महिला ने हिमाचल में किया आखिरी सांस तक पति के साथ दफन होने का इंतजार, जानें

38 साल तक किया इंतजार

महिला ने हिमाचल में किया आखिरी सांस तक पति के साथ दफन होने का इंतजार, जानें

- Advertisement -

सिरमौर। हिमाचल प्रदेश (himachal Pradesh) के जिला सिरमौर (Sirmaur) स्थित नाहन में दो कब्रें ऐसी हैं जिनके पीछे एक प्रेम कहानी (Love story) छिपी हुई है। आज हम आपको उसी प्रेम कहानी के बारे में बताने जा रहे हैं। इस कहानी में एक ब्रिटिश महिला ने अपने पति की मौत के बाद उसी के बगल की कब्र में दफन होने के लिए आखिरी सांस तक हिमाचल के नाहन में इंतजार किया। पति की मौत के बाद वह महिला इंगलैंड (England) नहीं गईं, इतना ही नहीं, उसने अपने अन्य परिवार के सदस्यों को भी छोड़ दिया। आज दुनिया भर के लोग इन कब्रों को देखने आते हैं।

यह भी पढ़ें- OMG! कौन था वह शख्स जिसने स्टेज पर किया सपना चौधरी को किस?

ब्रिटिश मेम लूसिया पियरसाल (Lucia Pierceal) ने अपने हमसफर के हिमाचल में हुई मौत के बाद अपने वतन वापिस लौटने के बजाए 38 साल का लंबा इंतजार किया। ताकि वह अपनी मौत के बाद अपने पति की कब्र के साथ ही अपनी कब्र में दफन हो सके। रियासतकाल में लूसिया अपने पति डॉ. इडविन पियरसाल के साथ यहां पहुंची थीं। लूसिया के पति डॉ. इडविन पियरसाल महाराजा के मेडीकल सुपरिटेंडेंट थे।

डॉ. पियरसाल ने महाराजा के यहां करीब 11 साल अपनी सेवाएं दीं और 19 नवंबर 1883 में डॉ. पियरसाल का 50 साल की आयु में देहांत हो गया। पियरसाल को मिलिटरी ऑनर (Military honor) के साथ ऐतिहासिक विला राऊंड के उत्तरी हिस्से में दफन किया। उस वक्त लूसिया 49 साल की थीं। 19 अक्टूबर 1921 को लूसिया की मौत हुई। लुसिया कॉम उसके पति की कब्र के साथ ही दफनाया गया।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है