Covid-19 Update

36,566
मामले (हिमाचल)
28,080
मरीज ठीक हुए
575
मौत
9,266,697
मामले (भारत)
60,719,949
मामले (दुनिया)

सैकड़ों लोगों को डूबने से बचा चुका अनंत राम बेड से उठने में भी लाचार, परिजनों ने उठाई ये मांग

सुंदरनगर की चौक पंचायत के अनंत राम की सड़क हादसे में रीड की हड्डी पर आई चोटें

सैकड़ों लोगों को डूबने से बचा चुका अनंत राम बेड से उठने में भी लाचार, परिजनों ने उठाई ये मांग

- Advertisement -

सुंदरनगर। उपमंडल सुंदरनगर की ग्राम पंचायत चौक का अनंत राम बीबीएमबी (BBMB) जलाशय से आज तक सैकड़ों लोगों और बेजुबानों को डूबने से बचा चुका है। लेकिन, आज ये जिंदादिल युवक सड़क दुर्घटना (Road Accident) में रीड़ की हड्डी में चोट लगने के कारण बिस्तर पर पड़ा है और उठने के लिए भी सहारे का मोहताज हो गया है। मामला में मंडी जिला के उपमंडल सुंदरनगर के तहत आने वाली ग्राम पंचायत चौक में एक परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट गया है। परिवार की रोजीरोटी चलाने वाला एकमात्र सहारा अनंत राम बीते 3 नवंबर को नैनो कार (Car) की चपेट में आने के कारण गंभीर रूप से घायल हो गया था। इस हादसे को 2 हफ्ते से अधिक समय बीत चुका है और दुर्घटना के दौरान इस युवक की रीड की हड्डी में काफी गंभीर चोटें आई हैं। आईजीएमसी शिमला (IGMC Shimla) में उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे घर भेज दिया है, लेकिन युवक की हालत इतनी खराब है कि उसे बेड पर पलटने के लिए भी अन्य लोगों का सहारा लेना पड़ रहा है। ट्रैक्सी चलाकर अपने परिवार का पेट पालने वाले इस युवक की दुर्घटना में मानो जिंदगी ही उजड़ गई है। परिजनों का आरोप है कि पीड़ित अनंत राम की आजतक ना तो टक्कर मारने वाले और ना ही प्रशासन के किसी भी नुमाइंदों ने सुध ली है। वहीं पीड़ित की पत्नी ने आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है।

पीड़ित अनंतराम के पिता रूप लाल का कहना है कि उनके परिवार में कमाने वाला इकलौता पुत्र था जो सड़क हादसे की चपेट में आने से लाचार हो गया है। उन्होंने कहा कि कंट्रोल गेट के पास 3 नवंबर को हुए सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल अनंत राम अब चलने फिरने में भी असमर्थ है। वहीं अनंत राम की पत्नी पूनम कुमारी ने ने बताया कि उनके पति को उठाने के लिए भी अन्य लोगों का सहारा लेना पड़ता है। पूनम कुमारी ने मामले में आरोपियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की है। ग्राम पंचायत चौक प्रधान कमलेश ठाकुर ने कहा कि अनंतराम और उसके परिवार की स्थिति को मध्य नजर रखते हुए हालात सामान्य होने तक परिवार का भरण पोषण और इलाज का पूरा खर्चा हादसे को अंजाम देने वाला उठाए। इसके अलावा पंचायत ने प्रस्ताव पारित करके जिला प्रशासन और सरकार को भेजकर परिवार की सहायता करने की मांग उठाई है।

 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है