- Advertisement -

जानें : विदेशों में इस तरीके से चेक करते हैं, गर्भ में लड़का है या लड़की?

लड़की-लड़के में नहीं है कोई अंतर 

0

- Advertisement -

नई दिल्ली। हमारे देश में भ्रूणहत्या के मामले बढ़ने के बाद जन्म से पहले बच्चे का लिंग जांच कराने पर रोक लगा दी गई है। जिसके कारण लोग घरेलू नुस्खों की मदद से हमेशा से इस बात को जानने का प्रयास करते हैं कि महिला की गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का है या लड़की। इसी सिलसिले में आज हम आपको विदेशों में इस बात का पता लगाने के तरीकों के बारे में बातने जा रहे हैं, जिसकी मदद से इस बात का पता लगाया जाता है कि महिला के गर्भ में पल रहा बच्चा लड़का है या लड़की। 

गौरतलब है कि जब औरतों को गर्भधारण होता है, तो उसके मन में अनेक तरह के सैकड़ों सवाल भी आने लगते हैं। आज के इस समय में लड़का हो या लड़की दोनों ही बराबर समझा जाता है। विदेशों में इस बात का पता लगाने के लिए गर्भवती औरतो को सवेरे में सबसे पहले होने वाले पेशाब को एक बर्तन में एक तिहाई हिस्सा जितना लेना है, तत्पश्चात उसमें खाने वाला सोडा हल्के-हल्के डालना है। ऐसा करने के पश्चात यदि बुलबुले निकलने लगते हैं तो ये समझिए 90 % केस में लड़का ही जन्म लेगा और यदि किसी भी तरह की कोई प्रक्रिया नजर नहीं आती है तो लड़की होगी। दरअसल, ये उपाए बाहरी देशों में काफी आजमाया जाता है किन्तु इसे विज्ञान ने साबित नहीं किया है।

- Advertisement -

Leave A Reply