पूरी हुई प्रदेश की सबसे बड़ी ग्रेविटी बेस वॉटर स्कीम, बस उद्घाटन का इंतजार

82 करोड़ की लागत से मंडी पहुंचाया गया उहल नदी का पानी

पूरी हुई प्रदेश की सबसे बड़ी ग्रेविटी बेस वॉटर स्कीम, बस उद्घाटन का इंतजार

- Advertisement -

वी कुमार/ मंडी। साढ़े चार वर्षों के लंबे इंतजार के बाद मंडी ( Mandi) को 24 घंटे पानी की सौगात मिल गई है। 82 करोड़ से भी अधिक की लागत से बनी प्रदेश की सबसे बड़ी ग्रेविटी बेस वॉटर स्कीम ( Gravity Base Water Scheme) के कार्य को लगभग पूरा कर लिया गया है। इस योजना का 95 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है जबकि 5 प्रतिशत काम आगामी एक सप्ताह में पूरा होने जा रहा है। उहल नदी( Uhal River)से मंडी शहर तक लाए गए पानी की सप्लाई( Supply of water) शहर के सभी 13 वार्डों के अलावा साथ लगते 11 गांवों के लिए भी शुरू कर दी गई है। बीते दो महीनों से उक्त इलाकों में इसी योजना के तहत पानी की सप्लाई दी जा रही है। योजना के विधिवत उदघाटन के लिए अब सीएम जयराम ठाकुर का इंतजार किया जा रहा है। आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर( IPH Minister Mahendra Singh Thakur ने बताया कि 24 घंटे पानी की योजना का निर्माण लगभग पूरा हो चुका है और सीएम जयराम ठाकुर ( CM Jairam Thakur) से समय मिलते ही इसका विधिवत रूप से उद्घाटन कर दिया जाएगा।


यह भी पढ़ें :-हरकत में आया प्रशासनः नाहन में लगी धारा 144, अब 4 जुलाई से हटेंगे अवैध कब्जे

हर वर्ष होगी दो करोड़ की बचत

24 घंटे पानी की इस योजना से आईपीएच विभाग के हर वर्ष दो करोड़ रूपए बचा करेंगे। यह प्रदेश की सबसे बड़ी ग्रेविटी बेस वॉटर स्कीम है। उहल नदी से मंडी शहर तक और फिर उससे आगे पानी की सप्लाई ग्रेविटी बेस ही की गई है। विभाग को हर वर्ष ब्यास नदी से पानी अपलिफ्ट करने और फिर उसे लोगों तक पहुंचाने के लिए दो करोड़ का बिजली बिल अदा करना पड़ता था। इस योजना के तहत कुल 15 टैंकों का निर्माण किया गया है। जो मौजूदा स्कीम है उसे भी यथावत रखा गया है और उसका इस्तेमाल जरूरत के समय किया जाएगा। आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर का दावा है कि मंडी शहर और साथ लगते गांवों के किसी भी व्यक्ति को पानी की दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा।


तीन के बजाय लग गए साढ़े चार वर्ष

82 करोड़ से बनी 24 घंटे पानी की योजना के लिए शहर वासियों को साढ़े चार वर्षों का लंबा इंतजार करना पड़ा। फरवरी 2015 में तत्कालीन सीएम वीरभद्र सिंह ने इसकी आधारशिला रखी थी और तीन वर्षों में योजना के बनने का लक्ष्य निर्धारित किया था। लेकिन एफसीए की अप्रूवल ( FCA Approval) देरी से आने के कारण इसके निर्माण में विलंब हुआ। 2017 में एफसीए की मंजूरी मिली जिसके बाद 24 किमी लंबी पाईप लाईन बिछाने का कार्य शुरू हो सका। आईपीएच मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर इस योजना की देरी के लिए पूर्व की कांग्रेस सरकार को दोषी मानते हैं। अब यह योजना बनकर तैयार हो चुकी है और मंडी शहर के कुछ स्थानों में दिन में दो बार जबकि मुख्य बाजार में दिन में तीन बार पानी की सप्लाई दी जा रही है। भविष्य में पानी की सप्लाई को बढ़ाया जाएगा और 40 वर्षों तक शहर को पानी की दिक्कत नहीं झेलनी पड़ेगी। खास बात यह भी होगी कि बरसात के मौसम में मौसम में गाद के कारण पानी की सप्लाई बाधित नहीं होगी। क्योंकि ब्यास नदी से जो पानी शहर को दिया जाता है उसमें यह दिक्कत आती थी, इस समस्या को दूर करने के लिए ही 24 किमी दूर उहल नदी का पानी मंडी शहर पहुंचाया गया है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें …. 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मौसम: यह तीन दिन फिर सताएगा मौसम, होगी बारिश और बर्फबारी

मुकेश बोले-10 दिन का होना चाहिए था सत्र-सरकार ने लगाया कट

सड़क पर जा रही थीं दादी-पोती, संतुलन बिगड़ने पर खाई में गिरने से दादी की मौत

दिल्ली अग्निकांड : पुलिस ने अनाज मंडी बिल्डिंग के मालिक रेहान को किया गिरफ्तार, पूछताछ जारी

धर्मशाला पहुंचे जयराम ठाकुर, सत्ता पक्ष और विपक्ष ने बनाई रणनीति

ब्रह्मास्त्र की शूटिंग खत्म कर मुंबई लौटे रणबीर-मौनी रॉय, अब आएंगे आमिर खान

जियो ने समझी ग्राहकों की परेशानी : शुरू किए ये दो सस्ते प्लान

विजय इंद्र कर्ण को बगल में बिठाकर सुधीर की तरफ क्या इशारा कर गए बाली-जानिए

बल्ह में आई ज्यादा दिक्कत तो इस जगह बन सकता है इंटरनेशनल एयरपोर्ट

उन्नाव मामला : अंतिम संस्कार के लिए माना परिवार, नौकरी, 25 लाख और पक्के मकान का ऐलान

बिलासपुर में इसी माह आयोजित होगा बड़े स्तर का कृषि मेलाः मार्कंडेय

 कुटलैहड़ के मनोहर लाल को मिली ऊना जिला की सरदारी

बीएसएल कॉलोनी पुलिस ने चरस के साथ पकड़े हमीरपुर व शिमला के युवक

जयराम ने कसा तंज- कांग्रेस में सिर्फ एक ही व्यक्ति बचा है, ऐसी एकजुटता कहीं नहीं देखी

सैंज घाटी में मकान में लगी आग, सारा सामान जल कर हुआ राख

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है