तपोवन में ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबंधन पर कार्यशाला, यह रही खास बात

विधायकों व अधिकारियों को दी जानकारी, विधानसभा अध्यक्ष डॉ.राजीव बिंदल रहे मौजूद

तपोवन में ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबंधन पर कार्यशाला, यह रही खास बात

- Advertisement -

धर्मशाला। धर्मशाला के तपोवन (Tapovan) विधानसभा परिसर में आज सोमवार को कांगड़ा जिला के 15 विधानसभा क्षेत्रों के विधायकों (MLA) तथा अधिकारियों के लिए ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रंबधन विषय पर प्रशिक्षण एवं कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता विधानसभा अध्यक्ष डॉ.राजीव बिंदल ने की। डॉ. बिंदल (Dr. Bindal) ने कहा कि ई-निर्वाचन प्रबंधन प्रणाली के लागू होने से कार्य में दक्षता व पारदर्शिता आएगी।



यह भी पढ़ें: 9 दिन से लापता व्यक्ति की जंगल में पेड़ से लटकी मिली लाश

 

उन्होंने कहा कि ई-निर्वाचन प्रबंधन कार्यशाला (workshop) का उद्देश्य विधायकों, जनता, सरकार और अधिकारियों में परस्पर संपर्क बना संवाद कायम करना है। उन्होंने कहा कि मोबाइल एप (Mobile App) के माध्यम से विधायक अपने निर्वाचन क्षेत्रों में चल रहे विकास कार्यों की जानकारी ले सकेंगे, अधूरी पड़ी परियोजनाओं के लिए धन की उपलब्धता तथा कार्य में प्रगति लाने के लिए प्रयास करने में सक्षम होंगे। इस कार्यशाला का आयोजन हिमाचल प्रदेश विधानसभा के तत्वावधान में किया गया। उन्होंने कहा कि सभी अधिकारी मोबाइल ऐप के जरिए विधायकों को सूचनाएं प्रदान करने के लिए हर स्तर पर सजग रहेंगे।

उन्होंने कहा कि ई-विधान, ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबंधन, ई-कमेटी तथा ई-डायरी (एमएलए ऐप) पर विधानसभा के आईटी प्रकोष्ठ द्वारा कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबंधन द्वारा अधिकारी भी क्षेत्र में चल रहे विकास कार्यों (Development works) के संबंध में विधायक एवं जनता (MLA And Public) को सीधे रूप से अवगत करवा सकेंगे तथा कार्यों में आ रही बाधाओं को दूर करने के लिए आग्रह भी कर सकते हैं।


यह भी पढ़ें: जूनियर हो गया सीनियर तो सीनियर-जूनियर, यह कैसी नीति-इसे बदलो सरकार

 

उन्होंने सभी अधिकारियों से इस प्रणाली के अधिक से अधिक उपयोग करने के निर्देश दिए, ताकि कार्यदक्षता के साथ-साथ पारदर्शिता तथा आम जनता की शिकायतों (Complaints) का निपटारा भी आसानी से किया जा सके। उन्होंने कहा कि जल्द ही जिला कांगड़ा के सभी 15 निर्वाचन क्षेत्रों, जिला मंडी के 10 तथा शिमला के 8 निर्वाचन क्षेत्रों की ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबंधन की समीक्षा भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि जिला एवं संबंधित उपमंडल स्तर के विभागाध्यक्षों को यूजर आईडी और पासवर्ड भी आवंटित कर दिए गए हैं और इस संबंध में प्रशिक्षण एवं सॉफ्टवेयर को इस्तेमाल करने का प्रशिक्षण भी दिया गया है। कार्यशाला में योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष तथा ज्वालामुखी के विधायक रमेश ध्वाला (MLA Ramesh Dhawala) ने आभार व्यक्त करते हुए कहा कि इस तकनीक के माध्यम से प्रदेश में विकास को जोड़ा गया है जिसके सकारात्मक प्रभाव होंगे। उन्होंने इसका श्रेय विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिंदल को दिया। इस अवसर पर ज़िला कांगड़ा (Kangra) के सभी विधायकों तथा विभिन्न विभागों के जिला अधिकारियों को इस प्रणाली के तहत यूजर आईडी और पासवर्ड भी प्रदान किए गए। उपायुक्त, कांगड़ा राकेश प्रजापति ने सभी का स्वागत किया तथा सभी विभागाध्यक्षों को ई-निर्वाचन क्षेत्र प्रबंधन के संबंध में अध्यक्ष द्वारा दिए गए दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

सलौणी में टैंकर और स्कूटी की टक्कर में एक की मौत, एक घायल

जवालीः करोड़ों के फर्जीवाड़े मामले में तीन कंपनियों सहित पांच लोगों पर एफआईआर

अलर्ट: हिमाचल में निर्मित इन 6 जरूरी दवाओं के सैंपल हुए फेल, खरीदने की गलती मत करना!

वीडियो: मंडी के सरकारी स्कूल में मिड डे मील के दौरान जातीय भेदभाव, मामला दर्ज

मंडीः घर निर्माण में लगाया जा रहा था सरकारी सीमेंट, महिला सहित दो पर एफआईआर

बिक्रम ठाकुर का इन्वेस्टर मीट में गड़बड़ियों से इनकार, बताया कितना हुआ खर्च

जयराम का वार-इन्वेस्टर मीट से अधिक तो कांग्रेस ने मिट्टी हटाने पर ही खर्च डाले

खुशखबरी: HPPSC ने निकाली स्कूल लेक्चरर के 396 पदों पर वैकेंसी, पुराने आवेदकों के लिए सूचना

हिमाचल: भारी बारिश-बर्फबारी की चेतावनी के बीच सात जिलों में येलो अलर्ट जारी

प्रश्नकालः कांगड़ा हवाई अड्डा विस्तारीकरण, पौंग विस्थापित मामले में क्या बोली सरकार

"खाने में हम साझेदार" तस्वीरों-Video में देखें विधानसभा सदन के बाहर के नजारे

इन्वेस्टर्स मीट को लेकर विपक्ष के बखेड़े के बीच संयुक्त अरब अमीरात का एक पत्र आया सामने

जयराम की जोरदार चोट, बोले - नेता प्रतिपक्ष को सीट बेल्ट बांधकर सदन में आना चाहिए

राजनीतिक जीवन में पहली बार देखा महंगाई का ऐसा रौद्र रूप : वीरभद्र सिंह

Breaking : बैटरी लैड बनाने वाले उद्योग में आग, 60 लाख का नुकसान

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है