Covid-19 Update

37,497
मामले (हिमाचल)
28,993
मरीज ठीक हुए
589
मौत
9,291,068
मामले (भारत)
61,032,383
मामले (दुनिया)

देर रात तक जागने के हैं आदी तो हो जाएं सावधान, हो सकते हैं गंभीर बीमार

देर रात तक जागने के हैं आदी तो हो जाएं सावधान, हो सकते हैं गंभीर बीमार

- Advertisement -

नई दिल्‍ली। अगर आप देर रात जाग कर मोबाइल पर टीवी या वेबसीरीज देखने के शौकीन हैं या फि‍र टीवी या कंप्‍यूटर के आगे देर रात तक बैठे रहते हैं, तो आपके स्‍वास्‍थ्‍य के लिए अच्‍छी खबर नहीं है। ऐसा करने से आप डायबिटीज (Diabetes) और दिल (Heart) की बीमारियों के शिकार हो सकते हैं। यह बात एक रिसर्च में सामने आई है। इस रिसर्च में पता चला है कि देर रात तक जागने (Wake up) वालों की दिनचर्या के साथ-साथ खाने-पीने की रूटीन भी खराब हो जाती है और वे डिप्रेशन (Depression) का शिकार भी हो सकते हैं।

 

लिहाजा आपको सलाह दी जाती है कि अगर आप ऐसा कुछ कर रहे हैं जिससे आप देर रात तक जागते हैं तो यह खबर पढ़ते ही संभल जाएं और इस लत या आदत (Habit) को छोड़ कर भरपूर नींद का लुत्‍फ उठाएं। विशेषज्ञों के अनुसार इंसान का शरीर दिनचर्या के हिसाब से चलता है। इसके तहत चौबीस घंटे में हर गति‍विधि का समय फि‍क्‍स होना चाहिए। मसलन हमें कब खाना है, कब सोना है और कब जगना है ये सब हमारे शरीर के अंग तय करते हैं। ऐसे में अगर हम अपने शरीर को जबरन किसी ऐसी गतिविधी में धकेल दें जो हमारे शरीर के अंग नहीं चाहते तो उन पर दबाव बढ़ेगा और आप बीमार हो जाएंगे।

यह भी पढ़ें :-  फ्लाइट के टॉयलेट में सिगरेट पीते पकड़ाया, बताया कैसे अंदर ले गया था माचिस

शोधकर्ताओं के अनुसार देर रात तक जागने वाले लोग ज्यादातर अनहेल्दी डाइट का सेवन करते हैं और इनमें शराब, मीठी चीजें, चाय और कॉफी पीने की आदत होती है। जबकी सही समय पर सोने वाले लोग ऐसा बिल्कुल नहीं करते और उन्‍हें सही समय पर भूख लगती है और वे जल्द ही किसी चीज के आदी भी नहीं बनते। देर रात तक जगने वाले सुबह जल्दी नहीं उठ पाते और सही समय पर नाश्ता भी नहीं कर पाते हैं। ये गलत आदतें उनकी दिनचर्या खराब करती हैं और इसका असर उनके दिमाग और हॉर्मोन पर भी पड़ता है। ऐसे लोगों के दिमाग में व्हाइट मैटर बहुत ही खराब स्थिती में होता है और यह दिमाग के उन हिस्सों में होता है जहां से दुख के भाव पैदा होते हैं और इसलिए ऐसे लोग ज्यादा तनाव में रहते हैं।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है