समय लगाता है तो उसे क्वारंटाइन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: Corona Breaking : सोलन जिला में निकले दो और Corona Positive, 333 पहुंचा कुल आंकड़ा

वहीं, जिला के अंदर, हिमाचल के अन्य जिलों और जिला कांगड़ा से अन्य राज्यों के लिए वन वे एग्जिट (One Way Exit) के लिए भी पास की जरूरत नहीं होगी। राउंड ट्रिप के लिए जिला में वापस आने के लिए पास जरूरी होगा। इसके अलावा एयरलाइंस या रेलवे से कांगड़ा आने वाले कांगड़ावासियों के लिए किसी प्रकार के प्रदेश सरकार के ऑर्डर के अनुसार पास की जरूरत नही होगी। वहीं, अन्य राज्यों से किसी वाहन में कांगड़ा आने वालों के लिए पास की जरूरत होगी। जिला कांगड़ा के भीतर कार्यालय/प्रतिष्ठान में काम करने वाले व्यक्ति जो अंतर राज्य बैरियर क्रांस कर आते हैं को संबंधित एसडीएम से पास (Pass) लेना होगा। वहीं, टूरिस्ट व श्रद्वालुओं की एंट्री पूरी तरह से बैन होगी। इसके अलावा शादियों में ज्यादा से ज्यादा 50 और अंतिम संस्कार में 20 लोग शामिल हो सकेंगे। इसके लिए किसी प्रकार की अनुमति की जरूरत नहीं होगी। शादियों के अलावा अन्य किसी भी प्रकार के कार्यक्रम आयोजन की अनुमति नहीं होगी।

यह भी पढ़ें: पत्थर दिल मां-बाप AIIMS में छोड़ गए 9 महीने के मासूम का शव, Corona से हुई थी मौत


उन्होंने कहा कि रेस्टोरेंट व ढाबे अभी टेकअवे के लिए खोले जा सकेंगे। टूरिज्म विभाग (Tourism department) की एसओपी के बाद इन्हें 60 फीसदी सीटिंग क्षमता के अनुसार खोलने की अनुमति मिलेगी। मंदिर भी भाषा एवं संस्कृति विभाग की एसओपी के बाद खोले जा सकेंगे। एक हफ्ते में विभाग एसओपी (SOP) तैयार कर लेगा। उम्मीद है कि आठ जून के बाद मंदिर खोले जा सकेंगे। स्ट्रीट वेंडर, सैलून और ब्यूटी पॉर्लर को खोलने की अनुमति दे दी है। उन्होंने कहा कि सरकारी कार्यालय भी खोल दिए गए हैं। दो चार दिन में यह पूरी तरह संचालित हो जाएंगे। उन्होंने लोगों से अपील की है कि अगर कोई बहुत ही जरूरी काम हो तो ही कार्यालय आएं। जब कार्यालय आएं तो ब्रांच में ना जाकर संबंधित अधिकारी के समक्ष ही अपनी बात रखें। वहीं लोग 1100 नंबर पर भी अपनी शिकायत आदि दर्ज करवा सकते हैं। इसके अलावा लोग संबंधित अधिकारी व कर्मचारी से फोन पर भी समय ले सकते हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में सिर घुमाने वाले पेय के साथ-साथ Petrol-Diesel का भी लगा करंट

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है