×

ले. जनरल वाईवीके मोहन की सलाह, अपने CSD Card का दुरूपयोग न करें पूर्व सैनिक

ले. जनरल वाईवीके मोहन की सलाह, अपने CSD Card का दुरूपयोग न करें पूर्व सैनिक

- Advertisement -

मंडी। हिमाचल प्रदेश के पूर्व सैनिक उन्हें सीएसडी कैंटीन से मिलने वाली सुविधाओं का दुरूपयोग कर रहे हैं और इसकी कुछ शिकायतें सेना के उच्च अधिकारियों तक पहुंची हैं। यह बात थल सेना के लेफ्टिनेंट जनरल वाईवीके मोहन ने मंडी में कही। यहां पर आयोजित की जा रही दो दिवसीय 155वीं रक्षा पेंशन के शुभारंभ समारोह को संबोधित करते हुए  उन्होंने कहा कि सीएसडी कैंटीन में कुछ ठीक नहीं चल रहा है और इसके कार्ड का दुरूपयोग किया जा रहा है।


  • कुछ ठीक नहीं चल रहा है एक्स सर्विसमेन कैंटीन में, हमारे पास आ रही हैं शिकायतें
  • दो दिनों तक होगा पेंशन से संबंधित मामलों का एक स्थान पर निपटारा

उन्होंने पूर्व सैनिकों से निवेदन किया कि वे सीएसडी कैंटीन से मिलने वाले कोटे का अपने व अपने परिवार के लिए इस्तेमाल करें और इसके दुरूपयोग से बचें। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश देवभूमि के साथ-साथ वीरभूमि भी है और यहां हर घर से कोई न कोई सेना में अपनी सेवाएं दे रहा है।

हिमाचल प्रदेश का मंडी जिला देश के उन जिलों में शामिल है जहां सबसे ज्यादा पूर्व सैनिक रहते हैं। उन्होंने पूर्व सैनिकों और उनके परिजनों से दो दिवसीय पेशन अदालत का पूरा लाभ उठाने का आग्रह भी किया। पीसीडीए इलाहबाद से आए प्रवीण कुमार ने बताया कि अधिकतर सैनिक सेवा में रहते त्रुटियों को दुरूस्त नहीं करते और इस कारण सेवानिवृति के बाद उन्हें या फिर उनके परिजनों को पेंशन के लिए परेशानियां झेलनी पड़ती हैं। उन्होंने सभी से आहवान किया कि वे सेवा में रहते सभी खामियों को दूर करें और यदि कोई कमी रह जाती है तो पेंशन अदालत में आकर उसका निपटारा करवाए। उन्होंने बताया कि भारत सरकार काम्प्रीहैंसिव पेंशन स्कीम लेकर आ रही है और उसके माध्यम से ऐसे मामलों का रिविजन जल्दी होगा और उससे काफी मदद मिलेगी।

हिमाचल प्रदेश सैनिक वेलफेयर डिपार्टमेंट के निदेशक रि. ब्रिगेडियर एसके वर्मा ने उपस्थित पूर्व सैनिकों से भारत और राज्य सरकार द्वारा चलाई जा रही योजनाओं का लाभ उठाने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि नाममात्र के पूर्व सैनिक भी सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं उठा रहे क्योंकि वो सोचते हैं कि जब सभी को लाभ मिलेगा तो उन्हें भी मिल जाएगा, जबकि इन योजनाओं का लाभ उठाने के लिए आवेदन करना पड़ता है। उन्होंने बताया कि बच्चों की पढ़ाई के लिए और दो बेटियों की शादी के लिए सरकार आर्थिक मदद मुहैया करवा रही है।- इस मौके पर एडिशन सीजीडीए उपेंद्र शाह, ब्रिगेडियर जेएस बुधवार, कर्नल पीआर अम्बासवा सहित और रिटायर ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर सहित अन्य गणमान्य भी मौजूद रहे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है